‘14 सितंबर’ का ऐतिहासिक महत्व : Historical significance of '14th September'
‘14 सितंबर’ का ऐतिहासिक महत्व

Historical significance of '14th September'

‘14 सितंबर’ का ऐतिहासिक महत्व

‘14 सितंबर’ का ऐतिहासिक महत्व

प्रत्येक दिन विश्व में कुछ न कुछ ऐसा होता है जो की एक महत्वपूर्ण इतिहास (Important History) बन जाता है जैसे, खेल जगत में रिकॉर्ड बनना, किसी प्रसिद्द व्यक्ति का जन्म व् मृत्यु, आज के दिन के महत्वपूर्ण दिवस, विज्ञान में अविष्कार, आदि । भारत (India) और विश्व (World) में आज के दिन बहुत सी ऐसी प्रमुख ऐतिहासिक घटनायें (Historical Events) हुई जिनका जिक्र आज भी इतिहास (History) के पन्नो में किया गया है । 

1770 : डेनमार्क में प्रेस की स्वतंत्रता को मान्यता मिली।

1833 : विलियम बेंटिक, पहले गवर्नर जनरल के तौर पर भारत आया।

1901 : अमेरिकी राष्ट्रपति विलियम मैकेंजी की गोली मारकर हत्या।

1917 : रूस को आधिकारिक तौर पर गणतंत्र घोषित किया गया।

1923 : प्रसिद्ध कानूनविद् एवं भूतपूर्व केन्द्रीय कानून मंत्री राम जेठमलानी का शिकारपुर (अब पाकिस्तान) में जन्म हुआ।

1949 : संविधान सभा ने हिंदी को भारत की आधिकारिक भाषा का दर्जा दिया।

1959 : सोवियत संघ का अंतरिक्ष यान पहली बार चंद्रमा की सतह पर उतरा।

1960 : खनिज तेल उत्पादक देशों ने मिलकर ओपेक की स्थापना की।

1998 : माइक्रोसॉफ्ट, जनरल इलेक्ट्रिक को पीछे छोड़कर दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी बनी।

2000 : माइक्रोसॉफ्ट ने विंडोज एम.ई. लांच किया।

2000 : तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने अमेरिकी सीनेट के दोनों सदनों की संयुक्त बैठक को सम्बोधित किया।

2001 : अल कायदा के सरगना ओसामा बिन लादेन को पकड़ने के अभियान के लिए अमेरिका ने 40 अरब डॉलर मंजूर किए।

2007 : जापान ने तानेगाशिया स्‍थित प्रक्षेपण केन्‍द्र से पहला चन्‍द्र उपग्रह एच-2ए प्रक्षेपित किया।

2008 : रुस के पेर्म हवाई अड्डे पर एयरोफ़्लोट विमान दुर्घटनाग्रस्त, विमान में सवार सभी 88 लोगों की मौत।

2011 : तमिलनाडु में एक ट्रेन के ट्रैक पर खड़ी ट्रेन से टकरा जाने से 10 लोगों की मौत हुई और 70 अन्य घायल हुए।