ज्ञानवापी मस्जिद पर अनिल विज का बड़ा बयान: हरियाणा के गृह मंत्री बोले- यह तो नाम ही हिंदू वाला है... और क्या कहा देखिये
Haryana Home Minister Anil Vij on Gyanvapi Masjid

Haryana Home Minister Anil Vij on Gyanvapi Masjid

ज्ञानवापी मस्जिद पर अनिल विज का बड़ा बयान: हरियाणा के गृह मंत्री बोले- यह तो नाम ही हिंदू वाला है... और क्या कहा देखिये

Haryana Home Minister Anil Vij on Gyanvapi Masjid: उत्तर प्रदेश के वाराणसी में स्थित ज्ञानवापी मस्जिद का मामला इन दिनों बेहद चर्चा में है| दरअसल, ज्ञानवापी मस्जिद तब चर्चा में आई जब इसके मंदिर होने का दावा करके कोर्ट में याचिका डाली गई| इसके बाद कोर्ट ने भी एक टीम गठित की और उस टीम को ज्ञानवापी मस्जिद में सर्वे करने का आदेश दिया| ज्ञानवापी मस्जिद में तीन दिन चले सर्वे से नतीजा यह निकला कि मस्जिद में शिवलिंग मिलने का दावा किया जा रहा है| हालांकि, मुस्लिम पक्ष उस शिवलिंग को फव्वारा बता रहा है| फिलहाल, मुस्लिम पक्ष ज्ञानवापी मस्जिद को लेकर अब सुप्रीम कोर्ट जा पहुंचा है|

यह पढ़ें - ज्ञानवापी मस्जिद कयामत तक मस्जिद ही रहेगी: ओवैसी ने नारा-ए-तकबीर कहते हुए मुसलमानों से लिया यह वादा, देखिये खबर

उधर, जहां एक तरफ ज्ञानवापी मस्जिद को लेकर कोर्ट में कानूनी कार्रवाई चल रही है तो वहीं इधर दूसरी तरफ हिंदू पक्ष 'शिवलिंग' मिलने की बात कहते नहीं थक रहा है| इसके साथ ही राजनीति में भी इस मामले पर जबरदस्त बयानबाजी हो रही है| बीजेपी की तरफ से ज्ञानवापी मस्जिद को मंदिर माना जा रहा है| बीजेपी की तरफ से हिंदू पक्ष की तरफ बयानबाजी की जा रही है|

हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज का बड़ा बयान...

वहीं, अब हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज का भी ज्ञानवापी मस्जिद पर बड़ा बयान सामने आया है| विज का कहना है कि अभी कुछ कहना ठीक नहीं है क्योंकि मामला कोर्ट में विचाराधीन है। सर्वे भी कराया जा रहा है। लेकिन ज्ञानवापी नाम से लगता है कि यह कोई हिंदू संस्था है क्योंकि ये हिंदू शब्द है। विज ने कहा कि देश को भरोसा है कि ठीक फैसला आएगा| यानि अनिल विज ज्ञानवापी मस्जिद को मंदिर ही कह रहे हैं|

UP डिप्टी CM का बयान- सत्य छिपाये नहीं छिपता ....

इधर, ज्ञानवापी मस्जिद में शिवलिंग मिलने की बात पर UP डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने ट्वीट पे ट्वीट कर दिए| डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने अपने एक ट्वीट में कहा कि-  "सत्य" को आप कितना भी छुपा लीजिये लेकिन एक दिन सामने आ ही जाता है क्योंकि "सत्य ही शिव" है। बाबा की जय,  हर हर महादेव।।

वहीं, एक अन्य ट्वीट में मौर्य ने कहा कि बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर ज्ञानवापी में बाबा महादेव के प्रकटीकरण ने देश की सनातन हिंदू परंपरा को एक पौराणिक संदेश दिया है। इसके साथ ही न्यूज एजेंसी ANI से बात करते हुए केशव प्रसाद मौर्य बोले - ज्ञानवापी परिसर की सर्वे में शिवलिंग प्राप्त होने के समाचार से शिव भक्त के नाते मैं बहुत खुश हूं। सदियों से जो नंदी बाबा की प्रतीक्षा थी कि कब भोलेनाथ मिलें और कब मैं उनके दर्शन करूं, वो माननीय कोर्ट के माध्यम से कराये गए सर्वे में शिवलिंग मिलने से पूरी हो गई है|

विश्व हिन्दू परिषद का बयान ...

वहीं, विश्व हिन्दू परिषद का भी इस मामले में बयान सामने आया| विश्व हिन्दू परिषद की ओर से कहा गया- वाराणसी के ज्ञानवापी में सर्वे के दौरान एक कमरे में शिवलिंग प्राप्त हुआ है, बहुत आनंद का समाचार है। दोनों पक्षों की और उनके वकीलों की उपस्थिति में उसे प्राप्त किया गया है। इसलिए वो स्थान जहां शिवलिंग है, वो मंदिर है, अब भी है और 1947 में भी था|

विश्व हिन्दू परिषद ने कहा कि अभी मामला न्यायालय में है, न्यायालय ने उस हिस्से को संरक्षित किया है, पुलिस अधिकारियों की ज़िम्मेदारी लगाई है कि कोई छेड़छाड़ न हो। न्यायालय का निर्णय आने के बाद हम इसके बारे में आगे विचार करेंगे। तब विश्व हिन्दू परिषद तय कर पाएगी कि आगामी कदम कौन से होंगे|