हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने मधुबन करनाल में आयोजित कार्यक्रम में हरियाणा को नशामुक्त बनाने के लिये राज्य कार्य योजना ’’मिशन ड्रग फ्री हरियाणा’’ का किया विधिवत शुभारंभ
हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने मधुबन करनाल में आयोजित कार्यक्रम में हरियाणा को नशामुक्त बनाने के लिये राज्य कार्य योजना ’’मिशन ड्रग फ्री हरियाणा’’ का  किया विधिवत शुभारंभ

हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने मधुबन करनाल में आयोजित कार्यक्रम में हरियाणा को नशामुक्त बन

हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने मधुबन करनाल में आयोजित कार्यक्रम में हरियाणा को नशामुक्त बनाने के लिये राज्य कार्य योजना ’’मिशन ड्रग फ्री हरियाणा’’ का किया विधिवत शुभारंभ

-आज हरियाणा के लिये ऐतिहासिक दिन-मुख्यमंत्री मनोहर लाल

-नशे में संलिप्त लोगों से ज्यादा नशे की सप्लाई करने वाले अपराधी

-नशे के खिलाफ लंबी लड़ाई है और सरकार के साथ-साथ समाज को भी आना होगा आगे 

-पंचकूला में जिला स्तरीय कार्यक्रम में नशे के खिलाफ सभी अधिकारियों व कर्मचारियों ने ली शपथ

पंचकूला, 26 जून-  हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने आज अंतर्राष्ट्रीय नशा निषेध दिवस के अवसर पर मधुबन करनाल में आयोजित कार्यक्रम में हरियाणा को नशामुक्त बनाने के लिये राज्य कार्य योजना ’’मिशन ड्रग फ्री हरियाणा’’ का विधिवत शुभारंभ किया। 
    कार्यक्रम का सीधा प्रसारण सभी जिलों में आॅन लाईन माध्यम से किया गया, जिसमें पुलिस सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी, कर्मचारी, स्कूल, काॅलेज और अन्य शिक्षण संस्थानों के विद्यार्थी इस ऐतिहासिक पल के साक्षी बने। 
    कार्यक्रम को संबोधित करते हुये मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि आज हरियाणा के लिये ऐतिहासिक दिन है जब अंतर्राष्ट्रीय नशा निषेध दिवस के अवसर पर ’’मिशन ड्रग फ्री हरियाणा’’  लांच किया गया है। इस अवसर पर हरियाणा राज्य नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो को शुभकामनायें देते हुये श्री मनोहर लाल ने कहा कि नशे में संलिप्त लोगों से ज्यादा नशे की सप्लाई करने वाले अपराधी है और उन्हें जितनी कड़ी से कड़ी सजा दी जायें, उतनी कम है। 
उन्होंने कहा कि नशा एक अभिशाप है और यह एक परिवार ही नहीं बल्कि पूरी पीढ़ीयों को खत्म कर देता है। श्री मनोहर लाल ने कहा कि नशे के खिलाफ लड़ाई एक लंबी लड़ाई है और इस लड़ाई को जीतने के लिये सरकार के साथ साथ समाज को भी आगे आना होगा। उन्होंने कहा कि कोई भी गैर सरकारी संगठन इस दिशा में आगे आता है तो सरकार द्वारा उसकी हर संभव सहायता की जायेगी। उन्होंने कहा कि नशे की रोकथाम के लिये सख्ती अपनाने के साथ साथ जागरूकता फैलाने की भी आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि ऐसा व्यक्ति जो अनजाने में नशे की गिरफ्त में फस गया है, उसका पुनर्वास करना भी हमारा दायित्व है ताकि नशे से दूर होकर वह एक खुशहाल जिंदगी जी सके। 
    श्री मनोहर लाल ने कहा कि हम सौभाग्यशाली है कि हरियाणा में खेलो के नाते एक बेहतर वातावरण हैं और यहां के खिलाड़ी विश्व में हरियाणा का नाम रोशन कर रहे है। उन्होंने कहा कि युवाओं की ऊर्जा को खेलों में लगाकर हम उन्हें नशे से दूर रख सकते है। राज्य सरकार द्वारा खेलो में राष्ट्र व अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर बेहतर प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों को नकद पुरस्कार के साथ साथ सरकारी नौकरी भी दी जा रही है। उन्होंने कहा कि आज हरियाणा में योग्यता के आधार पर नौकरी दी जाती है। पूर्व में जो बच्चे शिक्षा से विमुख हो गये थे वह पुनः विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारियों में जुटे है। उन्होंने कहा कि हरियाणा धीरे धीरे धाकड़ हरियाणा बन रहा है।

पंचकूला में जिला स्तरीय कार्यक्रम में नशे के खिलाफ सभी अधिकारियों व कर्मचारियों ने ली शपथ- 

इस अवसर पर पंचकूला के लघु सचिवालय के सभागार में जिला स्तरीय कार्यक्रम आयोजित किया गया, जिसमें पुलिस व अन्य विभागों के अधिकारियों व कर्मचारियों ने वीडियो कांफ्रेंसिग के माध्यम से मुख्यमंत्री के संबोधन को देखा और सुना। कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने सभी को नशे के विरूद्ध शपथ भी दिलाई। उन्होंने शपथ दिलाई कि *’’मैं प्रण करता हूं कि अपने जीवन में किसी भी प्रकार का नशा नहीं करूंगा और अन्य लोगों को भी नशा ना करने के लिये प्रेरित करूंगा। यदि कोई व्यक्ति नशे का कारोबार करता है अथवा कोई व्यक्ति नशा छोड़ना चाहता है तो इसकी सूचना हरियाणा राज्य नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के हैल्प लाईन नंबर 9050891508 पर दूंगा।’’ *
    इस अवसर अतिरिक्त उपायुक्त मनीता मलिक, एसडीएम ऋचा राठी, नगराधीश गौरव चैहान, पुलिस उपायुक्त सुरेंद्र पाल सिंह, एसीपी मुकेश कुमार, एसीपी विजय नेहरा, एसीपी किशोरी लाल, एसीपी राजकुमार रंगा सहित पुलिस व अन्य विभागों के अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे।