पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर ने रवि शास्त्री को बताया विराट कोहली के खराब फार्म का जिम्मेदार
पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर ने रवि शास्त्री को बताया विराट कोहली के खराब फार्म का जिम्मेदार

पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर ने रवि शास्त्री को बताया विराट कोहली के खराब फार्म का जिम्मेदार

पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर ने रवि शास्त्री को बताया विराट कोहली के खराब फार्म का जिम्मेदार

पूर्व भारतीय कप्तान विराट कोहली पिछले कुछ महीनों से रन बनाने के लिए जूझते नजर आ रहे हैं. उनकी यह खराब फॉर्म इंडियन प्रीमियर लीग (2022) सीजन में भी देखने को मिली. कोहली ने इंटरनेशनल क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में दो साल से कोई शतक नहीं लगाया है.

कोहली की खराब फॉर्म पर कई क्रिकेट दिग्गजों ने अपनी राय दी है. इसी कड़ी में पाकिस्तान के पूर्व कप्तान राशिद लतीफ का नाम भी जुड़ गया है. मगर लतीफ ने कोहली की खराब फॉर्म को लेकर अजीबो गरीब बयान दिया है.

लतीफ का मानना है कि पूर्व कोच रवि शास्त्री की वजह से कोहली इस खराब फॉर्म से जूझ रहे हैं. लतीफ ने एक यूट्यूब चैनल पर यह बात कही. दरअसल, खराब फॉर्म को लेकर रवि शास्त्री ने कोहली को ब्रेक लेने की सलाह दी थी. इसी को लेकर पूर्व पाकिस्तानी विकेटकीपर बैटर से सवाल किया गया था.

'रवि शास्त्री का कोचिंग से कुछ लेना-देना नहीं था'

इसके जवाब में लतीफ ने कहा, 'यह सब उन्हीं (रवि शास्त्री) की वजह से हुआ है.' इस पर लतीफ ने आगे कहा, '2019 में आपने अनिल कुंबले जैसे प्लेयर को साइडलाइन करते हुए रवि शास्त्री को कोच बनाया. मुझे नहीं पता कि उनके पास मान्यता थी या नहीं. वह (रवि शास्त्री) एक ब्रॉडकास्टर (कमेंटेटर) था. उसका कोचिंग से कुछ लेना-देना नहीं था.'

लतीफ ने कहा, 'मुझे नहीं लगता कि विराट कोहली के अलावा रवि शास्त्री को अंदर लाने में किसी और की भूमिका रही होगी. मगर अब यही दांव उलटा पड़ रहा है, यह सही है ना? यदि वह (रवि शास्त्री) कोच नहीं बनता, तो वह (कोहली) भी आउट (खराब फॉर्म में नहीं जाता) नहीं होता.'

2017 में शास्त्री को बनाया फुल टाइम कोच

बता दें कि रवि शास्त्री पहली बार टीम इंडिया के साथ बतौर डायरेक्टर 2014 में जुड़े थे. इस दौरान उनका कार्यकाल टी20 वर्ल्ड कप 2016 तक था. इसके बाद अनिल कुंबले को एक साल के लिए कोच बनाया गया. फिर 2017 में भारतीय टीम की चैम्पियंस ट्रॉफी के फाइनल में हार के बाद रवि शास्त्री को फुल टाइम कोच नियुक्त किया गया. रवि शास्त्री के कार्यकाल में भारत ने ऑस्ट्रेलिया में दो टेस्ट सीरीज जीती.

शास्त्री के कोच रहते टीम इंडिया ने वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल तक का सफर तय किया. हालांकि, शास्त्री की कोचिंग में भारत अब तक आईसीसी टूर्नामेंट नहीं जीत सका है, जिसे लेकर बीसीसीआई में नाराजगी है. अब रिपोर्ट के मुताबिक रवि शास्त्री अपने अनुबंध को बढ़ाने के लिए तैयार नहीं हैं. बतौर कोच शास्त्री का कप्तान विराट कोहली के साथ तालमेल काफी शानदार रहा है.