दलाल ने दी नगर निगम के प्रॉपर्टी टैक्स व डेवेलपमेंट टैक्स की नकली रसीदें
दलाल ने दी नगर निगम के प्रॉपर्टी टैक्स व डेवेलपमेंट टैक्स की नकली रसीदें

दलाल ने दी नगर निगम के प्रॉपर्टी टैक्स व डेवेलपमेंट टैक्स की नकली रसीदें

दलाल ने दी नगर निगम के प्रॉपर्टी टैक्स व डेवेलपमेंट टैक्स की नकली रसीदें

-नगर निगम के नाम की नकली रसीद दिये जाने की सरकार करवाये उच्च स्तरीय जांच: राकेश चुघ

पानीपत,30 अप्रैल। आप नेता एवं उद्योगपति राकेश चुघ ने कहा कि नगर निगम में भ्रष्टाचार का तो पहले से ही बोलबाला था लेकिन अब नगर निगम का एक ऐसा हैरान करने वाला मामला सामने आया है कि एक दलाल ने नगर निगम के प्रॉपर्टी टैक्स व डेवेलपमेंट टैक्स की करीब 5 लाख रूपए की नकली रसीदें ही एक वकील को दे दी गई। इससे लगता है कि नगर निगम में ऐसे दलाल सक्रिय है जोकि लोगों को नकली रसीदें भी दे रहे है। इस मामले की सरकार द्वारा उच्च स्तरीय जांच करवानी चाहिये ताकि प्रॉपर्टी टैक्स के रूप में नगर निगम की नकली रसीदें देने वाले लोगों का पर्दाफास हो सके। राकेश चुघ शनिवार को एसडी कालेज रोड स्थित एक शोरूम में पत्रकारों से बात कर रहे थे। राकेश चुघ ने बताया कि एक वकील ने अपने सेक्टर 24 स्थित प्लाट का प्रॉपर्टी टैक्स ठीक करवाने के लिये एक दलाल का सहारा लिया और दलाल ने कहा कि इसकी पूरी फाइल बनेगी। दलाल ने वकील से प्रॉपर्टी टैक्स के रूप में 1 लाख 53 हजार रूपए ले लिये और उसकी नकली रसीद दे दी गई। वहीं दलाल ने वकील से प्रॉपर्टी का डेवेलपमेंट टैक्स 302 रूपए प्रति वर्ग गर्ज भरने के नाम पर करीब 3 लाख 65 हजार रूपए ले लिये और उसकी भी नकली रसीद दे दी। वकील ने जब नगर निगम कार्यालय में जाकर रसीदों को ऑनलाईन चैक किया तो दोनो रसीदें फर्जी मिली। राकेश चुघ ने आरोप लगाया कि नगर निगम के अधिकारियों की शह के बिना कोई भी दलाल इस तरह से नकली रसीदें नहीं दे सकता। इसलिये सरकार द्वारा इस मामले की उच्च स्तरीय जांच करवानी चाहिये ताकि सच्चाई जनता के सामने आ सके। उन्होंने सभी शहर वासियों से अपील करते हुए कहा कि यदि किसी भी व्यक्ति ने दलालों के माध्यम से अपना प्रॉपर्टी टैक्स भरा है तो उनको अपना प्रॉपर्टी  टैक्स ऑनलाईन जरूर चैक करना चाहिये। वहीं राकेश चुघ ने कहा कि उनको नगर निगम के नाम से एक ठेकेदार का 83 हजार रूपए का ऐसा बिल मिला है, जिसपर कोई तारीख ही नहीं लिखी है और उस बिल पर सीरियल नंबर भी एक लिखा हुआ है। राकेश चुघ का आरोप है कि हो सकता है कि यह बिल भी नकली हो और इसकी भी जांच करवाई जानी चाहिये। इस मौके पर आप के जिला उपाध्यक्ष दीपक बगा, मध्य जोन के युवा उपाध्यक्ष पवन कोहली और जिला युवा उपाध्यक्ष अर्जुन सिंह मौजूद रहे।