Harnaaz Sandhu,
miss

मिस यूनिवर्स हरनाज संधू के खिलाफ केस दर्ज, देखें क्या है मामला

चंडीगढ़। मिस यूनिवर्स हरनाज कौर संधू (Harnaaz Sandhu,) के खिलाफ चंडीगढ़ जिला अदालत में एक केस दायर किया गया है। एक्ट्रेस उपासना सिंह ने एक सिविल याचिका हरनाज के खिलाफ दायर की है। उपासन सिंह गुरुवार को अपने वकील के साथ कोर्ट पहुंचीं थीं। उपासना का आरोप है कि वह एक फिल्म प्रोड्यूस कर रही थीं, जिसमें काम करने के लिए हरनाज ने हामी भरी थी, मगर अब उसने फोन उठाने बंद कर दिए हैं। उनके पास हरनाज के खिलाफ सबूत भी हैं। अब कोर्ट के द्वारा उन्हें समन किया जाएगा।

दायर केस के मुताबिक, वर्ष 2020 में हरनाज ने फेमिना मिस इंडिया पंजाब का खिताब जीता था। उस दौरान उन्होंने संतोष एंटरटेनमेंट स्टूडियो एलएलपी के साथ एक आर्टिस्ट एग्रीमेंट साइन किया था। इस स्टूडियो को उपासना सिंह चलाती हैं। उपासना के मुताबिक, उन्होंने ‘बाई जी कुटणगें’ नाम से पंजाबी फिल्म बनानी थी। इसमें उन्होंने हरनाज को लीड रोल देना था। एग्रीमेंट के तहत आर्टिस्ट को फिल्म की प्रोमोशनल एक्टिविटी के लिए उपलब्ध रहना था। फिजिकली और वर्चुअली शामिल होना था।

लेकिन मिस यूनिवर्स बनने के बाद हरनाज ने व्यवसायिक और कॉन्ट्रैक्चुअल वादा तोड़ दिया। उसने खुद को फिल्म कास्ट और क्रू से अलग कर लिया है। मिस यूनिवर्स बनने के बाद हरनाज संधू खुद को बड़ी स्टार समझने लगी है। उसने फोन भी उठाने बंद कर दिए हैं। इस फिल्म के जरिए मुझे अपने बेटे को लॉन्च करना था, लेकिन हरनाज संधू के संपर्क न करने की वजह से उनका ब?ा नुकसान हुआ है। इसलिए हरनाज के खिलाफ चंडीगढ़ कोर्ट में केस दायर किया गया है।

उपासना ने कहा काफी वित्तीय नुकसान हुआ

उपासना सिंह ने बताया कि फिल्म के डायरेक्टर समीप कंग और प्रोड्यूसर्स ने भी हरनाज से संपर्क करने की कोशिश की, मगर सब फेल रहे। हरनाज कौर संधू मिस यूनिवर्स 2021 बनी। इसके बाद उन्होंने एक भी मेल या टैक्सट का जवाब नहीं दिया। फिल्म को और इसके डिस्ट्रीब्यूटर्स को नुकसान हुआ। फिल्म की रिलीज की तारीख भी टालनी पड़ी। 27 मई 2022 से फिल्म की रिलीज 19 अगस्त के लिए टल गई। फिल्म की कास्ट और क्रू को फिल्म की देरी के चलते मीडिया के सवाल झेलने पड़े और गलत इमेज बनी।

मिस यूनिवर्स को पंजाबी सिनेमा छोटा लगने लगा है

उपासना ने कहा है कि वह प्रोड्यूसर के रूप में अपनी पहली फिल्म पंजाबी में बनाना चाहती थी, लेकिन लगता है कि हरनाज संधू को पंजाबी इंडस्ट्री छोटी लगने लग गई है। उसे लगता है कि वह सिर्फ बॉलीवुड और हॉलीवुड प्रोजेक्ट्स के लिए बनी है। हरनाज को यह नहीं भूलना चाहिए कि वह कहां से आई है। उसे पंजाबी फिल्मों का हिस्सा बनकर गर्व महसूस होना चाहिए। हरनाज ने उनकी फिल्म का एक पोस्ट भी नहीं डाला। वहीं उसने पब्लिकली फिल्म के बारे में बात करने से मना कर दिया।