ऑनलाइन लोन एप से रहे, सावधान डीसीपी
ऑनलाइन लोन एप से रहे

ऑनलाइन लोन एप से रहे, सावधान डीसीपी

ऑनलाइन लोन एप से रहे, सावधान डीसीपी

--साईबर अपराधी होनें पर तुरंत डॉयल करे 1930 ।
--बहकावें में आनें से बचें । किसी अन्जान कॉल , मैसेज का मत कें रिप्लाई ।
--पैसे ट्रांसफर करनें वालें मोबाईल एप को सावधानपूर्वक प्रयोगकरें ।

पंचकूला  06 अप्रैल :-  पुलिस प्रवक्ता नें जानकारी देते हुए बताया कि पुलिस महानिदशक श्री पी.के. अग्रवाल के निर्देशानुसार हर माह की 6 तारिख को साईबर जागरुक दिवस के रुप में मनाया जाता है इस जागरुक दिवस के तहत पुलिस उपायुक्त पंचकूला श्री मोहित हांडा भा.पु.से. के निर्देशानुसार अलग-2 स्थानों पर साईबर जागरुक दिवस मनाकर लोगो को साईबर अपराधो से बचनें हेतु जागरुक किया जाता है क्योकि आज की डिजिटल दुनिया मे जैसे-2 तकनीकी बढती जा रही है वैसें -2 साईबर अपराधी भी अलग-2 तरीके अपनाकर लोगो के साथ साईबर धोखाधडी करते है ऐसे अपराधियो से बचनें के लिए खुद को जागरुक व सावधान रखनें की आवश्यकता है ।
इस जागरुक दिवस पर आज दिनांक 06 अप्रैल को गाँव सकेतडी में पहुँचकर इन्चार्ज पुलिस चौकी सकेतडी स.उप.नि. प्रवीण कुमार के द्वारा ग्रामीण के लोगो को अलग-2 स्थानों पर जाकर साईबर अपराधो से बचनें हेतु जागरुक किया गया और साईबर अपराध वारदातो की तरीको बारें अवगत करवाया गया और फोन में प्राप्त ओटीपी या बैंक सम्बन्धी जानकारी किसी अन्जान व्यकित के साथ सांझा ना करें ना ही किसी फोन में प्राप्त किसी अन्जान लिंक इत्यादि पर क्लीक करे और सोशल मीडिया (फेसबुक तथा इंसटाग्राम) पर प्राईवेसी सिक्युरिटी लगाकर रखें और अपनें अकाउंट का मजबुत पासवर्ड बनाये और समय-2 पर बदलते रहें । इसके साथ ही जानकारी देते हुए बताया कि अगर आप ऑनलाइन किसी एप से लोन ले रहे हैं तो सावधान रहें. क्योंकि पहले ये एप चंद मिनट में ऑनलाइन लोन देते हैं और लोन अप्रूवल करवाने के नाम पर एप्लीकेशन इंस्टॉल करवा कर फोन हैक कर लेते हैं इसके बाद फोन से सभी निजी डेटा भी चुरा लेते हैं इसके बाद लोन लेने वाले ग्राहक के परिजनों दोस्तों को अश्लील मैसेज भेज कर लोन लेने वाले ग्राहक को ब्लैकमेल किया जाता है क्योकि आजकल युवा सोशल मीडिया पर एक्टिव रहते है बार लोन लेनें बारे विज्ञापन सामनें आते है ऐसे में युवा 3 हजार से 10 हजार तक के लोन मामूली छोटे लोन समझ कर ले ले लेते हैं और बिना कहीं जाए बैठे-बैठे मोबाइल में से लोन अप्रूवल हो जाता है, लेकिन कई बार उसकी भारी कीमत चुकानी पड़ जाती है 

साईबर एक्सपर्ट उप.नि. इन्द्र सिह इन्चार्ज साईबर सैल नें जानकारी देते हुए बताया कि हर किसी एप्लिकेशन से लोन नहीं लेना चाहिए और लोन लेने से पहले सभी शर्तों को पढ़ना चाहिए क्योंकि लोन अप्रूवल करवाने के लिए एप्लीकेशन इंस्टॉल करवा कर हैकर आपके फोन का सारा डाटा चुरा लेते हैं इन चीजों को ध्यान में रखना चाहिए ।

इसके साथ ही मनी ट्रांसफर एपलिकेशन (गुगल पे. फोन पे.) इत्यादि को सावधान पूर्वक प्रयोग करें याद रहे जब भी आप इन एपस के द्वारा अपनें बैंक की पिन डाल रहें है तो पैसा आपके खाते से किसी दुसरे के खातें में जा रहा है और इन एपस के माध्यम से प्राप्त मनी रिक्वेस्ट इत्यादि पर क्लीक ना करें इसे तुरन्त डिलिट करे दें इसके अलावा किसी व्यकित के द्वारा बताये गये किसी भी आफर या किसी प्रकार का लालच मे ना फसें ।
इसके अलावा सहायक पुलिस आयुक्त श्री मुकेश कुमार ह.पु.से. के द्वारा गामीण क्षेत्र को लोगो को थाना पिन्जौर व कालका स्तर मौजिज व्यक्तियो के साथ मुलाकात करते हुए साईबर अपराधो बारे जागरुक करते हुए कहा कि जैसें जैसे डिजिटल टेक्नोलोजी बढ रही है वैसे-2 साईबर अपराध भी बढ रहा है हमें यह नही पता होता कि कौन व्यकित हमारे साथ साईबर अपराध को अंजाम दे सकता है इसलिए साईबर धोखाधडी से खुद बचाकर रखे किसी भी प्रकार के अन्जान व्यकित के साथ बातचीत ना करें ना ही किसी के बहकावें में आए ना ही किसी कोई प्राप्त ओ.टी.पी. किसी के साथ सांझा करें । इसके अलावा आजकल बहुत सारें मैसेज या ईमेल लिंक प्राप्त होते इस प्रकार के अनजान लिंक इत्यादि पर क्लीक ना करें इन्हे तुरंत डिलिट कर दें । 

इस सम्बन्ध में एसीपी नें कहा कि अगर आपके साथ किसी भी प्रकार की आनलाईन ठगी हो जाती है तुरन्त नेशनल साईबर कम्पलेंट पोर्टल नम्बर 1930 पर कॉल करें और www.cybercrime.gov.in पर आनलाईन शिकायत दर्ज करवायें जितनी जल्दी हो सके तुरन्त कम्पलेंट न.1930 या कम्पलेंट पोर्टल पर शिकायत दर्ज करवाये और इसके अलावा नजदीक पुलिस स्टेशन में जाकर साईबर हैल्प डैस्क की मदद लें ।