हरियाणा में ऑनलाइन बनेंगे पिछड़ा वर्ग प्रमाण पत्र,सीएम ने लांच की सर्विस
हरियाणा में ऑनलाइन बनेंगे पिछड़ा वर्ग प्रमाण पत्र

हरियाणा में ऑनलाइन बनेंगे पिछड़ा वर्ग प्रमाण पत्र,सीएम ने लांच की सर्विस

हरियाणा में ऑनलाइन बनेंगे पिछड़ा वर्ग प्रमाण पत्र,सीएम ने लांच की सर्विस

सरल पोर्टल पर पीपीपी की मदद से बनेगा बीसी वर्ग प्रमाण पत्र
प्रदेश के 22 लाख पिछड़ा वर्ग परिवारों ने कराया है पीपीपी पर पंजीकरण

चंडीगढ़, 22 जुलाई। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने शुक्रवार को परिवार पहचान पत्र (पीपीपी) आधारित पिछड़ा वर्ग प्रमाण पत्र की ऑनलाइन सेवा को लांच किया। इसके माध्यम से अब पात्र व्यक्ति महज एक क्लिक से अपना पिछड़ा वर्ग प्रमाण पत्र बनवा सकेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि इसके माध्यम से लोगों को कार्यालयों के चक्कर नहीं काटने पड़ेगे। ऑनलाइन सेवा से ज्यादा लाभ मिलेगा।
ऑनलाइन सेवा की लांचिंग के बाद मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा में अभी तक 22 लाख पिछड़ा वर्ग के परिवारों ने परिवार पहचान पत्र में रजिस्ट्रेशन किया है। इनमें से 19 लाख परिवारों की आया पीपीपी के माध्यम से वैरिफाई हो चुकी है। इनका डाटा अपडेट कर दिया गया है। यह परिवार सरल पोर्टल के माध्यम से अपना पिछड़ा वर्ग प्रमाण पत्र बनवा सकते हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि बचे हुए परिवारों की आय वैरिफिकेशन का काम अभी चल रहा है जिनकी इनकम वैरिफिकेशन अभी बाकि है और यदि उन्हें पिछड़ा वर्ग प्रमाण पत्र चाहिए तो वह जैसे ही सरल पोर्टल के माध्यम से अप्लाई करेंगे, तत्काल प्राथमिकता देते हुए उनकी इनकम वैरिफिकेशन करवाई जाएगी और जल्द से जल्द उनका पिछड़ा वर्ग प्रमाण पत्र बनाया जाएगा। 
इस लांचिंग के दौरान मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव डीएस ढेसी,एसीएस पीके दास,सुमिता मिश्रा, प्रधान सचिव अरूण कुमार गुप्ता, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव वी. उमाशंकर, मुख्य कार्यकारी अधिकारी विकास गुप्ता, प्रबंध निदेशक पीसी मीणा, सचिव वित्त श्रीमती सोफिया दहिया,अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी योगेश कुमार व अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे।