पंजाब में राजनीतिक हलचल तेज: अकाली दल का पूरा संगठन ही भंग, यह बड़ा एक्शन क्यों? सुखबीर बादल को लेकर ऐसी खबर
Akali Dal Entire Organizational Structure Dissolved

Akali Dal Entire Organizational Structure Dissolved

पंजाब में राजनीतिक हलचल तेज: अकाली दल का पूरा संगठन ही भंग, यह बड़ा एक्शन क्यों? सुखबीर बादल को लेकर ऐसी खबर

Akali Dal Entire Organizational Structure Dissolved : पंजाब (Punjab) में राजनीतिक हलचल तेज हो गई है| दरअसल, पंजाब की एक बड़ी राजनीतिक पार्टी शिरोमणि अकाली दल (SAD) का पूरा संगठन ही भंग कर दिया गया है| संगठन भंग होने के बाद पार्टी की सारी कमेटियां (वर्किंग और कोर कमेटी सहित अन्य) व अन्य सभी विंग खत्म हो गईं हैं|

पार्टी के जनरल सेक्रेटरी, सेक्रेटरी सहित सभी तमाम पदाधिकारियों को उनके पद से मुक्त कर दिया गया है| हालांकि, सुखबीर सिंह बादल (Sukhbir Singh Badal) प्रधान बने रहेंगे| बताया जा रहा है कि, यह बड़ा एक्शन पोल रिव्यू कमेटी यानि झूंदा कमेटी की सिफारिश पर लिया गया है| पार्टी में अंदर ही अंदर बगावती सुर भी देखे जा रहे हैं|

सुखबीर सिंह बादल के इस्तीफे की मांग...

खबर है कि, शिरोमणि अकाली दल (SAD) में लीडरशिप को लेकर तकरार पैदा हो रही है| सुखबीर सिंह बादल के इस्तीफे की मांग की गई है| इधर, पार्टी में यही सब हलचल देखते हुए देर रात सुखबीर बादल ने अचानक संगठनत्माक ढांचा भंग करने का ऐलान कर दिया। अब कहा जा रहा है कि पार्टी अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल जमीनी स्तर पर गहन समीक्षा करते हुए संगठन का पुनर्गठन करेंगे|

अकाली दल पर चुनावी हार का गहरा असर...

दरअसल, जिस अकाली दल ने पंजाब में लम्बे समय तक सत्ता का सुख भोगा उसी अकाली दल को अब लगातार हार चखनी पड़ रही है| जहां ऐसे में पार्टी के नेतृत्व और नीतियों पर पार्टी के लोगों द्वारा सवाल उठना लाजमी है| बतादें कि, अकाली दल को जहां 2017 के पंजाब विधानसभा चुनाव में कांग्रेस से करारी हार झेलनी पड़ी तो वहीं 2022 के चुनाव में तो पार्टी की शर्मनाक हार हुई| इतनी बड़ी पार्टी सिर्फ तीन सीटें ही हासिल कर पाई| दिग्गज नेता 5 बार के CM प्रकाश सिंह बादल, प्रधान सुखबीर बादल तक अपनी सीट नहीं बचा पाए|