जनमंच में 919 शिकायतें व मांगें प्राप्त हुईं, अधिकांश मामलों का किया गया मौके पर निपटारा
जनमंच में 919 शिकायतें व मांगें प्राप्त हुईं

जनमंच में 919 शिकायतें व मांगें प्राप्त हुईं, अधिकांश मामलों का किया गया मौके पर निपटारा

जनमंच में 919 शिकायतें व मांगें प्राप्त हुईं, अधिकांश मामलों का किया गया मौके पर निपटारा

आज प्रदेश के सभी 12 ज़िलों के विभिन्न विधानसभा क्षेत्रों में जन मंच  आयोजित किए गए। जन मंच में कुल 919 शिकायतें व मांगें प्राप्त हुई, जिनमें से अधिकांश मामलों का मौके पर ही निपटारा किया गया। 

जिला हमीरपुर 
हमीरपुर जिला के सुजानपुर विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायत दाड़ला में आयोजित जन मंच की अध्यक्षता हिमाचल प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष विपिन सिंह परमार ने की। इस अवसर पर पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल भी विशेष रूप से उपस्थित रहे। 
जन मंच में क्षेत्र की छह ग्राम पंचायतों से लगभग 50 समस्याओं की सुनवाई की गई और अधिकांश का निपटारा मौके पर ही कर दिया गया। 
  इस अवसर पर विपिन सिंह परमार ने कहा कि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के नेतृत्व में प्रदेश सरकार ने जन मंच में अधिकारियों-कर्मचारियों की जवाबदेही सुनिश्चित की है। इससे प्रदेश में लोकतांत्रिक व्यवस्था का सुदृढ़ीकरण सुनिश्चित हो रहा है। 
जन मंच के दौरान बेटी है अनमोल योजना के तहत 4 कन्याओं को एफडी, 44 महिलाओं को हिमाचल प्रदेश राज्य हस्तशिल्प एवं हथकरघा विकास निगम की ओर से बांस कला की टूल किट व मुख्यमंत्री गृहिणी सुविधा योजना के तहत 32 महिलाओं को निःशुल्क गैस कनैक्शन बांटे गए। स्वास्थ्य और आयुर्वेद विभाग द्वारा मेडिकल जांच शिविर में 248 से अधिक लोगों की जांच की और उन्हें दवाईयां वितरित कीं। 

जिला बिलासपुर
जल शक्ति, राजस्व, बागवानी और सैनिक कल्याण मंत्री महेन्द्र सिंह ठाकुर ने जिला बिलासपुर के सदर विधानसभा क्षेत्र की राजकीय उच्च पाठशाला लद्दा में  आयोजित जन मंच की अध्यक्षता की। जन मंच में कुल 102 शिकायतें प्राप्त हुईं, जिनमें से अधिकांश का मौके पर ही निपटारा कर दिया गया। 
महेन्द्र सिंह ठाकुर ने इस अवसर पर कहा कि प्रदेश की जनता के साथ सीधा संवाद करने तथा उनकी अधिकतर समस्याओं का त्वरित समाधान करने के उदे्श्य से आरम्भ जन मंच सरकार का एक महत्वकांक्षी कार्यक्रम है। उन्होंने कहा कि जन मंच का उदे्श्य लोगों की शिकायतों को समय पर हल करना, सरकारी कार्यक्रमों व योजनाओं की आम जनता को जानकारी देना और उनकी शिकायतों व मांगों का उनके घर द्वार पर निपटारा करके ग्रामीणों को लाभान्वित करना है।
इस अवसर पर विभिन्न 38 प्रमाण पत्र बनाए गए तथा 441 लोगों की स्वास्थ्य जांच की गई।

जिला शिमला
शिमला जिला के शिमला (शहरी) विधानसभा क्षेत्र के अन्तर्गत आज ऐतिहासिक रिज मैदान पर 25वां जन मंच शहरी विकास एवं सहकारिता मंत्री सुरेश भारद्वाज की अध्यक्षता में आयोजित किया गया।
जन मंच के दौरान आज मौके पर प्राप्त 5 शिकायतों व 16 मांगों का पर निपटारा किया गया। पूर्व जन मंच में प्राप्त 33 समस्याओं में से अधिकांश का निपटारा किया जा चुका है। इसके अतिरिक्त प्राप्त की गई 23 मांगों को निवारण के लिए संबंधित विभागों को भेज दिया गया है।
सुरेश भारद्वाज ने कहा कि अंतिम पंक्ति में बैठे गरीब व्यक्ति की समस्याओं का निराकरण पिछले 4 वर्षो से जन मंच के माध्यम से किया जा रहा है और मुख्यमंत्री स्वयं इसकी निगरानी कर रहे हैं। उन्होंने लोगों का आह्वान किया कि वे जन मंच के माध्यम से अपनी समस्याओं का हल पाने के साथ ही सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं का लाभ भी प्राप्त करें।
जन मंच के दौरान स्वास्थ्य विभाग द्वारा 350 लोगों की तथा आयुष विभाग द्वारा 150 लोगों की स्वास्थ्य जांच की गई। इसके अतिरिक्त, 13 हिमकेयर कार्ड, 3 बोनाफाइड हिमाचली कार्ड भी बनाए गए और एक रक्तदान शिविर का भी आयोजन किया गया। 
 
जिला ऊना
ऊना जिला में प्रदेश सरकार की महत्वकांक्षी पहल जन मंच का आयोजन आज ऊना विधानसभा क्षेत्र की चंद्रलोक कॉलोनी में किया गया, जिसकी अध्यक्षता सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री सरवीण चौधरी ने की। 
छठे राज्य वित्तायोग के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती भी इस अवसर पर विशेष रूप से उपस्थित रहे। 
जन मंच में कुल 35 जनसमस्याएं प्राप्त हुई, जिनमें से अधिकतर का मौके पर ही निपटारा कर दिया गया। पूर्व जन मंच गतिविधियों के दौरान 20 समस्याएं प्राप्त हुई थीं, जिनमें से 7 शिकायतें और 13 मांग पत्र रहे, जबकि मौके पर कुल 15 जनसमस्याएं प्राप्त हुई, जिनमें 9 शिकायतें और 6 मांग पत्र शामिल हैं। 
इस अवसर पर जिला प्रशासन ऊना की गरिमा योजना के तहत बेटियां गोद लेने वाले दो परिवारों तथा अपनी बेटी की उच्च शिक्षा के लिए ऋण लेने वाले दो परिवारों को सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ने 21-21 हजार रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की। उत्कृष्ट कार्य करने वाली जिला ऊना की 6 बेटियों को बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत उनकी उपलब्धियों को दर्शाने वाले बोर्ड भी प्रदान किए गए। 

जिला कुल्लू
जिला कुल्लू की बंजार विधानसभा क्षेत्र में आयोजित जन मंच की अध्यक्षता तकनीकी शिक्षा, व्यावसायिक एवं औद्योगिक प्रशिक्षण, जनजातीय विकास मंत्री डॉ. राम लाल मारकण्डा ने की। इस अवसर पर विधायक सुरेन्द्र शौरी भी उपस्थित थे।
जन मंच में कुल 71 शिकायतें प्राप्त हुईं, जिनमें से अधिकांश का मौके पर ही निपटारा कर दिया गया।
इस अवसर पर डॉ. राम लाल मारकण्डा ने कहा कि जनमंच के माध्यम से सरकार लोगों की समस्याओं के निवारण पर घर-द्वार तक पहुंच रही है। जून 2018 से लेकर अब तक 232 जनमंचों के माध्यम से 53,665 समस्याएं सरकार तक पहुंची हैं और करीब 93 फीसदी शिकायतों और समस्याओं का समाधान सरकार के दिशा-निर्देशों और प्रशासन की त्वरित कार्रवाई के पश्चात संभव हो पाया है।
इस अवसर पर बेटी है अनमोल योजना की 21 लाभार्थियों 2.43 लाख रुपये की एफडीआर तथा मुख्यमंत्री कन्यादान योजना की दो लाभार्थियों को 51-51 हजार रुपये की राशि के चेक भेंट किए। 

जिला सोलन 
सोलन जिला का 22वां जन मंच आज अर्की विधानसभा क्षेत्र की राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला दिग्गल में आयोजित किया गया, जिसकी अध्यक्षता ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेन्द्र कंवर ने की।
जन मंच में कुल 32 शिकायतें और 97 मांगें प्रस्तुत की गई। 32 शिकायतों में से 27 तथा 97 मांगों में से 35 का मौके पर ही निपटारा किया गया। आज आयोजित जन मंच में पात्र व्यक्तियों को कोविड-19 से बचाव के लिए बूस्टर डोज भी लगाई गई।
वीरेन्द्र कंवर ने इस अवसर पर कहा कि जन मंच आरम्भ करने का मुख्य उद्देश्य आम जन की किसी कारणवश लम्बित पड़ी समस्याओं का समाधान सुनिश्चित बनाना है। अपने इस उद्देश्य में जन मंच पूर्ण रूप से सफल रहा है और इसके माध्यम से न केवल शिकायतों का समाधान किया जा रहा है अपितु क्षेत्र के विकास के लिए आवश्यक मांगों को उचित स्तर पर पहुंचाकर समुचित धनराशि की व्यवस्था भी की जा रही है।
जन मंच में 77 विभिन्न प्रमाण व अन्य दस्तावेज बनाए गए तथा 101 इंतकाल भी किए गए। आधार कार्ड के लिए 27 लोगों का पंजीकरण किया गया। सामाजिक सुरक्षा पेंशन के 10 मामलों में कागजी कार्रवाई पूर्ण की गई। 
जन मंच में जिला परिषद अध्यक्ष रमेश ठाकुर, अर्की के विधायक संजय अवस्थी, पूर्व विधायक गोविंद राम शर्मा सहित अन्य गणमान्य व विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

जिला कांगड़ा
      कांगड़ा जिला के नुरपूर विधानसभा क्षेत्र की सुखार पंचायत में आयोजित जन मंच की अध्यक्षता वन मंत्री राकेश पठानिया ने की। 
      आज जन मंच में चिन्हित 12 पंचायतों से विभिन्न विभागों से संबंधित कुल 43 समस्याएं प्राप्त हुई, जिनमें से 40 का मौके पर ही निपटारा कर दिया गया।
      वन मंत्री ने कहा कि जन मंच समाज के अन्तिम व्यक्ति की आवाज सुनने का प्रभावी मंच है और आम नागरिकों की समस्याओं के निदान में प्रदेश सरकार का यह कार्यक्रम ग्रामीण लोगों को अपनी बात सरकार तथा प्रशासन तक पहुंचाने में मददगार साबित हो रहा है।
      इस अवसर पर वन मंत्री ने मुख्यमंत्री गृहिणी सुविधा योजना के अन्तर्गत 96 महिलाओं को गैस कनेक्शन वितरित किए। इसके अतिरिक्त 6 दिव्यांगजनों को व्हीलचेयर तथा अन्य उपकरण और बेटी है अनमोल योजना की 10 लाभार्थी बेटियों को एफडीआर व मुख्यमंत्री शगुन योजना की लाभार्थी पांच बेटियों को विवाह के लिए 31-31 हजार राशि के चेक भेंट किए। 23 लाभार्थियों को आपदा राहत राशि तथा मुख्यमंत्री राहत राशि के अन्तर्गत 20 लाख रुपये के चेक वितरित किए गए।

जिला मण्डी 
मण्डी जिला के द्रंग विधानसभा क्षेत्र की राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला पधर में आयोजित 25वें जन मंच की अध्यक्षता शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने की। इस मौके पर द्रंग के विधायक जवाहर ठाकुर भी विशेषतौर पर मौजूद रहे।
जन मंच में विभिन्न विभागों से संबंधित 119 शिकायतों एवं मांगों का समाधान किया गया। पूर्व जन मंच में 63 शिकायतें प्राप्त हुई थीं, जिनमें से 62 का निपटारा कर दिया गया। वहीं जन मंच दिवस पर आज (रविवार) को 37 शिकायतें प्राप्त हुईं और सभी का मौके पर ही निपटारा कर दिया गया। इस अवधि में प्राप्त विभिन्न मांगों से जुड़े 47 मामलों में से 20 का निपटारा कर दिया 27 संबंधित विभागों को निपटारे के लिए भेजी गईं।
शिक्षा मंत्री ने कहा कि जन समस्याओं के घर-द्वार पर निपटारे में जन मंच बहुत कारगर सिद्ध हुआ है। इसके जरिए प्रदेश सरकार ने आम जनता को अपनी बात रखने का सशक्त मंच दिया है। कोरोना संकट के चलते भले ही कुछ समय के लिए जन मंच का नियमित आयोजन संभव नहीं हो पाया, लेकिन ये कार्यक्रम प्रदेश सरकार की प्राथमिकता है। जनमंच के माध्यम से ग्रामीण एवं दूर दराज क्षेत्रों के गरीब लोगों को उनके घर-द्वार तमाम जिला स्तर के अधिकारियों की मौजूदगी में जन शिकायतों को निपटारा सुनिश्चित हो रहा है। 

जिला चम्बा
चम्बा जिला के डलहौजी विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायत संुडला में आयोजित जन मंच के अध्यक्षता स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण और आयुष मंत्री डॉ. राजीव सैजल ने की। 
जन मंच में विभिन्न विभागों से संबंधित 33 मांगें व 8 समस्याएं प्रस्तुत की गई। इसके अतिरिक्त पूर्व जन मंच गतिविधियों के दौरान 70 समस्याएं और मांगे भी प्रस्तुत हुई, जिनमें से अधिकांश का मौके पर ही निपटारा कर दिया गया।
डॉ. राजीव सैजल ने कहा कि राज्य सरकार ने जन मंच के माध्यम से जन समस्याओं के त्वरित निराकरण एवं जन कल्याण के प्रति अपनी वचनबद्धता को पूरी तरह से निभाया है और जन मंच आम जनता की विभिन्न समस्याओं के उनके घर-द्वार पर ही निस्तारण का एक अनूठा माध्यम बनकर सामने आया है।
जन मंच में बेटी है अनमोल योजना के तहत 5 लाभार्थियों को एफडीआर जबकि बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के तहत 5 बेबी किट वितरित की गई। मुख्यमंत्री गृहिणी सुविधा योजना के तहत 8 गैस कनेक्शन भी वितरित किए गए। स्वास्थ्य विभाग द्वारा 68 लोगों के स्वास्थ्य की जांच की गई, जबकि 13 लोगों के अपंगता प्रमाण पत्र भी बनाए गए।
इस दौरान विधायक पवन नैयर सहित अन्य जन प्रतिनिधि व वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे। 

जिला सिरमौर 
सिरमौर जिला के नाहन विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायत नावनी के मेला मैदान, जमटा में आज जन मंच आयोजित किया गया जिसकी अध्यक्षता खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले मंत्री राजिंद्र गर्ग ने की। नाहन के विधायक एवं पूर्व विधानसभा अध्यक्ष डॉ. राजीव बिन्दल भी इस अवसर पर उपस्थित थे।
जन मंच में विभिन्न विभागों से संबधित कुल 22 शिकायतें व 64 मांगे प्राप्त हुई, जिसमें अधिकांश का निपटारा मौके पर ही कर दिया गया।
राजिंद्र गर्ग ने कहा कि जन मंच प्रदेश सरकार की एक महत्वपूर्ण पहल है और इसके माध्यम से लोगों द्वारा उठाए गए मुद्दों का घर के समीप त्वरित समाधान संभव हुआ हैै। 
इस अवसर पर बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम के अंतर्गत संबंधित क्षेत्र की 8 बालिकाओं के परिवारों को कंबल व पौधा देकर सम्मानित किया गया। इसके अतिरिक्त बेटी है अनमोल योजना के अंतर्गत 5 बच्चों को एफडी भी वितरित की गई। जन मंच के दौरान राजस्व विभाग द्वारा विभिन्न प्रकार के 105 प्रमाण पत्र जारी किए गए। 40 नए आधार कार्ड बनाने के साथ ही 25 आधार कार्ड अपडेट किए गए। आयुर्वेद विभाग द्वारा 150 रोगियों जबकि स्वास्थ्य विभाग द्वारा आयोजित बहुददेशीय चिकित्सा शिविर में 175 से अधिक लोगों के स्वास्थ्य की जांच की गई।

जिला लाहौल-स्पीति
जनजातीय जिले लाहुल-स्पिति के काजा में रविवार को 25वें जन मंच का सफल आयोजन हिमाचल प्रदेश विधानसभा के उपाध्यक्ष डॉ. हंस राज की अध्यक्षता में किया गया।
जन मंच में कुल 37 शिकायतें प्राप्त हुई और सभी शिकायतों का निपटारा मौके पर ही कर दिया गया। पूर्व जन मंच में प्राप्त अधिकांश शिकायतों का निपटारा संबधित विभागों ने पंचायतों में जाकर ही कर दिया था।
जन मंच को संबोधित करते हुए डॉ. हंस राज ने कहा कि प्रदेश सरकार ने लोगों के घर द्वार के निकट शिकायतों का निपटारा करने के लिए जन मंच की शुरूआत की है और इसके सार्थक परिणाम सामने आए हैं। 
            
जिला किन्नौर 
किन्नौर जिला के कल्पा स्थित राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला के मैदान में आज जिले का 11वां जन मंच आयोजित किया गया जिसकी अध्यक्षता मुख्य सचेतक बिक्रम सिंह जरयाल ने की।
जन मंच में कुल 59 शिकायतें प्राप्त हुई जिनमें से 30 शिकायतों का निपटारा मौके पर ही कर दिया गया, जबकि 29 शिकायतों का निपटारा शीघ्र करने के लिए विभिन्न विभागों को निर्देश दिए गए।
बिक्रम सिंह जरयाल ने कहा कि लोगों की समस्याओं का तत्काल समाधान सुनिश्चित बनाने तथा उन्हें बार-बार विभागों के कार्यालयों के चक्कर काटने से निजात दिलाने के उद्देश्य से महत्वकांक्षी जनमंच आरंभ किया गया है। इससे जहां लोगों की शिकायतों का मौके पर ही समाधान सुनिश्चित हो रहा है वहीं उनके धन व समय की बचत भी हो रही है।
उन्होंने कहा कि जनजातीय क्षेत्र विकास कार्यक्रम के तहत गत 4 वर्षों के दौरान जिले के चहुँमुखी विकास के लिए 385 करोड़ 56 लाख रुपये जारी किए गए जबकि वर्ष 2022-23 के लिए 138 करोड़ 22 लाख रुपये के बजट का प्रावधान किया गया है जिसके तहत जिले में कृषि तथा अन्य संबंध सेवाओं के लिए 9 करोड़ 71 लाख रुपये का प्रावधान किया गया है। 
इस अवसर पर हिमाचल प्रदेश वन विकास निगम के उपाध्यक्ष सूरत नेगी, जिला परिषद अध्यक्ष निहाल चारस सहित विभिन्न विभागाध्यक्ष व गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।