ध्यान दे हरियाणा सरकार: रोडवेज बस की सवारियों से हो रहा दु‌र्व्यवहार, क्या ऐसे अच्छी सेवा दी जाएगी? टिकट चेकिंग के नाम पर सवारी से मोबाइल छीन चलती बस से फेंक दिया
Ticket checkers misbehave with passengers in Haryana Roadways Bus

Ticket checkers misbehave with passengers in Haryana Roadways Bus

ध्यान दे हरियाणा सरकार: रोडवेज बस की सवारियों से हो रहा दु‌र्व्यवहार, क्या ऐसे अच्छी सेवा दी जाएगी? टिकट चेकिंग के नाम पर सवारी से मोबाइल छीन चलती बस से फेंक दिया

Haryana News : कई बार बस में सवारियों के साथ दु‌र्व्यवहार की खबरें सामने आती हैं और अब ऐसी ही एक खबर उस हरियाणा रोडवेज की बस से सामने आई है, जहां अच्छी सेवा देने की बात कही जाती है| हरियाणा सरकार को इस ओर ध्यान देना होगा कि उसके द्वारा चलाई जा रही बस सर्विस में क्या जनता सफर करके खुश है... क्या उसे परेशानी हो रही है या उसे परेशान किया जा रहा है| सरकार को तत्काल इस बारे में जांच करानी चाहिए|

फिलहाल, तो हरियाणा सरकार यह जान ले कि उसकी रोडवेज बस में सवारियों के साथ दु‌र्व्यवहार किया जा रहा है| टिकट चेकिंग के नाम पर होने वाले इस दु‌र्व्यवहार से सवारियां परेशान हैं| और अब तो इस कड़ी में एक मामला ऐसा सामने आया है| जिसमें तो हद ही हो गई| हरियाणा रोडवेज बस में चंडीगढ़ से शाहाबाद मारकंडा जा रही एक सवारी के साथ चेकिंग के नाम जमकर बदसलूकी की गई| टिकट चेकिंग के नाम पर उससे उसका मोबाइल छीन लिया गया और चलती बस से उसे फेंक दिया गया|

दरअसल, पीड़ित सवारी ने बताया कि उसने शुक्रवार शाम चंडीगढ़ में अपनी ड्यूटी खत्म कर शाहाबाद मारकंडा अपने निवास जाने के लिए हरियाणा रोडवेज की रोहतक डीपो की एक बस पकड़ी| रात करीब 9:45 पर जब बस शाहाबाद मारकंडा पहुंची तो टिकट चेकर की पहचान बताने वाले कुछ लोगों ने उससे टिकट दिखाने को कहा| वहीं, टिकट मांगने पर उसने उन्हें टिकट दिखा दी| लेकिन इस बीच टिकट का कुछ हिस्सा उससे कहीं छूट गया| जिसपर टिकट चेकर्स ने उससे जुर्माना देने की बात कही|

पीड़ित सवारी ने बताया कि, उसके द्वारा टिकट चेकर्स से यह कहा भी गया कि उसने अपने सफर तक की बस की पूरी टिकट ली हुई है| वह कोई बिना टिकट नहीं आया है| टिकट का बाकी का हिस्सा भी उसके पास है वह ढूढ़ रहा है| पीड़ित सवारी के मुताबिक, उसने टिकट चेकर्स को यह भी बताया भी कि वह पिछले काफी समय से मीडिया समूह में कार्यरत है और रोजाना हरियाणा रोडवेज की बस से सफर करता है|

लेकिन टिकट चेकर्स ने उसकी एक न सुनी| टिकट चेकर्स 500 रूपए जुर्माने के लिए धक्काशाही शुरू कर देते हैं| वहीं, हद तो तब हो जाती है जब इतने में एक टिकट चेकर उसका मोबाइल उसके हाथों से छीन चलती बस में चढ़ जाता है और उसके नज़दीक खड़ा एक अन्य चेकर 500 रुपए जुर्माने के लिए दबाव बनाने लगता है|

पीड़ित सवारी ने बताया कि, मोबाइल छीने जाने के बाद उसके द्वारा भी आनन फ़ानन में 500 रुपए दे दिए जाते हैं| वहीं, टिकट चेकर को जैसे ही पैसे मिलते हैं| वह चलती बस से उसका मोबाइल फेंक मौके से चले जाते हैं| पीड़ित सवारी ने बताया कि जब यह सब घटना हुई तो मौके पर मौजूद अन्य लोगों ने इसकी निंदा की|

इस प्रकार की चेकिंग पहले नहीं देखी...

पीड़ित सवारी का कहना है कि उसके साथ अब जो हुआ है वो इससे पहले चंडीगढ़ से हरियाणा के इतने सालों के सफर में कभी नहीं हुआ| इस प्रकार की चेकिंग उसने पहले नहीं देखी| हां, उसकी चेकिंग हुई जरूर लेकिन ऐसे नहीं| पीड़ित सवारी ने बताया कि जो चेकर होते हैं वो बस स्टैंड पहुँचने से पहले कुछ दूरी पर बस रोकते हैं फिर बस के अंदर एक एक सवारी का टिकट चेक करते हैं|

यदि किसी सवारी के टिकट में कोई संशय पाई जाती है तो उसको समय दिया जाता है किंतु रात के अंधेरे में बस स्टैंड पर उतरती सवारियों से दुर्व्यवहार कर टिकट चेक करना यह बेहद निंदनीय है| इस ओर हरियाणा सरकार को ध्यान देना चाहिए| पीड़ित सवारी ने कहा कि यह घटनाक्रम रोड्वेज़ की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े करता है| पीड़ित सवारी ने अंदेशा जताते हुए कहा कि हरियाणा रोडवेज बस में ऐसी चेकिंग किसी लूटेरे गिरोह का भी हिस्सा हो सकती है|