Area

बठिंडा में बेअदबी के बाद बढ़ा तनाव, एरिया सील

बठिंडा। पंजाब के बठिंडा में सोमवार रात हुई हनुमान चालीसा की बेअदबी के कुछ ही घंटे बाद, मंगलवार सुबह गुटका साहिब को अपवित्र करने का केस सामने आया। यहां निरंकारी समाज के अलावा डेरा सच्चा सौदा से जुड़ी धार्मिक पुस्तक के पेज भी फाड़कर फेंके गए।

मंगलवार सुबह बेअदबी की घटना डीडी मित्तल (D.D. Mittal) टावर कॉलोनी में हुई, जिसके बाद पुलिस ने इस कॉलोनी को सील कर दिया। किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए मौके पर भारी सुरक्षा बल तैनात कर दिया गया। दोनों मामलों में पुलिस की छानबीन जारी है। 24 घंटे से भी कम समय में अलग-अलग समुदायों के धार्मिक ग्रंथों की बेअदबी की घटनाओं के बाद बठिंडा शहर में लोग खौफ में हैं।

जानकारी के अनुसार सोमवार देर रात कुछ शरारती तत्वों ने हनुमान चालीसा को फाड़कर गुरुद्वारा किला मुबारक साहिब के पास फेंक दिया। इसकी जानकारी मिलते ही पुलिस हरकत में आ गई और अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया। इस घटना के कुछ ही घंटे बाद, मंगलवार सुबह बेअदबी की दूसरी घटना सामने आई जब बठिंडा शहर में मुल्तानिया रोड स्थित डीडी मित्तल टावर में गुटका साहिब और निरंकारी मैट से जुड़ी धार्मिक किताब को फाड़कर फेंका गया।

मित्तल टावर के लोगों ने बताया कि आज सुबह करीब साढ़े छह बजे सिरसा स्थित डेरा सच्चा सौदा से जुड़ी एक किताब का पन्ना ऊपर से नीचे फेंका गया। इसके कुछ ही समय बाद निरंकारी समाज से जुड़ी एक धार्मिक पुस्तक का पन्ना फाड़कर फेंका गया। उन्होंने पुलिस को सूचना दी, लेकिन पुलिस कार्रवाई करने से बचती रही। इसके बाद सुबह तकरीबन साढ़े 9 बजे श्री गुरु ग्रंथ साहिब का आवरण और गुटका साहिब के अंग तोड़कर ऊपर से नीचे फेंके गए।

डीडी मित्तल टावर में अलग-अलग धर्मों से जुड़े ग्रंथों की बेअदबी की खबर फैलते ही बड़ी संख्या में लोग जमा हो गए। इसके बाद गुरुद्वारे के ग्रंथी को बुलाया गया। ग्रंथी और कुछ लोगों ने रहत मर्यादा के साथ गुटका साहिब के हिस्सों को इक_ा कर पुलिस को सौंप दिया। गुटका साहिब के अपमान का मामला सामने आने के बाद पुलिस ने डीडी मित्तल टावर कॉलोनी को सील कर दिया।

इस घटना के बाद डीडी मित्तल टावर एरिया में बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया। साथ ही पुलिस ने टावर के ए ब्लॉक की तलाशी शुरू कर दी। पुलिस ने शुरुआत में घटना पर पर्दा डालने का प्रयास भी किया।

DSP चिरंजीव ने बताया कि डीडी मित्तल टावर की दसवीं मंजिल पर रहने वाली एक NRI महिला ने अलग-अलग धर्मों से जुड़ी कुछ किताबें और गुटका साहिब अपनी लॉबी में रखी हुई थीं। वहीं से गुटका साहिब के अंग नीचे गिरे। मामले की गहराई से जांच की जा रही है। जो भी दोषी होगा, उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।