सम्मानजनक स्कोर तक पहुंची टीम इंडिया, दिनेश कार्तिक ने लगाई T20I करियर की पहली फिफ्टी
सम्मानजनक स्कोर तक पहुंची टीम इंडिया

सम्मानजनक स्कोर तक पहुंची टीम इंडिया, दिनेश कार्तिक ने लगाई T20I करियर की पहली फिफ्टी

सम्मानजनक स्कोर तक पहुंची टीम इंडिया, दिनेश कार्तिक ने लगाई T20I करियर की पहली फिफ्टी

नई दिल्ली। भारत और साउथ अफ्रीका के बीच पांच मैचों की टी20 सीरीज के चौथे मैच में दिनेश कार्तिक ने धमाकेदार बल्लेबाजी कर टीम को मुश्किल से निकाला। टास हारने के बाद बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम ने 20 ओवर में 6 विकेट के नुकसान पर 169 रन का स्कोर खड़ा किया। इसमें कार्तिक की पहली टी20 इंटरनेशनल फिफ्टी भी शामिल रही। इस अर्धशतकीय पारी को खेलने के साथ ही इस भारतीय धुरंधर ने इतिहास के पन्नों में अपना नाम दर्ज करा लिया।

शुक्रवार को भारतीय टीम साउथ अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज के चौथे मुकाबले में खेलने उतरी। मेहमान टीम के कप्तान तेंबा बवूमा ने टास जीता और पहले गेंदबाजी का फैसला लिया। भारतीय टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही और 40 रन होते होते टाप तीन बल्लेबाज वापस लौट गए। चौथा झटका टीम को 81 रन के स्कोर पर लगा। इसके बाद मैदान पर उतरे कार्तिक ने हार्दिक पांड्या के साथ मिलकर टीम को संभाला और लड़ने लायक स्कोर तक पहुंचाया।

कार्तिक ने रचा इतिहास

साउथ अफ्रीका के खिलाफ कार्तिक ने 26 गेंद पर 9 चौके और 2 छक्के लगाते हुए अपनी फिफ्टी तक पहुंचे। यह टी20 इंटरनेशनल में उनकी पहली फिफ्टी रही। इससे पहले कार्तिक का सर्वाधिक टी20 इंटरनेशनल स्कोर 48 रन था जो उन्होंने 2017 में वेस्टइंडीज के खिलाफ बनाया था। इस पारी के साथ ही वह भारत की तरफ इस फार्मेट में फिफ्टी बनाने वाले सबसे उम्र दराज खिलाड़ी बन गए। 37 साल और 16 साल की उम्र में उन्होंने यह कमाल कर दिखाया।

एमएस धौनी को छोड़ा पीछे

दुनिया के महान फिनिशर महेंद्र सिंह धौनी ने भारत की तरफ से खेलते हुए छठे नंबर पर कई बेमिसाल पारियां खेली हैं। कार्तिक ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ 55 रन बनाने के साथ इस स्थान पर सबसे बड़ी भारतीय पारी का रिकार्ड अपने नाम कर लिया। धौनी ने 2018 में नाबाद 52 रन की पारी खेली थी। 2020 में मनीष पांडे ने 50 रन की नाबाद पारी छठे नंबर पर खेली थी।