Punjab के पूर्व CM प्रकाश सिंह बादल को लेकर आई अहम जानकारी, सोशल मीडिया पर सुबह से ही कही जा रही थी Death होने की बात
Punjab Parkash Singh Badal News

Punjab Parkash Singh Badal News

Punjab के पूर्व CM प्रकाश सिंह बादल को लेकर आई अहम जानकारी, सोशल मीडिया पर सुबह से ही कही जा रही थी Death होने की बात

Punjab Parkash Singh Badal News : शिरोमणि अकाली दल के सबसे वरिष्ठ नेता और पूर्व सीएम प्रकाश सिंह बादल की तबियत इन दिनों नासाज चल रही है| काफी उम्र (94 साल) के चलते वह स्वास्थ्य संबंधी कुछ समस्याओं से जूझ रहे हैं| बतादें कि, प्रकाश सिंह बादल इस वक्त मोहाली के फोर्टिस अस्पताल में भर्ती हैं| जहां उनका इलाज किया जा रहा है| डॉक्टरों की एक खास टीम बादल पर अपनी नजर रखे हुए है| डॉक्टर्स उनके जल्द से जल्द ठीक होने की उम्मीद कर रहे हैं|

प्रकाश सिंह बादल के बारे में फैली ऐसी खबर ...

इधर, आज सोमवार सुबह से ही प्रकाश सिंह बादल को लेकर एक खबर बड़ी तेजी से फैलने लगी| खबर थी प्रकाश सिंह बादल के निधन की| दरअसल, सोशल मीडिया पर जानकारी दी जाने लगी कि प्रकाश सिंह बादल का निधन हो गया है| हालांकि, इसी सोशल मीडिया पर कुछ ऐसे लोग भी थे जो इसे अफवाह बता रहे थे| लेकिन फिर भी प्रकाश सिंह बादल के निधन की बात सोशल मीडिया पर बराबर कही जाती रही| आलम यह रहा है कि खुद फोर्टिस अस्पताल को सामने आकर इस बारे में बयान जारी करना पड़ा|

क्या कहा फोर्टिस अस्पताल ने...

सोशल मीडिया पर प्रकाश सिंह बादल के निधन की खबर को देखते हुए फोर्टिस अस्पताल ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है| फोर्टिस अस्पताल ने कहा कि उनके बारे में ऐसा नहीं कहा जाना चाहिए| प्रकाश सिंह बादल की हालत स्थिर हैं और उम्मीद है कि उन्हें जल्द ही छुट्टी दे दी जाएगी|

हरियाणा के सीएम खट्टर ने मुलाकात की...

इधर, फोर्टिस अस्पताल ने यह भी जानकारी दी कि हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने आज प्रकाश बादल से अस्पताल में मुलाकात की है और उनका हाल जाना है| वहीं, खुद सीएम मनोहर लाल ने भी ट्वीट करके बताया कि उन्होंने अस्पताल जाकर प्रकाश बादल का हाल जाना है| सीएम खट्टर ने ट्वीट करते हुए लिखा - देश के वरिष्ठतम नेताओं में से एक, पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री श्री प्रकाश सिंह बादल जी का कुशलक्षेम जानने आज अस्पताल पहुँचा। प्रभु से उनके दीर्घायु एवं शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं।

प्रकाश सिंह बादल के बारे में .....

बतादें कि, प्रकाश सिंह बादल मौजूदा वक्त में पंजाब की राजनीति के 'पितामह' माने जाते हैं क्योंकि पंजाब की राजनीति में उन्होंने अपना एक अलग वर्चस्व तो कायम किया ही है साथ ही अब वह सबसे उम्रदराज नेता भी हैं| यहां तक की देश की सम्पूर्ण राजनीति में वह एक उम्रदराज नेता हैं| कहा जाता है कि, प्रकाश सिंह बादल ने 1947 के आसपास राजनीतिक जीवन में कदम रखा था| इसके बाद उन्होंने 1957 में पहली बार पंजाब विधानसभा चुनाव लड़ा और जीत दर्ज की|

बतादें कि, 1957 का चुनाव जीतने के अलावा 1969 से 2017 तक बादल ने लगातार राज्य विधानसभा के चुनाव में जीत हासिल की| इस बीच सिर्फ एक बार 1992 में वह राज्य विधानसभा के सदस्य नहीं रहे| बरहाल, प्रकाश सिंह बादल ने रिकॉर्ड 10 बार विधानसभा चुनाव जीता और रेकॉर्ड पांच बार (1970 से 1971, 1977 से 1980, 1997 से 2002, 2007 से 2017) वह पंजाब के मुख्यमंत्री रहे| इसके अलावा 28 मार्च 1977 से 19 जून 1977 तक प्रकाश सिंह बादल केंद्रीय मंत्री भी रहे| तत्कालीन प्रधानमंत्री मोरारजी देसाई की सरकार में बादल को केंद्रीय कृषि मंत्री बनाया गया था| आपको बतादें कि, भारत सरकार ने प्रकाश सिंह बादल को 2015 में दूसरे सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार पद्म विभूषण से सम्मानित किया था|

पांच बार मुख्यमंत्री रहे प्रकाश सिंह बादल की 2022 में हो गई करारी हार ....

प्रकाश सिंह बादल कितने भी सियासी दिग्गज रहे हों लेकिन 2022 के पंजाब विधानसभा चुनाव में वह अपनी परम्परागत लांबी सीट नहीं बचा पाए| 94 साल की उम्र में प्रकाश सिंह बादल ने कड़ा मुकाबला तो किया मगर आम आदमी पार्टी की लहर ने उन्हें करारी हार दे दी| पांच बार के मुख्यमंत्री रहे प्रकाश सिंह बादल को लांबी सीट( जिसे वह जीतते रहे) उसपर पहली बार हार का सामना करना पड़ा| बतादें कि, प्रकाश सिंह बादल के लांबी सीट से चुनाव लड़ने के चलते इस सीट की गिनती वीवीआईपी के साथ ही हॉट सीटों में होती है|