पंजाब के पूर्व फॉरेस्ट मिनिस्टर की बढ़ीं मुश्किलें: मोहाली कोर्ट से साधु सिंह धर्मसोत को इतने दिनों की रिमांड, पढ़िए खबर
Punjab Former Forest Minister Sadhu Singh Dharamsot On Remand

Punjab Former Forest Minister Sadhu Singh Dharamsot On Remand

पंजाब के पूर्व फॉरेस्ट मिनिस्टर की बढ़ीं मुश्किलें: मोहाली कोर्ट से साधु सिंह धर्मसोत को इतने दिनों की रिमांड, पढ़िए खबर

Punjab Former Forest Minister Sadhu Singh Dharamsot News: भ्रष्टाचार मामले में फंसे पंजाब के पूर्व फॉरेस्ट मिनिस्टर साधु सिंह धर्मसोत की मुश्किलें आने वाले दिनों और बढ़ने वालीं हैं| फिलहाल तो साधु सिंह को आज शाम मोहाली कोर्ट में पेश किया गया| विजिलेंस को मोहाली कोर्ट से साधु सिंह धर्मसोत की तीन दिन की रिमांड हासिल हुई है|  

विजिलेंस ब्यूरो ने सुबह तड़के किया गिरफ्तार ....

मिली जानकारी के अनुसार, विजिलेंस टीम ने आज मंगलवार सुबह तड़के साधु सिंह धर्मसोत के अमलोह स्थित आवास पर दस्तक दी थी और उन्हें गिरफ्तार कर लिया था| साधु सिंह धर्मसोत पर कांग्रेस की पूर्व सरकार में वन मंत्री रहते भ्रष्टाचार करने का आरोप है|

मोहाली के वन विभाग अधिकारी के गिरफ्तार होने पर हुआ खुलासा...

ध्यान रहे कि अभी पिछले दिनों मोहाली के एक वन विभाग अधिकारी गुरमनप्रीत सिंह और एक ठेकदार को विजिलेंस ब्यूरो ने भ्रष्टाचार के आरोप में गिरफ्तार किया था| बताते हैं कि, वन विभाग अधिकारी गुरमनप्रीत सिंह और ठेकदार से पूछताक्ष में पूर्व मंत्री साधु सिंह धर्मसोत का नाम सामने आया है|

बताया जाता है कि, साधु सिंह धर्मसोत पेड़ों की कटाई कमीशन लेते थे| उन्हें एक-एक पेड़ की कटाई पर कमीशन (रिपोर्ट के अनुसार एक पेड़ पर 500 रूपए) जाता था| साधु सिंह धर्मसोत के इशारों पर पेड़ों की अवैध कटाई और वसूली का काम खूब चलता था| इसके अलावा धर्मसोत पर विभाग में तबादला-पोस्टिंग को लेकर रिश्वत लेने का आरोप है|

नाभा से पांच बार विधायक रहे ...

बता दें कि, 62 साल के कांग्रेस नेता साधु सिंह धर्मसोत का राजनीति में कद काफी बड़ा है| वह पंजाब की नाभा विधानसभा सीट से पांच बार विधायक रह चुके हैं| इसके साथ ही वह पंजाब में कांग्रेस सरकार रहते वन और समाज कल्याण मंत्री भी रहे| साधु सिंह धर्मसोत ने 2022 में भी नाभा विधानसभा सीट से चुनाव लड़ा था लेकिन वह आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार गुरदेव सिंह मान से 51,554 मतों के बड़े अंतर से हार गए।

सीएम मान ने पहले ही कह रखी है यह बात .... अपने मंत्री तक को नहीं छोड़ा

बतादें कि, पंजाब में आम आदमी पार्टी की सरकार का नेतृत्व कर रहे सीएम भगवंत मान ने भ्रष्टाचार को लेकर पहले ही सख्त हिदायत जारी कर रखी है| सीएम मान बार-बार यह ऐलान करते नजर आ रहे हैं कि उनकी सरकार में अब भ्रष्टाचार और किसी भी प्रकार की लापरवाही को बर्दास्त नहीं किया जायेगा| हाल ही में अपने देखा होगा कि किस तरह से सीएम मान ने अपने मंत्रिमंडल के मंत्री विजय सिंगला को अपने विभाग में किसी भी काम पर कमीशन मांगने के आरोप में गिरफ्तार करवाकर जेल भिजवा दिया था| विजय सिंगला के पास पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री का ओहदा था|