Mewat

डीएसपी सुरेन्द्र सिंह हत्याकांड के विरोध में मेवात के तावड़ू में बाजार बंद,  देखें लोगों नेे कैसे निकाला गुस्सा

नूंह/मेवात। हरियाणा के तावडू में माइनिंग माफिया द्वारा डीएसपी सुरेन्द्र सिंह (DSP Surendra Singh's) की डंपर से कुचलकर हत्या की गई थी। इससे तावडू के लोगों में गुस्सा है। विरोध स्वरूप बुधवार सुबह से ही पूरे तावडू के बाजार बंद रखे गए। इसके साथ ही बड़ी संख्या में लोगों ने हत्याकांड के विरोध में शहर के अंदर मौन जुलूस भी निकाला। साथ ही लोग एसडीएम को ज्ञापन भी सौंपेंगे। जुलूस को देखते हुए पूरे तावडू शहर में पुलिस फोर्स तैनात की गई है। मौन जुलूस के दौरान लोगों ने हत्यारों को फांसी देने की मांग की।
 

दरअसल, डीएसपी की हत्या के बाद मंगलवार को ही पुरानी अनाज मंडी स्थित अग्रवाल धर्मशाला में पंचायत तावडू शहर व आसपास के दर्जनों गांव के लोगों ने इकट्ठे होकर घटना की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए आज शहर के बाजार पूरी तरह से बंद रखने का निर्णय लिया था। इसके चलते बुधवार सुबह से ही शहर में पूरी तरह से सन्नाटा पसरा है।
 

बंद के दौरान तावडू शहर में अस्पतालों को छोड़ कर सब कुछ बंद है। डीएसपी हत्या को लेकर लोगों में कितना गुस्सा है, इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि छोटी-छोटी दुकानों पर भी ताले लटके हुए हैं। तावडू चौक पर जहां फल फ्रूट आदि की रेहडय़िां लगती थीं और खासी चहल-पहल देखने को मिलती थी, वहां आज पूरी तरह से सन्नाटा पसरा है।

मौन जुलूस निकालने के लिए शहर में बड़ी संख्या में लोग एकत्रित हुए। शहर की पुरानी अनाज मंडी स्थित अग्रवाल धर्मशाला से मौन जुलूस शुरू हुआ, जिसमें बड़ी संख्या में लोगों के जुटे। मौन जुलूस पुरानी अनाज मंडी से नई अनाज मंडी तावडू स्थित एसडीएम कार्यालय तक जाएगा और जुलूस में शामिल लोग एसडीएम को ज्ञापन देकर मांग करेंगे कि आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाए और उन्हें सख्त से सख्त सजा दी जाए, ताकि भविष्य में फिर इस तरह की घटना न हो।

पुलिस फोर्स तैनात
बुधवार को वारदात के विरोध में बाजार बंद और मौन जुलूस में लोगों की भीड़ उमडऩे की संभावना के बीच पूरे शहर में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी की गई है। जगह-जगह पुलिस फोर्स तैनात की गई है, ताकि कोई अप्रिय घटना न हो। पुलिस के आला अधिकारी मामले पर नजर बनाए हुए हैं।