रिश्वत मामले के आरोप में फसे आईएएस के घर में लाइव जिंदा कारतूस बराम्मद
रिश्वत मामले के आरोप में फसे आईएएस के घर में लाइव जिंदा कारतूस बराम्मद

रिश्वत मामले के आरोप में फसे आईएएस के घर में लाइव जिंदा कारतूस बराम्मद

रिश्वत मामले के आरोप में फसे आईएएस के घर में लाइव जिंदा कारतूस बराम्मद

रंजीत शम्मी चंडीगढ़। पंजाब के मुख्यमंत्री की तरफ से भ्रष्टाचार के खिलाफ लगातार कार्रवाई जारी है वही रिश्वत मामले के आरोप में फंसे आईएएस आरोपी संजय पोपली के घर सेक्टर 11 स्थित मंगलवार को पंजाब विजिलेंस की टीम ने घर की सर्च की विजिलेंस टीम को सर्च के दौरान आईएएस के घर से 41 लाइव जिंदा कारतूस, 7.65 एमएम, दो लाइव कारतूस, .32 बोर, 30 कारतूस, .22 बोर घर से बरामद की गई जिसकी सूचना तुरंत थाना 11 पुलिस को दी गई पुलिस ने पंजाब विजिलेंस के इंस्पेक्टर की शिकायत पर आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है। 


क्या था मामला।

पंजाब के जिला नवांशहर में सीवरेज पाइप लाइन डालने के ठेके में 1 फ़ीसदी कमीशन की मांग करने के आरोप में 2008 बैच के आईएएस अधिकारी संजय पॉपली को पंजाब विजिलेंस की टीम ने गिरफ्तार किया था जानकारी के अनुसार हरियाणा के करनाल के रहने वाले शिकायतकर्ता कोऑपरेटिव सोसायटी लिमिटेड नाम की एक फर्म के साथ ठेकेदार है ने भ्रष्टाचार विरोधी हेल्पलाइन के द्वारा दर्ज करवाई गई शिकायत में कहा था कि पंजाब जल सप्लाई एंड सीवरेज बोर्ड के सीईओ आरोपी आईएएस ने अपने सहायक सचिव की मिलीभगत से करोड़ों रुपए के टेंडर क्लियर करने के लिए 7 लाख रुपए रिश्वत की मांग करने का आरोप लगा था वही मुख्यमंत्री पंजाब की तरफ से एंटी करप्शन हेल्पलाइन ने धूल खोलो पर पूरी तरह से शिकंजा कस रखा है भ्रष्टाचार पर जीरो टालरेस की नीति पर चल रही पंजाब की भगवंत मान सरकार ने थोड़े ही दिनों में  45 के करीब सरकारी अधिकारियों व कर्मचारियों और अन्य को रिश्वत के मामले में जेल की हवा खिलाई है। वहीं सरकार की तरफ से भ्रष्टाचार के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाने के लिए व्हाट्सएप आधारित एक भ्रष्टाचार विरोधी हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया है था। पुलिस की तरफ से अब तक 28 एफआईआर दर्ज की जा चुकी है।