himachal police recruitment paper leak case

Punjab CM

हिमाचल पुलिस भर्ती पेपर लीक मामला : अब सीबीआई करेगी जांच, मांगा रिकॉर्ड

HPP

himachal police recruitment paper leak case

Himachal police recruitment paper leak case : कांगड़ा। हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) पुलिस कांस्टेबल भर्ती पेपर लीक मामले (Police Constable recruitment paper leak case) की जांच अब सीबीआई (CBI) को सौंप दी गई है। सीबीआई ने पुलिस विभाग (Police Deparrtment) से केस संबंधी रिकॉर्ड (Case records) तलब किया है ताकि एफआईआर (FIR) दर्ज की जा सके। प्रदेश सरकार ने मामले की गंभीरता को देखते हुए सीबीआई से जांच करने का आग्रह किया था। सरकार के आग्रह को मानते हुए सीबीआई ने हिमाचल पुलिस को पत्र लिखकर कहा कि जिला कांगड़ा के गग्गल थाने और सीआईडी (CID) द्वारा दर्ज एफआईआर चार्जशीट (FIR Chargesheet) सहित अन्य जानकारियां उन्हें मुहैया करवाई जाएं। 

Two more accused arrested in the case, total 139 accused so far : मामले में दो आरोपी और गिरफ्तार, अब तक कुल 139 आरोपी 

मामले में 2 अन्य आरोपियों ने कांगड़ा कोर्ट में आत्मसमर्पण (surrender in court) किया है। आरोपियों से पुलिस पूछताछ के बाद जिला कांगड़ा (District Kangra) सहित प्रदेशभर में कई और गिरफ्तारियां हो सकती हैं। एक संस्थान में कोचिंग देने वाले विनीत कुमार निवासी शंकरपुर मुंगेर, बिहार और वेद प्रकाश निवासी रामबिग्ग कुंड बिहार पुलिस की वांटेड सूची में शामिल थे। दोनों ने भर्ती पेपर अभ्यर्थियों को बेचा था।

Kangra court sent the accused on remand for 5 days: कांगड़ा कोर्ट ने आरोपी को भेजा 5 दिन के रिमांड पर

पुलिस अधीक्षक एसएसपी डॉ. खुशहाल शर्मा (Superintendent of Police SSP Dr. Khushhal Sharma) ने बताया कि आरोपियों को कांगड़ा कोर्ट (Kangra Court) में पेश किया गया, जहां से अदालत ने उन्हें 5 दिन के पुलिस रिमांड (5 days police remand) पर भेज दिया गया। आरोपी एक संस्थान में कोचिंग देते थे और वहीं से उन्होंने पुलिस भर्ती का पेपर अभ्यर्थियों को बेचा था। शुक्रवार को उन्हें कांगड़ा में न्यायाधीश शिखा लखनपाल (Justice Shikha Lakhanpal) की अदालत में पेश किया गया।

Know the whole matter : जानिए पूरा मामला

हिमाचल पुलिस में कांस्टेबलों (Constables in Himachal Police) के 1334 पदों पर भर्ती (Recruitment on 1334 posts) के लिए प्रदेश के 81 केंद्रों में 27 मार्च को परीक्षा ली गई थी। 5 अप्रैल को परिणाम घोषित किया गया था। 5 मई को पेपर लीक होने का मामला सामने आया। 6 मई को मुख्यमंत्री ने परीक्षा रद्द करके पुलिस की विशेष जांच टीम को मामला सौंपा। इसके बाद जिला कांगड़ा में पुलिस ने 3 आरोपियों को गिरफ्तार (Police arrested 3 accused in Kangra) करके जांच को आगे बढ़ाया था। मामले में अभी तक 139 आरोपी गिरफ्तार (139 accused arrested) किए जा चुके हैं। इनमें से 22 अन्य राज्यों के हैं। केस के मास्टरमाइंड (case mastermind) को एक जून को बिहार से पकड़ा गया था। हिमाचल पुलिस मामले की जांच के बाद 2 चार्जशीट कोर्ट में दाखिल (2 charge sheet filed in court) कर चुकी है। पहली चार्जशीट 91 लोगों के खिलाफ और 61 लोगों के खिलाफ दायर की गई है। सीजेएम शिमला कोर्ट में दूसरी चार्जशीट 4 महीने पहले दायर की गई थी।

 

ये भी पढ़ें .....

 

 

 

ये भी पढ़ें ..... 

 

ये भी पढ़ें .....