गुरमीत राम रहीम एक महीने के पैरोल पर सुनारिया जेल से बाहर आया, हनीप्रीत के साथ बागपत डेरा गया
गुरमीत राम रहीम एक महीने के पैरोल पर सुनारिया जेल से बाहर आया

गुरमीत राम रहीम एक महीने के पैरोल पर सुनारिया जेल से बाहर आया, हनीप्रीत के साथ बागपत डेरा गया

गुरमीत राम रहीम एक महीने के पैरोल पर सुनारिया जेल से बाहर आया, हनीप्रीत के साथ बागपत डेरा गया

बागपत: हत्या और दुष्कर्म के मामले में सजा काट रहे डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को एक माह की पेरोल मिल गई है। खुद को मैसेंजर ऑफ गॉड बताने वाले गुरमीत राम रहीम अब एक माह तक बागपत के बरनावा आश्रम में रहेंगे। इस बीच उनके आश्रम की सुरक्षा व्यवस्था को और भी कड़ा कर दिया गया है। रोहतक जेल से पैरोल मिलने के बाद गुरमीत राम रहीम ने बरनावा आश्रम में रहने की मांग की थी। जिसके बाद बिनौली थाना क्षेत्र अंतर्गत इस आश्रम की सुरक्षा को बढ़ा दिया गया है। उनके खिलाफ बागपत में कोई भी मामला फिलहाल नहीं है। 

बागपत डेरा सच्चा सौदा के बाहर बढ़ाई गई सुरक्षा
रोहतक की सुनारिया जेल से कड़ी सुरक्षा के भीतर बाहर आए गुरमीत राम रहीम बागपत के डेरा सच्चा सौदा आश्रम पहुंचे। इस बीच थाना बिनौली इंस्पेक्टर की ओर से जानकारी दी गई कि गुरमीत पेरोल पर बरनावा पहुंच चुके हैं। उनके आने की सूचना मिलने के साथ ही आश्रम की सुरक्षा को बढ़ा दिया गया है। वहीं गुरमीत के आश्रम पहुंचने के बाद उनके अनुयायियों की खुशी का ठिकाना नहीं है। गुरमीत को जेल से लेने के लिए उनके चचेरे भाई चरणजीत और हनीप्रीत पहुंची हुई थी। उनके साथ ही राम रहीम बागपत के लिए रवाना हो गए। 

कानून व्यवस्था को लेकर अलर्ट दिखी पुलिस 
गुरमीत के सुनारिया जेल से बाहर आने के बाद बागपत पहुंचने तक किसी को भी उनके आने की भनक नहीं लगी। इस बीच कानून व्यवस्था के मद्देनजर पहले ही पुलिस एलर्ट दिखी और आश्रम के बाहर की सुरक्षा को बढ़ा दिया गया। गुरमीत की ओर से 40 दिनों की पैरोल मांगी गई थी जिसमें से उन्हें 30 दिन की पैरोल मिली है। वहीं पेरोल पर ही सही लेकिन गुरमीत राम रहीम के जेल से बाहर आने के बाद उनके समर्थकों में खासा उत्साह दिखाई पड़ रहा है। माना जा रहा है कि राम रहीम के जेल से बाहर आने के बाद उनकी पैरोल के दौरान कई समर्थक मुलाकात के लिए बागपत पहुंच सकते हैं। हालांकि उनकी मुलाकात हो पाएगी या नहीं उसको लेकर कोई सूचना नहीं है।