Priyanka Gandhi in Chandigarh- चंडीगढ़ में प्रियंका गांधी की जनसभा; बेरोजगारी-महंगाई को लेकर मोदी पर जमकर गरजीं
BREAKING
जोशी ने गांव बड़ी करौर में रेत माफिया के हमले में घायल लोगों का कुशल-क्षेम जाना एमटीवी स्प्लिट्सविला एक्स 5 - एक्सयूज़ मी प्लीज़ के प्रतियोगी लक्ष्य, उन्नति और दिग्विजय राठी चंडीगढ़ में अपने फैन्स से मिले!* चंडीगढ़ प्रशासन द्वारा गांव रायपुर खुर्द में चलाई जा रही अवैध निर्माण पर कार्रवाई का स्थानीय लोगों द्वारा जबरदस्त विरोध केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद का यूपी में एक्सीडेंट; अपने संसदीय क्षेत्र के दौरे पर निकले थे, तेज रफ्तार गाड़ी ने पीछे से मारी कार में टक्कर गुजरात के स्कूल में खौफनाक हादसा; क्लासरूम में लंच कर रहे थे बच्चे, अचानक गिर पड़ी दीवार, वीडियो में कैद पूरा मंजर देखिए

चंडीगढ़ में प्रियंका बोलीं; खटाखट-खटाखट मोदी को रास्ता दिखा दें: बेरोजगारी-महंगाई को लेकर PM पर सीधा अटैक, पवन बंसल साथ दिखे

Priyanka Gandhi Direct Attack On PM Modi In Chandigarh

Congress Leader Priyanka Gandhi Direct Attack On PM Modi In Chandigarh

Priyanka Gandhi in Chandigarh: लोकसभा चुनाव-2024 के अंतिम सातवें चरण में 1 जून को चंडीगढ़ में भी वोटिंग होनी है। जहां ऐसे में यहां नेताओं की सक्रियता तेज हो गई है और चुनावी पारा बढ़ रहा है। रविवार को कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी चंडीगढ़ पहुंची और यहां सेक्टर-27 स्थित रामलीला ग्राउंड में लोकसभा उम्मीदवार मनीष तिवारी के समर्थन में जनसभा (Priyanka Gandhi JanSabha Chandigarh) को संबोधित किया। इस दौरान प्रियंका के साथ मंच पर पूर्व सांसद पवन कुमार बंसल भी देखे गए। इससे पहले बंसल पार्टी के आयोजनों में नहीं देखे जा रहे थे। मनीष तिवारी को टिकट मिलने के बाद बंसल की नाराजगी की बात सामने आ रही थी।

हालांकि, प्रियंका की जनसभा में बंसल ने मंच पर संबोधन भी दिया और तिवारी को शुभकामनाएं भी दीं। इसके साथ ही बीजेपी पर हमला भी बोला। वहीं बंसल के अलावा प्रियंका गांधी चंडीगढ़ से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर बरसीं। प्रियंका ने करीब 35 मिनट से ज्यादा का भाषण दिया और इसमें उन्होंने कई बार मोदी का नाम लेकर सीधा हमला बोला। प्रियंका ने लोगों से खटाखट-खटाखट मोदी को रास्ता दिखाने को कहा। वहीं प्रियंका किन मुद्दों को लेकर पीएम मोदी पर गरजीं। आइये जानते हैं।

प्रियंका गांधी ने सबसे पहले तो चंडीगढ़ शहर के बारे में अपनी बात रखी। प्रियंका ने कहा- ये वो शहर है, जिसको पंडित नेहरू ने एक बार लोकतंत्र का प्रतीक कहा था। ये वो शहर है जिसकी तरह शायद ही और कोई शहर दुनिया में हो. प्रियंका ने कहा कि इस शहर की प्लानिंग विदेश के बहुत बड़े आर्कीटेक्ट ने की थी। ये शहर आज भी फूलता है, फलता है। यह शहर देश का एक बड़ा केंद्र है, जहां से देश को दिशा दिखाई जाती है।

आज बेरोजगारी सबसे बड़ा मुद्दा

वहीं प्रियंका ने कहा कि देश में आज सबसे बड़ा मुद्दा बेरोजगारी का है। पीएम मोदी के 10 साल कार्यकाल में लोगों को बेरोजगारी ही मिली है। प्रियंका ने कहा- आज शिक्षित होने के बावजूद युवाओं को नौकरी नहीं मिल रही है। लेकिन फिर भी पीएम मोदी इस मुद्दे पर कभी नहीं बोलते। उनके भाषणों में कभी उनके मुंह से ये शब्द सुनने को नहीं मिलता।

45 सालों में कभी इतनी बेरोजगारी नहीं रही

प्रियंका ने कहा कि आज देश में सबसे ज्यादा बेरोजगारी है, 45 सालों में कभी इतनी बेरोजगारी नहीं रही। हमारे देश में 70 करोड़ नौजवान बेरोजगार घूम रहे हैं और फिर भी 30 लाख सरकारी पद खाली पड़े हैं। किस लिए खाली पड़े हैं, ये पीएम मोदी से पूछिये। क्या ये पद शायद अडानी और अंबानी के लिए भरे जाएंगे। लेकिन वो तो दो लोग हैं, ऐसे में वो 30 लाख पद तो नहीं भर सकते। तो आखिर ये पद किसके लिए खाली रखे गए हैं?

अंधभक्तों के लिए भर लेते तो ही अच्छा होता

प्रियंका गांधी ने इस बीच पीएम मोदी और बीजेपी पर आंख मूंदकर और मुंह बंद करके भरोसा करने वाले समर्थकों पर भी करारा हमला बोला। प्रियंका ने कहा कि खाली पड़े 30 लाख पद अंधभक्तों के लिए ही वे भर लेते तो ही अच्छा होता। लेकिन हालत यह है कि आज अंधभक्त भी बेरोजगार घूम रहे हैं। उन्हें भी पीएम मोदी के 10 साल के कार्यकाल में नौकरी नहीं मिल पाई है।

महंगाई दूसरा सबसे बड़ा मुद्दा

प्रियंका ने कहा कि बेरोजगारी के बाद देश का सबसे बड़ा मुद्दा महंगाई है लेकिन पीएम मोदी इस पर भी कभी बात नहीं करते। प्रियंका ने कहा जबसे प्रचार शुरू हुआ है उन्होंने एक बार भी महंगाई की बात नहीं की। महंगाई बढ्ने से महिलाओं को घर चलाने में परेशानी उठानी पड़ रही है। वे दुकान जाती हैं तो इतनी महंगाई है कि वे क्या ही सामान लें पायें। प्रियंका ने कहा कि जब 400 रुपये में सिलेंडर था तब बीजेपी ने सड़क पर उतरकर हो हल्ला काटा था कि बहुत महंगा सिलेन्डर है लेकिन आज सिलेन्डर की कीमत देख लीजिये कितनी ज्यादा है लेकिन बीजेपी और पीएम मोदी की इस पर अब बोलती बंद हो रखी है।

कुछ नहीं करना था तो महंगाई ही कम कर लेते

प्रियंका गांधी ने आगे कहा कि अगर पीएम मोदी को अपने 10 साल के कार्यकाल में और कुछ नहीं करना था तो कम से कम महंगाई तो कम कर लेते। आज पेट्रोल-डीजल के दाम आसमान छू रहे हैं। प्रियंका ने कहा कि घर से राशन-पानी से लेकर सब कुछ महंगा है। शिक्षा महंगी हो रखी है। लोग कैसे फीस भरें। स्वास्थ्य सेवाएं इतनी महंगी हैं। जब कोई घर में बीमार पड़ता है तो घबराहट होने लगती है कि कैसे इलाज कराएंगे।

महिलाओं के सशक्तिकरण की झूठी बात करते हैं पीएम मोदी

प्रियंका ने कहा कि, पीएम मोदी महिलाओं के सशक्तिकरण की बात करते हैं, उन्हें आरक्षण देने की बात करते हैं, उनकी सुरक्षा की बात करते हैं लेकिन जब महिलाओं पर अत्याचार होता है तो एक शब्द नहीं बोलते। अपना मुंह फेर लेते हैं। या फिर जिसने अत्याचार किया है, उसकी रक्षा करते हैं। प्रियंका ने कहा हाथरस, उन्नाव, मणिपुर और कर्नाटक के मामले में पीएम मोदी कुछ नहीं बोले। कर्नाटक में तो हद ही हो गई, यहां 200 महिलाओं का आरोपी पीएम मोदी के साथ मंच पर आकर उनके लिए वोट मांग रहा था।

किसान आज कमा नहीं पा रहा, मोदी को फिक्र नहीं

प्रियंका ने कहा कि, आज किसान खेती से कमा नहीं पा रहा है। उसकी कमाई खत्म हो गई है। खेती के हर सामान पर जीएसटी लगा दी गई है। जिससे हर सामान महंगा हो गया है। किसानों को खाद समय पर नहीं मिलता, फिर नुकसान होता है तो उन्हें भुगतान नहीं मिलता। सब कुछ इतना महंगा हो गया है कि किसान करे तो करे क्या?

1 लाख या 50 हजार रुपये के लिए किसान आत्महत्या कर रहा

प्रियंका ने कहा कि, आज किसान 1 लाख या 50 हजार रुपये के लिए आत्महत्या कर रहा है। क्योंकि वह कर्जे में डूब जाता है और उसका कर्जा माफ नहीं किया जाता। लेकिन वहीं पीएम मोदी अरबपतियों का कर्जा माफ कर देते हैं। प्रियंका ने कहा कि पीएम मोदी ने 22 अरबपतियों का 16 लाख करोड़ कर्जा माफ किया है लेकिन उनसे किसानों का कर्ज माफ नहीं किया जाता। प्रियंका ने कहा कि, पीएम मोदी किसानों की समस्या पर मुंह बंद कर लेते हैं। वह कभी खेतों में नहीं जाते। वे किसानों का कष्ट नहीं जानना चाहते।

प्रियंका ने कहा कि, पीएम मोदी कभी किसी गरीब के घर नहीं जाते, किसी मजदूर से यह नहीं पूछते कि तुम्हें दिहाड़ी कितनी मिलती है। पीएम मोदी को ये नहीं पता कि जब किसी मजदूर को दो-तीन दिनों दिहाड़ी नहीं मिलती है तो वह भूखा सोता है। प्रियंका ने कहा कि, पीएम मोदी ने लोगों का तो विकास नहीं किया लेकिन उनके कार्यकाल में आज बीजेपी दुनिया की सबसे अमीर पार्टी बन गई है।

केवल हिन्दू-मुस्लिम की बात करते हैं पीएम मोदी

प्रियंका ने कहा कि, सभी जरूरी और मूलभूत मुद्दों को छोड़कर पीएम मोदी सिर्फ हिन्दू-मुस्लिम की बात करते हैं। प्रियंका ने जनता से पूछा कि आखिर इस मुद्दे पर आप कितने चुनाव पीएम मोदी को जिताएंगे। आपने इसी मुद्दे पर बीजेपी को 2 चुनाव जिताए, अब तीसरा आया है, तो क्या मन है?

प्रियंका ने कहा कि, वे कहते हैं कि काँग्रेस हिन्दू विरोधी है। लेकिन काँग्रेस पार्टी के सबसे बड़े नेता महात्मा गांधी थे। वे आजादी के भी सबसे बड़े नेता थे। महात्मा गांधी ने श्रीमद् भागवत गीता से प्रेरित होकर सत्य और अहिंसा के आधार पर आंदोलन चलाया। महात्मा गांधी ने हिन्दू धर्म की हजारों साल पुरानी सीखों से सीख ली और वह अहिंसा पर चले। प्रियंका ने कहा कि, हमारे हिन्दू धर्म के आधार पर प्रेम और ईमानदारी पर आजादी का आंदोलन चला। इसके बाद जब महात्मा गांधी को गोली मारी गई, तब भी उनके मुंह श्री राम का नाम निकला।

मंगलसूत्र, भैंसे ले जाने की बात करते हैं पीएम मोदी

प्रियंका ने कहा कि, पीएम मोदी आज कल काँग्रेस के घोषणापत्र को लेकर न जाने क्या-क्या बाते कर रहे हैं। वे कहते हैं कि, हम सत्ता आने के बाद लोगों के घरों में एक्सरे मशीन लेकर घुसेंगे और लोगों के मंगलसूत्र ले जाएँगे। उनकी संपत्ति छीन लेंगे। और तो और अगर लोगों के पास दो भैंसे हुईं तो एक छीन ले जाएँगे। इस बीच प्रियंका ने मजाक-मज़ाक में कहा कि, चंडीगढ़ वालों भैंसे हैं आपके पास। अगर हैं तो उन्हें संभाल लीजिये, अब मैं आ गई हूँ। एक ले जाऊँगी।

धर्म की राजनीति को रोकिए

प्रियंका ने लोगों से कहा कि, उन्हें आज देश की राजनीति को सही दिशा दिखानी होगी। जो भी संविधान को कुचलने और खत्म करने की बात करता है उसे दिल्ली से निकाल दीजिए। धर्म की राजनीति रोकिए। क्योंकि इससे सिर्फ फायदा नेताओं को ही होता है। इससे नेताओं को आसानी से सत्ता मिल जाती है। इससे जवाबदेही घटती है। इससे नेता के दिल में ये बात आ जाती है कि मैं 5 साल काम करूँ या न करूँ। चुनाव में धर्म की बात कर लूँगा। वोट आ जाएगा। नेताओं में ये बहुत बुरी आदत है। ये आदत ठीक कराओ। ये आदत आपने पिछले 10 सालों से डाल दी है। नेताओं को टोकना सीखो।