CM Inagurates and lays : मुख्यमंत्री ने बल्ह विधानसभा क्षेत्र में 54.56 करोड़ रुपये लागत की विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किए
CM Inagurates and lays

मुख्यमंत्री ने बल्ह विधानसभा क्षेत्र में 54.56 करोड़ रुपये लागत की विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण

मुख्यमंत्री ने बल्ह विधानसभा क्षेत्र में 54.56 करोड़ रुपये लागत की विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किए

CM Inagurates and lays: शिमला। मुख्यमंत्री ने कंसा मैदान में प्रगतिशील हिमाचलः स्थापना के 75 वर्ष समारोह की अध्यक्षता की। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज बल्ह विधानसभा क्षेत्र के कंसा मैदान में हिमाचल प्रदेश के गठन के 75 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में आयोजित समारोह की अध्यक्षता की। इस मौके पर उन्होंने बल्ह विधानसभा क्षेत्र में 54.56 करोड़ रुपये लागत की विभिन्न विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किए।


मुख्यमंत्री ने 4.31 करोड़ रुपये की लागत से स्तरोन्नत लूणापानी से सैण सड़क, 1.17 करोड़ रुपये की लागत से पैड़ी से धड़वाहन सड़क, 92 लाख रुपये की लागत से उठाऊ सिंचाई योजना गाती नागचला की रि-मॉडलिग, नगर पंचायत रिवालसर में 11.29 करोड़ रुपये की लागत से रिवालसर शहर के लिए उठाऊ जलापूर्ति योजना का लोकार्पण तथा नेरचौक में विद्युत मंडल कार्यालय का शुभारम्भ किया। 


उन्होंने 21.04 करोड़ रुपये लागत से जरलू में बनने वाली फल एवं सब्जी उप-मंडी, 8.32 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले सकरोहा नैना माता मंदिर-पीपली-नदौल-कौसाला-मलवाणा सड़क, 6.01 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाली लखवाण-डहणू-वनशोट-रठोल-अन्दरेटा-मैरामसीत सड़क तथा 1.50 करोड़ रुपये की लागत की ग्राम पंचायत कसारला में बधौण गांव तथा आसपास के क्षेत्रों के लिए जलापूर्ति योजनाओं के स्रोत संवर्धन का शिलान्यास किया। 

मुख्यमंत्री ने बल्ह विधानसभा क्षेत्र में 54.56 करोड़ रुपये लागत की विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किए
मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि बल्ह विधानसभा क्षेत्र में गत साढ़े चार वर्षों के दौरान नेरचौक में अटल चिकित्सा विश्वविद्यालय खोला गया और बल्ह क्षेत्र में 11 करोड़ रुपये से लघु सचिवालय का निर्माण किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि 5 करोड़ रुपये की लागत से राजकीय महाविद्यालय रिवालसर का भवन निर्मित किया गया है तथा क्षेत्र में सड़कों व पुलों आदि के निर्माण पर लगभग 101 करोड़ रुपए व्यय किए गए हैं।  


उन्होंने कहा कि 9.11 करोड़ रुपये की लागत से आमला गलू-गडयातर सड़क, 5 करोड़ रुपये की लागत से गलमा खड्ड पर पुल तथा 3 करोड़ रुपये की लागत से रोपड़ी-खुडडी सड़क निर्मित की गई। उन्होंने कहा कि एक करोड़ रुपये की लागत से रिवालसर में विद्युत उप मंडल भवन का निर्माण किया गया है। उन्होंने कहा कि सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रिवालसर को नागरिक अस्पताल का दर्जा दिया गया है तथा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र गागल को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में स्तरोन्नत किया गया है। उन्होंने कहा कि जल जीवन मिशन के अंतर्गत बल्ह विधानसभा क्षेत्र में 18 पेयजल एवं 7 अन्य योजनाओं पर 179.44 करोड़ रुपये व्यय किए गए हैं। 


मुख्यमंत्री ने कहा कि 16.31 करोड़ रुपये के व्यय से मिल्क प्रोसेसिंग प्लांट चक्कर का निर्माण किया गया हैं। बागवानी क्षेत्र में 2.25 करोड़ रुपये का उपदान प्रदान किया गया तथा उद्योग क्षेत्र में 25.68 करोड़ रुपये के ऋण व उपदान प्रदान किए गए हैं। उन्होंने कहा कि बल्ह क्षेत्र में लगभग 11,000 करोड़ रुपये की लागत से ग्रीन फील्ड हवाई अड्डे का निर्माण किया जाएगा। इसके बनने से पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा और रोजगार के अवसर सृजित होंगे। 


उन्होंने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार के कार्यकाल में राज्य का चहुंमुखी और अभूतपूर्व विकास हुआ है। उन्होंने कहा कि जन समस्याओं के समाधान के लिए राज्य सरकार के महत्वकांक्षी कार्यक्रम जनमंच में 55,249 शिकायतों का निपटारा किया गया तथा मुख्यमंत्री सेवा संकल्प हेल्पलाइन के माध्यम से 4,21,586 शिकायतों की सुनवाई की गई। सामाजिक सुरक्षा पेंशन के अन्तर्गत 3052 करोड़ रुपये खर्च कर 7,20,514 पात्र व्यक्तियों को लाभान्वित किया जा रहा है। 

मुख्यमंत्री ने बल्ह विधानसभा क्षेत्र में 54.56 करोड़ रुपये लागत की विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किए
उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री हिमकेयर योजना के अंतर्गत 285.35 करोड़ रुपये व्यय कर 3.08 लाख लाभार्थियों को लाभान्वित किया गया है तथा मुख्यमंत्री सहारा योजना के अन्तर्गत 80 करोड़ रुपये व्यय कर 20,000 जरूरतमंदों को लाभ प्रदान किया गया। मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना के तहत 721 करोड़ रुपये के निवेश से 4377 योजनाएं कार्यान्वित की गई तथा इसके तहत 200 करोड़ रुपये का उपदान प्रदान किया गया। प्राकृतिक खेती खुशहाल किसान योजना के अन्तर्गत लगभग 58 करोड़ रुपये व्यय कर 1,71,063 किसानों को लाभान्वित किया गया हैं। 


जय राम ठाकुर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का हिमाचल और यहां के लोगों से विशेष लगाव है। केन्द्र सरकार की उदार वित्तीय सहायता से हिमाचल प्रदेश हर क्षेत्र में तेजी से प्रगति के पथ पर आगे बढ़ा है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा कार्यान्वित की जा रही अनेक योजनाओं केे सफल क्रियान्वयन से प्रदेश का सर्वांगींण विकास सुनिश्चित हुआ है। 


मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना महामारी के दौरान राज्य सरकार ने प्रदेश में विकास की गति को बाधित नहीं होने दिया और जरूरतमंदों को हर संभव सहायता उपलब्ध करवाई गई। उन्होंने राज्य की स्थापना से लेकर अब तक प्रदेश में हुए विकास कार्यों की विस्तृत जानकारी देते हुए कहा कि हिमाचल प्रदेश देश भर में मॉडल राज्य के रूप में उभरा है। उन्होंने कहा कि भाजपा जनता के सहयोग से पुनः सत्तासीन होकर खुशहाली और प्रगति के नए आयाम स्थापित करेगी।
 
बल्ह के विधायक इन्द्र सिंह गांधी ने बल्ह क्षेत्र में किए गए करोड़ांे रुपयों की विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास तथा घाटी में हुए विकास कार्यों के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया।इस अवसर पर हिमाचल प्रदेश की 75 वर्ष की गौरवशाली यात्रा पर निर्मित वृत्तचित्र भी प्रदर्शित किया गया। हिमाचल प्रदेश का गठन होने से लेकर अब तक हुए विकास कार्यों की प्रदर्शनी भी लगाई गई।


सुंदरनगर के विधायक राकेश जम्वाल, नाचन के विधायक विनोद कुमार, मिल्क फेडरेशन के अध्यक्ष निहाल चंद शर्मा, जिला परिषद मंडी के अध्यक्ष पाल वर्मा, उपायुक्त मंडी अरिंदम चौधरी, पुलिस अधीक्षक शालिनी अग्निहोत्री और अन्य गणमान्य व्यक्ति इस अवसर पर उपस्थित थे।