Congress President Reddys : नगर परिषद के कांग्रेस प्रधान रेड्डी की जमानत याचिका मंजूर, मिली राहत
Congress President Reddys

Congress President Reddys

नगर परिषद के कांग्रेस प्रधान रेड्डी की जमानत याचिका मंजूर, मिली राहत

मारपीट और एससी एसटी एक्ट के तहत 21 अगस्त से ज्यूडिशियल रिमांड पर जेल में बंद डेराबस्सी नगर परिषद के कांग्रेस प्रधान रणजीत सिंह रेड्डी की जमानत याचिका मंगलवार को हाईकोर्ट में मंजूर हो गई। प्रधान के साथ पार्षद के आरोपी बेटे वरुण शर्मा की अग्रिम जमानत मंजूर होने से उनकी गिरफ्तारी पर भी रोक लग गई है जबकि पार्षद के पति भूपेंद्र शर्मा की जमानत याचिका पर सुनवाई अगले हफ्ते तय होगी। इससे पहले 30 अगस्त को जिला एवं सेशन कोर्ट में नगर प्रधान और पार्षद पति की जमानत एप्लीकेशन रिजेक्ट हो गई थी। 

प्रधान के खिलाफ मामले याचिका पर सुनवाई जस्टिस जेएस पुरी की अदालत में हुई। यहां प्रधान की तरफ से पूर्व एडवोकेट जनरल अमरप्रीत सिंह देओल ने सरकारी वकील के साथ जिरह की जबकि डेराबस्सी थाना प्रभारी भी कोर्ट में पेश हुए। एडवोकेट दीपिंदर ढिल्लों के अनुसार कोर्ट में एक बार फिर उक्त मामले को राजनीतिक बदलाखोरी से प्रेरित बताया गया जिसमें प्रधान के खिलाफ मेरिट में पुलिस अफसर कुछ पेश नहीं कर सके। उन्होंने बताया कि माननीय कोर्ट ने रणजीत रेड्डी कि जहां जमानत मंजूर कर ली है वही पार्षद के बेटे वरुण शर्मा की गिरफ्तारी पर रोक लगाते हुए उसकी एंटीसिपेटरी बेल भी मंजूर कर ली गई है। भूपेंद्र शर्मा की जमानत के लिए भी फाइल दायर हो चुकी है जिस पर सुनवाई अगले हफ्ते होने के आसार हैं। हालांकि प्रधान की बेल मंजूर हो चुकी है परंतु कोर्ट के ऑर्डर डेराबस्सी में इलाका मजिस्ट्रेट पर पहुंचाए जाएंगे जहां से जेल के लिए रिलीज ऑर्डर ईमेल होंगे। इसमें बुधवार तक का समय लगेगा यानी बुधवार को ही नगर प्रधान रणजीत रेड्डी जेल से रिहा  हो पाएंगे। 

यह पढ़ें - डेराबस्सी से 3 बच्चे हुए लापता, घर से जन्मदिन की पार्टी के लिए निकले थे

बदलाखोरी न रुकी तो सड़कों पर उतरेगी कांग्रेस: ढिल्लों 

दीपेंद्र ढिल्लों ने कहा कि आम आदमी पार्टी की सरकार ने राजनीतिक बदलाखोरी के तहत तशद्दत  की सारी हदें पार कर दी हैं। झूठे मामलों में कांग्रेस नेताओं को फंसाने की कोशिश हो रही है। कईयों पर दबाव बनाया जा रहा है, कईयों के घर पर जानबूझकर पुलिस भेजकर उन्हें प्रताड़ित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि यदि यह सिलसिला नहीं रुका तो प्रदेश कांग्रेस की पूरी लीडरशिप  सड़कों पर उतर कर जाम लगाते हुए व तगड़ा रोष प्रदर्शन तक करेगी। 

जिक्रयोग्य है कि पुलिस ने वार्ड 14 के पार्षद एवं नगर प्रधान रणजीत सिंह रेड्डी, वार्ड 9 की पार्षद के पति भूपेंद्र शर्मा, उनके बेटे वरुण शर्मा और उनके तीन चार अज्ञात साथियों के खिलाफ आईपीसी 323, 341, 506 और एससी/एसटी एक्ट 1989 की धारा 3 के तहत केस दर्ज किया है। इनमें से नगर प्रधान रेड्डी और भूपेंद्र शर्मा को 20 अगस्त को गिरफ्तार कर लिया गया था। 
डेराबस्सी008 : डेराबस्सी नगर परिषद प्रधान रणजीत रेड्डी की पुरानी तस्वीर।