नेताओं के बन रहे जेल यात्रा के योग: पंडित शशिपाल डोगरा
नेताओं के बन रहे जेल यात्रा के योग: पंडित शशिपाल डोगरा

नेताओं के बन रहे जेल यात्रा के योग: पंडित शशिपाल डोगरा

नेताओं के बन रहे जेल यात्रा के योग: पंडित शशिपाल डोगरा

अप्रत्याशित होंगे चुनाव परिणाम, युवाओं की होगी बल्ले-बल्ले

विवेक अग्रवाल 

शिमला। जानेमाने अंक गंतज्ञ व वशिष्ठ ज्योतिष सदन के अध्यक्ष पंडित शशिपाल डोगरा ने हिमाचल प्रदेश में किसी बड़े राजनीतिक हलचल के संकेत की भविष्यवाणी की है।
उनके मुताबिक आने वाला समय किसी राजनीतिक दल के लिए संकट वाला सिद्ध हो सकता है। पंडित डोगरा ने बताया कि 24 फरवरी 2022 को देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने जा रहा है। अंक गणना के अनुसार 24=2+4=6 अंक जो शुक्र का कारक है। शुक्र स्त्री कारक। चंद्र अंक 2 व 4 अंक राहु का है जोकि मन को विचलित करता है। पंडित डोगरा कहते हैं कि पांच राज्यों में होने वाले चुनाव को लेकर समीकरण बिगड़ने के संकेत है।2+4+2+2+0+2+2=14, =1+4=5 अंक बुद्ध का अंक है। बुद्ध युवा का कारक है।युवाओं के लिए शुभ संकेत देता है। इस बार चुनाव में युवा काफी जीतकर आ सकते हैं। पंडित डोगरा के कहा कि 2022 वर्ष का होने वाला पहला चुनाव जिस का 2+0+2+2=6 अंक बनता है, जोकि शुक्र का अंक है। शुक्र स्त्रियों का कारक है। महिलाओं के कारण चुनाव में बड़े नेताओं को झटका लग सकता है। इसी के चलते बड़े नेता तक संकट में पड़ सकते हैं। कुछ तो चुनाव भी हार सकते हैं। पांच राज्यों में होने वाले चुनाव में गुरु का अस्त होना कोई शुभ संकेत नहीं है। पंडित डोगरा ने कहा कि परिणाम चौकाने वाले होंगे। जिसकी कल्पना नहीं की होगी वो जीत जाएंगे। चुनावी रैलियों की भीड़ एक भ्रम साबित होगा। जनता के मन को विचलित कर सकता है। जनता में धर्म के प्रति आस्था बढ़ सकती है। नेता लोग धर्म का सहारा ज्यादा लेंगे। पंडित डोगरा के कहा कि देव गुरू के अस्त होने के कारण लोगों में वाणी पर भी संयम नहीं रहेगा। कुछ नेताओं का भ्रम भी टूटेगा। कुछ नेता तो हारने के बाद कोमा में जा सकते हैं। पंडित डोगरा ने भविष्यवाणी की है कि लोगों को चुनाव के बाद महंगाई की मार झेलनी पड़ेगी। कुछ नेताओं को जनता की मार खानी पड़ेगी। राजनीती के चाणक्य बनने वाले नेताओं का भविष्य संकट में होगा। कुछ नेताओं को जेल यात्रा का योग है। बाकि तो सर्वज्ञ ईश्वर है।