ब्रेकिंग न्यूज़
Home » breaking news » नए साल पर दमकल अधिकारियों को मिला डीडीओ पावर का तोहफा
नए साल पर दमकल अधिकारियों को मिला डीडीओ पावर का तोहफा

नए साल पर दमकल अधिकारियों को मिला डीडीओ पावर का तोहफा

चंडीगढ। अग्निशमन सेवाओं के एकीकरण की ओर बढ रही हरियाणा सरकार ने दमकल केंद्र पर समय पर भुगतान नहीं होने की समस्या का समाधान कर दिया है। नए साल में मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने जिला स्तर पर दमकल अधिकारियों को आदान-प्रदान एवं संवितरण अधिकारी (डीडीओ) की शक्ति प्रदान करके बडा तोहफा दिया है। शिक्षा विभाग के बाद अब नवगठित अग्निशमन निदेशालय में इस बदलाव कर्मचारियों की परेशानियां खत्म हो जाएंगी।
आज यहां जारी बयान में शहरी स्थानीय निकाय मंत्री कविता जैन बताया कि प्रदेश में अग्निशमन निदेशालय का गठन करने के बाद से ही सरकार अग्निशमन सेवाओं को एक छत के नीचे लाने के लिए लगातार काम कर रही है। प्रदेश में पालिकाओं के माध्यम से 59 दमकल केंद्र पर 555 तथा मार्किट कमेटियों में 19 दमकल केंद्रों पर 89 दमकल अधिकारी, कर्मचारी कार्यरत हैं। अब तक पालिकाओं तथा मार्किट कमेटियों द्वारा दमकल अमलों एवं गाडियों के रखरखाव का पूरा खर्चा वहन किया जाता था। सेवाओं के एकीकरण होने के चलते और अधिकारी, कर्मचारियों के वेतन तथा दमकल गाडियों के रखरखाव एवं ईंधन के संबंध में सरकार द्वारा खर्चा वहन किया जाना है। इस संबंध में विभाग द्वारा जिला स्तर पर दमकल केंद्र अधिकारी (अराजपत्रित) को आदान-प्रदान एवं संवितरण अधिकारी (डीडीओ) शक्ति प्रदान करने का प्रस्ताव तैयार किया गया था, जिसे मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने अनुमति प्रदान कर दी है।
मंत्री कविता जैन ने बताया कि अग्निशमन निदेशालय को सशक्त करने के लिए अग्निशमन प्रशिक्षण केंद्र एवं विभिन्न 69 दमकल केंद्रों के लिए 2779 पद सृजित किए जा चुके हैं। पालिकाओं और मार्किट कमेटियों में कार्यरत अग्निशमन अधिकारी, कर्मचारियों को समायोजित करने उपरांत बाकी पद सीधी भर्ती के माध्यम से भरने के लिए हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग तथा हरियाणा लोकसेवा आयोग को मांगपत्र भेजे जा चुके हैं। उन्होंने बताया कि अग्निशमन सेवाओं को सशक्त करने के लिए वर्ष 2017-18 में 16.87 करोड रूपए तथा वित्त वर्ष 2018-19 में 65.95 करोड रूपए की मांग की गई है। इससे अग्निशमन सेवाओं को एक छत के नीचे लाते हुए संसाधन दुरूस्त किए जाएंगे, ताकि हादसे अथवा आपदा की स्थिति में उनका बेहतर उपयोग हो सके।

इन जिलों के दमकल केंद्र अधिकारियों को मिलेगी शक्ति-
उन्होंने बताया कि पंचकुला, अंबाला, कुरूक्षेत्र, करनाल, पानीपत, सोनीपत, गुरूग्राम, नूंह, फरीदाबाद, रेवाडी, महेंद्रगढ, चरखी दादरी, भिवानी, रोहतक, हिसार, सिरसा, जींद, कैथल, यमुनानगर, फतेहाबाद, झज्जर एवं पलवल के दमकल केंद्र अधिकारी को शक्ति प्रदान की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Share