explosion of firecrackers: Pilibhit में घर में अवैध रूप से जमा किए पटाखों में विस्‍फोट से तीन बहनों की मौत, दो मंजिला मकान ढहा
explosion of firecrackers: Pilibhit में घर में अवैध रूप से जमा किए पटाखों में विस्‍फोट से तीन बहनों की मौत

explosion of firecrackers: Pilibhit में घर में अवैध रूप से जमा किए पटाखों में विस्‍फोट से तीन बहनों

explosion of firecrackers: Pilibhit में घर में अवैध रूप से जमा किए पटाखों में विस्‍फोट से तीन बहनों की मौत, दो मंजिला मकान ढहा

explosion of firecrackers: पीलीभीत (Pilibhit) में घर में रखी आतिशबाजी में आग लगने से हुए ब्लास्ट के कारण दो मंजिला मकान भर-भराकर गिर (Building Collapsed) गया. हादसे में तीन सगी बहनें मकान के मलबे में दब गईं. पटाखों के धमाके की आवाज से इलाके में हड़कंप मच गया. वहीं सूचना पर पहुंची पुलिस और दमकल की गाड़ियों ने कई घंटों की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया.  मलबे में दबी तीनों बहनों को निकाल लिया गया है और उनकी हालत गंभीर है. उन्हें जिला अस्पता भर्ती कराया गया है. 

explosion of firecrackers: पटाखा बनाने के दौरान हुआ हादसा

थाना जहानाबाद क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली जोश टोला में मिर्जा नाम के शख्स पटाखे का कारोबार करते हैं. मंगलवार को वह किसी काम से बाहर गए हुए थे. इस दौरान उनकी बेटियां नगमा, सानिया और निशा पटाखा बना रही थी. उसी दौरान पास के रहने वाले लोगों को तेज से धमाके की आवाज सुनाई दी. इसके बाद लोग दौड़कर मकान पर पहुंचे तो देखा दो मंजिला मकान के भीतर से चीख पुकार की आवाज आ रही थी.  कुछ देर बाद दो मंजिला मकान धमाकों की आवाज से जमींदोज हो गया. सूचना पर पहुंची पुलिस ने आनन-फानन में मलबे के नीचे दबी तीनों बहनों को निकालकर जिला अस्पताल भर्ती कराया जहां उनकी हालत को गंभीर बताते हुए चिकित्सकों ने उन्हें बरेली हायर सेंटर रेफर कर दिया. मामले की जानकारी के बाद पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार प्रभु पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और घटना की जांच पड़ताल शुरू कर दी है.

explosion of firecrackers: धमाके से हिला पड़ोसियों का भी घर

जिला अस्पताल के डॉक्टर ने बताया कि दोनों बहने लगभग 90 फीसदी जल चुकी हैं जिनको बरेली हायर सेंटर रेफर किया गया है. दोनों की हालत नाजुक बनी हुई है. गांव की ही महिला चश्मदीद समा ने बताया, ' बहुत तेज धमाकों की आवाज हुई और पड़ोसी का मकान पूरी तरह से भरभरा कर गिर गया. जब तक मैं वहां पहुंची तब तक घर में काम कर रही लड़कियां मलबे में दब गई थीं. जिसके बाद गांव के लोगों की भीड़ जमा हो गई. मेरी समझ में नहीं आया कि मैं क्या कर सकती हूं. मेरा घर भी पूरी तरह से हिल गया. उसके बाद पुलिस ने आसपास के मकानों को खाली भी कराया. '

एसएसपी दिनेश कुमार ने बताया कि घर में आतिशबाजी का काम होता है. पटाखे की पेटी रखी हुई थी. अचानक उसमें विस्फोट हो गया. मकान ढह गया जिसमें तीन  बहनें जल गईं.  उनको निकाला जा चुका है. फॉरेंसिक टीम मौके की जांच करेगी.