Home » उत्तर प्रदेश » कांच उद्योग को प्रोत्साहन देने के लिए उठाया गया ये बड़ा कदम

कांच उद्योग को प्रोत्साहन देने के लिए उठाया गया ये बड़ा कदम

लखनऊ। आबकारी विभाग ने कोरोना सेस लागू करने के साथ ही आबकारी नीति में संशोधन के तहत कांच उद्योग को प्रोत्साहन देने का फैसला लिया है। जिसके कारण आज से शराब की बोतल के दाम में दस से 40 रुपए की बढ़ोतरी होगी।

उत्तर प्रदेश में मंगलवार शाम से जाम टकराना और महंगा हो गया है। प्रदेश के आबकारी विभाग ने कोरोना सेस लागू कर दिया है। इसके साथ ही आबकारी नीति में संशोधन किया है। जिसके कारण शराब की बोतल दस से 40 रुपए महंगी हो गई है। प्रदेश में कोरोना सेस लगने के साथ ही अब शराब को कांच की बोतलों में ही पैक कराकर बेचने का निर्देश है। इस प्रस्ताव को  कैबिनेट की बैठक में भी हरी झंडी मिली थी। देशी के साथ ही अब विदेशी शराब की कांच की बोतलों में ही बेची जाएगी। जिससे प्रदेश के कांच उद्योग को प्रोत्साहन मिलेगा। देशी के साथ ही विदेशी शराब को कांच की 90 एमएम की बोतलों में पैक किया जाएगा। जिसके कारण इनके दाम में दस से 40 रुपए प्रति बोतल इजाफा हो गया है।

योगी आदित्यनाथ सरकार ने प्रदेश का राजस्व बढ़ाने के लिए यह निर्णय लिया है। इसके तहत अब शराब खरीदे वाले को प्रति बोतल दस से 40 रुपया अधिक देना होगा। देशी शराब की बोतल पर दस रुपया बढ़ाया गया है। जबकि विदेशी शराब की बोतल पर 40 रुपए की वृद्धि की गई है। इसका आदेश अपर मुख्य सचिव आबकारी संजय आर भूसरेड्डी ने जारी किया है।

प्रदेश में अब देशी के साथ ही विदेशी शराब की आपूर्ति ट्रैटा पैक के स्थान पर कांच की बोतल में की जाएगी। जिससे इसके दाम में दस रुपया बढ़ाया गया है। प्रीमियम ब्रांड की 90 एमएल बोतल के दाम में दस रुपया और सुपर प्रीमियम ब्रांड की बोतल में 20 रुपया बढ़ाया गया है। स्कॉच की बोतल के दाम में 30 रुपया और इंपोर्टेड शराब के दाम में 90 एमएल की बोतल में दाम 40 रुपया बढ़ाया गया है।

आबकारी विभाग का कहना है कि शराब महंगी होने की सूचना पूर्णता भ्रामक एवं गलत है। कल कैबिनेट ने जो निर्णय लिया है वह केवल यूपी में प्रथम बार जो 90 एमएल की बोतल विक्रय के लिए अनुमति दी गई है उसके ऊपर अनुपातिक को कोविड सेस का निर्धारण किया गया।  इसके तहत 750 एमएल की बोतल पर 60 रुपया, 375 एमएल पर 40 रुपया एवं 180 एमएल 20 रुपया का कोविड सेस पहले निर्धारित किया गया था, उसी अनुपात में प्रथम बार जो 90 एमएल की बोतल विक्रय करने की अनुमति प्रदान की गई, उस पर 10 रुपया का अनुपातिक कोविड सेस निर्धारित किया गया। ना तो शराब के दाम बढ़े हैं और ना घटे है।

 

Check Also

Soon Purvanchal Expressway will be inaugurated

जल्द होगा पूर्वांचल एक्सप्रेसवे का लोकार्पण

एक्सप्रेसवे के निर्माण का 95 प्रतिशत से अधिक कार्य पूर्ण कर लिया Soon Purvanchal Expressway …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Share
See our YouTube Channel