The Market For 700 Shops : 700 दुकानों के लिए मार्केट में केवल एक शौचालय, महिला ग्राहकों को होती बहुत परेशानी
The Market For 700 Shops

700 दुकानों के लिए मार्केट में केवल एक शौचालय, महिला ग्राहकों को होती बहुत परेशानी

700 दुकानों के लिए मार्केट में केवल एक शौचालय, महिला ग्राहकों को होती बहुत परेशानी

- हर साल देते लाखों रुपये का टैक्स, पंरतु सहुलत के नाम पर हालत बद से बदतर

अर्थ प्रकाश, करमजीत परवाना । मनीमाजरा।  700 दुकान और एक शौचालय, मार्केट की मुख्य सड़क टूटी हुई , जगह जगह कूड़े के ढेर , पार्किंग के नाम पर सड़क का हिस्सा , कोरोना को लेकर लागू गाइडलाइन की अनदेखी, यह नजारा मनीमाजरा टाउन की मार्केट का । यह कहना है समाजसेवी रामेश्वर गिर‌ी का । इस मौके पर उनके साथ मनीमाजरा व्यापार मंडल के अन्य सदस्य भी मौजूद रहे। उन्होंने समस्याओं पर चर्चा करते हुए कहा कि मार्केट की समस्या को व्यापारी नगर निगम से लेकर प्रशासन के अधिकारियों और सांसद को मिल चुके है और इसे हल करने की मांग भी की। पंरतु सालों से उनकी समस्या जस की तस है। व्यापारियों का कहना है कि वो प्रशासन को हर साल लाखों रुपये टैक्स के रूप में अदा करते है फिर भी उनके साथ सौतला व्यहवार होता आया है। इन समस्याओं की वजह से जहां कारोबार पर असर पड़ता है वहीं बाहर से आने वाले लोगों में चंडीगढ़ के ऐतिहासिक शहर मनीमाजरा की छवि भी खराब होती है।

मैं पिछले 30 साल से मार्केट में व्यापार कर रहा हूं। इस मार्केट में शुरू से सहूलियतों का अभाव रहा है। समय समय पर व्यापारी की समस्याओं लेकर मैं खुद सालों से अधिकारियों से लेकर नेताओं और सांसदों को मिलकर इस इलाके की समस्याओं के हल के लिए मांग कर चुका हुं। परंतु हर बार हमें केवल आश्वासन ही मिला । हालांकि इसके बावजूद हमने हार नहीं मानी । हमने लोकल लेवल पर ही मार्केट में खुद ही काम करवाए। फिर भी अभी मार्केट में कई ऐसे काम है जो सालों से लंबित पड़े है। हमारी अधिकारियों से मांग है क‌ि इस ऐतिहासिक शहर की छवि को खराब होने से पहले इन समस्याओं का हल कर दें ।
रामेश्वर गिरी

700 दुकानों के लिए मार्केट में केवल एक शौचालय, महिला ग्राहकों को होती बहुत परेशानी

व्यापारी और समाजसेवी

मार्केट में 700 दुकान है और यह मार्केट करीब दो किलोमीटर तक फैली हुई है। बावजूद इसके इस पुरी मार्केट में दुकानदारों और ग्राहकों के लिए केवल एक ही शौचालय है । जिससे दुकानदारों से लेकर ग्राहकों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। इसमें सबसे ज्यादा परेशानी महिला ग्राहकों को होती है। अगर किसी महिला को लघुशंका के लिए जाना पड़ जाए तो उसे लंबा रास्ता तय कर शौचालय जाना पड़ता है। कई बार तो शौचालय इतने गंदे होते है कि कोरोना के डर के मारे में शौचालय भी नहीं जाती। हमने कई बार अधिकारियों से मांग की है कि इलाके में सात सौ दुकानदारों के लिए एक शौचालय कम है।

700 दुकानों के लिए मार्केट में केवल एक शौचालय, महिला ग्राहकों को होती बहुत परेशानी

शाम सिंह 
व्यापारी

हर मार्केट वार्ड नंबर 25 और वार्ड-26 दोनों में आती है,। इन दोनों के वार्डो के पार्षद डिप्टी मेयर भी रह चुके हैं। बावजूद इसके किसी भी पार्षद ने हमारी समस्याओं की ओर ध्यान नहीं दिया था। करीब दो साल पहले रेलवे अंडर ब्रिज का उद्घाटन सांसद किरण खेर ने किया था। उस समय उन्होंने कहा था कि वो शहर में मनीमाजरा में विकास के कार्यो की ओर ज्यादा ध्यान दे रही हैं। उन्होंने यह भी कहा था कि वो खुद समय समय पर आकर मनीमाजरा के व्यापारियों से मिलकर उनकी समस्याओं को देखेंगी। परंतु उसके बाद न तो किरण खेर आई और न ही उनका कोई नुमाइंदा मनीमाजरा आया। हम व्यापारियों की समस्याओं का हल आज तक किसी भी नेता ने नहीं किया।

700 दुकानों के लिए मार्केट में केवल एक शौचालय, महिला ग्राहकों को होती बहुत परेशानी

बुआ सिंह
व्यापारी

इस कोरोना काल में प्रशासन ने जो कोरोना को लेकर गाइडलाइन जारी की । अगर प्रशासन के अधिकारी आ कर मार्केट का हाल देखे तो उन्हें पता चले कि अभी कुछ महीने पहले किसी काम के लिए विभाग द्वारा सड़क की खुदाई करवाई। काम समाप्त होनें के बाद ठेकेदार के करींदों द्वारा सड़क को मिट्टी से भर कर बंद कर दिया गया। यहीं नहीं पूरी सड़क पर मिट्टी का ढेर बना रहा। बार बार कहने के बाद मलबा तो उठा लिया गया। परंतु सड़क की मरम्मत नहीं की गई। जिसके चलते रोजाना टूटी सड़क की मिट्टी उड़कर दुकानों के अंदर रखे सामान पर जम जाती है। इससे कोरोना की गाइडलाइन की अनदेखी तो हो रही है। साथ में दुकानदारी भी खराब हो रही है।

700 दुकानों के लिए मार्केट में केवल एक शौचालय, महिला ग्राहकों को होती बहुत परेशानी

 सुभाष बंसल
वार्ड प्रधान व व्यापारी