29 मई को कुरुक्षेत्र में होने वाली रैली मौजूदा गठबंधन सरकार के खिलाफ एक धर्मयुद्ध का ऐलान होगी: योगेशवर शर्मा
29 मई को कुरुक्षेत्र में होने वाली रैली मौजूदा गठबंधन सरकार के खिलाफ एक धर्मयुद्ध का ऐलान होगी:योगेशवर शर्मा

29 मई को कुरुक्षेत्र में होने वाली रैली मौजूदा गठबंधन सरकार के खिलाफ एक धर्मयुद्ध का ऐलान होगी: योगे

29 मई को कुरुक्षेत्र में होने वाली रैली मौजूदा गठबंधन सरकार के खिलाफ एक धर्मयुद्ध का ऐलान होगी: योगेशवर शर्मा

कहा: रैल्ी में आने वाला हर एक सख्श इस सरकार को बदलने के आप के संकल्प का भागीदार बनकर वहां से जाएगा

पंचकूला,21 मई। आम आदमी पार्टी उत्तरी हरियाणा जोन के सचिव योगेश्वर शर्मा का कहना है कि 29 मई को कुरुक्षेत्र में होने वाली पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल की रैली मौजूदा गठबंधन सरकार के खिलाफ एक धर्मयुद्ध का ऐलान होगी। उनका कहना है कि कुरुक्षेत्र की पावन धरती पर केजरीवाल द्वारा उस दिन बदलेगा हरियाणा का आगाज किया जाएगा जोकि आने वाले दिनों में राज्य के प्रत्येक कोने में आमजन तक पहुंचेगा। उस दिन के बाद राज्य का हर एक आम आदमी इस सरकार को बदलने के आप के संकल्प का भागीदार बनकर वहां से जाएगा। और इसका असर राज्य में होने वाले हर एक छोअे बउ़े चुनाव में देखने को मिलेगा।

आज यहां जारी एक ब्यान में शर्मा ने दावा किया कि पंचकूला जिले से दस हजार से भी ज्यादा लोग इस रैली में भाग लेने के लिए जाएंगे। पार्टी नेताओं की ओर से इसके लिए विशेष तौर पर प्रबंध किये जा रहे हैं। पार्टी नेता व कार्यकर्ता अपने अपने इलाके में जहां जहां उनकी डयूटियां लगी हुई हैं पूरे जोर शोर से लोगों को इस रैली में शामिल होने के लिए निमंत्रण दे रहे हैं। उन्होंने दावा किया कि इस रैली को लेकर आमजन में काफी जोश है और लोग अरविंद केजरीवाल को सुनने और उन्हें अपना मन देने के लिए कि वे उनके साथ हैं,खास तौर पर इस रैली में भाग लेने जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश के लोग मौजूदा भाजपा-जजपा गइबंधन की सरकार से तो तंग आ ही चुके हैं, वे पिछली कांग्रेस और इनेलो के  शासनकाल को भी दोबारा से देखना नहीं चाहते।  सभी दलों ने अपने अपने फायदे के लिए प्रदेश में कभी जाति पाति तो कभी क्षेत्रवाद के नाम पर लोगों को लूटने का ही काम किया है।

आप नेता योगेश्वर शर्मा ेने कहा कि चुनावों से पहले भाजपा और जजपा ने आमजन से पढ़े लिखे बेरोजगार युवाओं को रोजगार देने का वायदा किया था तो किसान की आमदन दुगुनी करने की बात कही थी। प्रदेश से भ्रष्टाचार और अपराध व माफियाराज  खत्म करने की बात कही थी। मगर हुआ क्या? इसके उल्ट प्रदेश में बेरोजगारी इतनी बढ़ी कि यह प्रदेश बेरोजगारी,भ्रष्टाचार और अपराध में तो नंबर एक बन ही गया, साथ ही कामकाजी लोगों को भी बेरोजगार करने में भी किसी तरह से पीछे नहीं रहा। उन्होंने कहा कि रोजगार देना तो दूर की बात रोजगार मुहैया करवाने के लिए यह सरकार इन बीते तीन सालों में कोई बड़ा उद्योग तक नहीं लगवा पाई। उल्टे कई उद्योग तो तालाबंदी का शिकार हो गये। सही माहौल न मिलने की वजह से कोई भी बड़ी कं पनी यहां अपनी युनिट लगाने को तैयार नहीं है। भर्तियों के मामले में भी इस सरकार के शासनकाल में कई बड़े बड़़े घोटाले हुए। भर्तियों के लिए ली जाने वाली परीक्षाओं के पेपर ही लीक हो जाने की वजह से परीक्षाएं रद्द करनी पड़ी। उन्होंने कहा कि दिल्ली की सरकार ने वहां अपने नागरिकों को अच्छे स्कूल, अच्छी स्वास्थ्य सुविधा मुहैया करवाने के साथ साथ बिजली पानी की भी निशुल्क सेवा प्रदान की है। आम आदमी पार्टी का यह दिल्ली मॉडल और अब पंजाब में शुरु हुआ विकास सबको भा रहा है और लोग हरियाणा में भी ऐसा ही विकास होता देखना चाहते हैं।