Reiterates The Commitment : राज्य निवासियों को सुचारू सुविधाएं देने के लिए पंजाब सरकार की प्रतिबद्धता दोहराई
Reiterates The Commitment

राज्य निवासियों को सुचारू सुविधाएं देने के लिए पंजाब सरकार की प्रतिबद्धता दोहराई

राज्य निवासियों को सुचारू सुविधाएं देने के लिए पंजाब सरकार की प्रतिबद्धता दोहराई

चंडीगढ़, 28 अगस्त: मुख्यमंत्री भगवंत मान द्वारा दी गईं हिदायतों के अनुसार जल आपूर्ति एवं स्वच्छता, जल संसाधन एवं स्थानीय सरकार संबंधी विभागों में बेहतर आपसी तालमेल को लेकर जल आपूर्ति एवं स्वच्छता मंत्री ब्रम शंकर जिम्पा ने तीनों विभागों के उच्च अधिकारियों के साथ एक अहम बैठक की। उन्होंने कहा कि इन विभागों के बीच सुचारू आपसी तालमेल के स्वरूप राज्य निवासियों को बेहतर सुविधाएं दी जा सकती हैं और इस मकसद के लिए भगवंत मान के नेतृत्व वाली सरकार पूरी तरह से प्रतिबद्ध है।  


जिम्पा ने इन विभागों के अधिकारियों को तालमेल के साथ काम करके प्रस्तावित प्रोजैक्टों को समय पर पूरा करने की हिदायतें दीं। उन्होंने कहा कि पंजाब के बहुत से इलाकों में कई प्रोजैक्ट दो विभागों में तालमेल की कमी के कारण लेट हो जाते हैं, जबकि आपसी तालमेल से ऐसे काम आसानी से पूरे किए जा सकते हैं। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि आपसी तालमेल से काम किए जाएँ, जिससे विभागों के तालमेल की कमी का खामियाज़ा लोगों को न भुगतना पड़े।  


कैबिनेट मंत्री ने पंजाब में चल रहे 15 पीने योग्य नहरी पानी की आपूर्ति सम्बन्धी प्रोजैक्टों के ढांचे को तुरंत मुकम्मल करने के निर्देश भी दिए। उन्होंने बताया कि अमृतसर, तरन तारन, गुरदासपुर, पटियाला, फतेहगढ़ साहिब, फाजिल्का और फिऱोज़पुर जिलों के लगभग 1700 गाँवों को इन प्रोजैक्टों के द्वारा पीने योग्य नहरी पानी मिलेगा।  


उन्होंने हिदायतें दीं कि पीने योग्य पानी साफ़ और अच्छी क्वालिटी का हो। पानी की टैंकियों की समय पर सफ़ाई की जाए। पानी की सैंपलिंग और टेस्टिंग की व्यवस्था समय-समय पर की जाती रहे। उन्होंने कहा कि राज्य के जिन इलाकों में पानी पीने योग्य नहीं है, वहाँ तुरंत आर.ओ लगाए जाएँ। उन्होंने बताया कि कई आर्सेनिक प्रभावित इलाकों में आई.आई.टी. मद्रास की मदद से आर्सेनिक-कम-आयरन रिमूवल प्लांट शुरू किए जा रहे हैं, जिससे लोग शुद्ध पानी पी सकें।  


जिम्पा ने जल संसाधन विभाग के अधिकारियों को नूरपुर बेदी के नज़दीक सतलुज नदी से टैपिंग प्वाइंट को अंतिम रूप देने की हिदायत भी की। यह प्रस्तावित प्रोजैक्ट होशियारपुर शहर और गढ़शंकर और माहिलपुर ब्लॉकों के अलावा कंडी/बीत क्षेत्र के 350 गाँवों को पीने योग्य सतही पानी की आपूर्ति सुनिश्चित बनाएगा। उन्होंने कहा कि सभी होशियारपुर जि़ले को सतही पानी की आपूर्ति के साथ जोड़ा जाएगा।  


जल आपूर्ति एवं स्वच्छता मंत्री ने मुख्यमंत्री भगवंत मान के राज्य के हर घर को टोंटी वाला पीने योग्य पानी मुहैया करवाने के सपने को साकार करने के लिए अधिकारियों को सख़्त मेहनत करने के साथ-साथ सरकारी योजनाओं को समय पर पूरा करके लागू करने के लिए भी कहा।

 
जिम्पा ने स्थानीय सरकार विभाग के अधिकारियों को शहरी क्षेत्रों में बनाए जा रहे 59 एस.टी.पीज. में पास के गाँवों के गंदे पानी को साफ करने की संभावनाएं तलाशने के भी निर्देश दिए। इसके अलावा उन्होंने शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों की ठोस एवं तरल अवशेष के प्रबंधन सम्बन्धी ज़रूरतों के बारे में प्रयास करने के निर्देश भी दिए।