Sidhu Moose Wala: हत्याकांड से जुड़े संदिग्ध 'आतंकी गिरोह' को लेकर NIA ने दिल्ली समेत कई जगहों पर की छापेमारी
Sidhu Moose Wala

Sidhu Moose Wala: हत्याकांड से जुड़े संदिग्ध 'आतंकी गिरोह' को लेकर NIA ने दिल्ली समेत कई जगहों पर की

Sidhu Moose Wala: हत्याकांड से जुड़े संदिग्ध 'आतंकी गिरोह' को लेकर NIA ने दिल्ली समेत कई जगहों पर की छापेमारी

नई दिल्लीः Sidhu Moose Wala: राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या से जुड़े संदिग्ध आतंकी गिरोहों के संबंध में दिल्ली, एनसीआर, हरियाणा और पंजाब में विभिन्न स्थानों पर तलाशी ले रही है. सूत्रों के जरिए मिली जानकारी के अनुसार राष्ट्रीय जांच एजेंसी के 160 अधिकारी इस छापेमार कार्रवाई को अंजाम दे रहे हैं. दिल्ली, एनसीआर, हरियाणा और पंजाब में 60 से अधिक ठिकानों की तलाशी ली जा रही है.


दो दिन पहले सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल छठे और आखिरी शूटर दीपक मुंडी को उसके 2 साथियों सहित नेपाल से पकड़ा गया था. पंजाब पुलिस के डीजीपी गौरव यादव ने कल प्रेस काॅन्फ्रेंस कर इस गिरफ्तारी और मूसेवाला की हत्या के संबंध में कुछ जानकारियों साझा की थीं. उसके एक दिन बाद एनआईए हरकत में आई है.

डीजीपी ने प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए बताया कि नेपाल से दीपक मुंडी, राजिंदर जोकर और कपिल पंडित को पकड़ा गया है. दीपक मुंडी सिद्धू मूसेवाला की हत्या करने वाले 6 शूटरों में से एक है. वह नेपाल से फर्जी पासपोर्ट के जरिए दुबई भागने की फिराक में था, क्योंकि उसे वहां सेटल करने का आश्वासन दिया गया था. उन्होंने बताया कि सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड की अब तक की जांच में 23 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है, 35 लोगों को नामजद किया गया है, जबकि 2 आरोपी शूटर एनकाउंटर में मारे जा चुके हैं. गौरतलब है कि पंजाब के मानसा जिले के जवाहरके गांव में 29 मई, 2022 को सिद्धू मूसेवाला की हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी.

यह घटना पंजाब की आम आदमी पार्टी सरकार के आदेश पर पुलिस द्वारा 424 अन्य लोगों की सुरक्षा वापस लेने या कम करने के एक दिन बाद हुई थी. गायक मूसेवाला पिछले साल दिसंबर में पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस पार्टी में शामिल हुए थे. इस हत्याकांड के तार तिहाड़ जेल में बंद गैंगस्टर लाॅरेंस बिश्नोई से जुड़े. कनाडा में बैठे बिश्नोई गैंग के सदस्य गोल्डी बरार ने एक फेसबुक पोस्ट, बाद में वीडियो मैसेज जारी कर इस हत्याकांड की जिम्मेदारी ली थी. कुछ दिन पहले ही मूसेवाला की हत्या के मुख्य साजिशकर्ताओं में शामिल सचिन बिश्नोई को अजरबैजान में गिरफ्तार किया गया था. बताया जा रहा है कि रिश्ते में वह लाॅरेंस बिश्नोई का भांजा लगता है.

भाजपा-कांग्रेस ने की थी मूसेवाला हत्याकांड की जांच केंद्रीय एजेंसी से कराने की मांग

भारतीय जनता पार्टी के नेता मनजिन्दर सिंह सिरसा ने कुछ दिन पहले कहा था कि अगर पंजाब सरकार सिफारिश करती है, तो केन्द्र सरकार गायक सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड की जांच एनआईए से करवा सकती है. कांग्रेस पहले से ही इस मामले की जांच एनआईए से करवाने की मांग कर रही थी. प्रताप सिंह बाजवा ने पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान को इस बारे में पत्र लिखकर कहा था, ‘मूसेवाला हत्याकांड की जांच केन्द्रीय जांच ब्यूरो और राष्ट्रीय जांच एजेंसी से करानी चाहिए, ताकि पीड़ित परिवार को जल्द न्याय मिल सके.’ हालांकि, पंजाब सरकार ने अभी तक एनआईए को सिफारिश करने को लेकर कोई फैसला नहीं लिया है.