Mahatma Gandhi's statue vandalized in Bathinda, took away his head
Mahatma Gandhi's statue vandalized in Bathinda, took away his head

Mahatma Gandhi's statue vandalized in Bathinda, took away his head

बठिंडा में महात्मा गांधी की प्रतिमा तोड़ी, सिर साथ ले गए

बठिंडा। पंजाब के बठिंडा की रामामंडी में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का अपमान हुआ है। शरारती तत्वों ने गांधी पार्क में लगी महात्मा गांधी की प्रतिमा को पूरी तरह तोड़ दिया। प्रतिमा का सिर भी धड़ से अलग कर साथ ले गए। शरारती तत्वों के खिलाफ लोगों में रोष है। प्रतिमा तोड़े जाने की सूचना के बाद बड़ी संख्या में लोग पार्क में जुटे। बाद में पुलिस ने भी मौके पर पहुंच कर छानबीन शुरू की। कहा जा रहा है कि कुछ लोग शहर का माहौल खराब करने का प्रयास कर रहे हैं।

बताया गया है कि रामामंडी में म्यूनिसिपल पार्क में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा लगी हुई थी। आस पास के लोग सुबह शाम जहां पार्क में सेर करने के लए आते हैं, वहीं बच्चे खेलने के लिए यहां आते हैं। लोग सुबह पार्क में आए तो यह देख कर हतप्रभ रह गए कि राष्ट्रपिता की प्रतिमा को किसी ने तोड़ दिया है। प्रतिमा का सिर गायब था। प्रतिमा के हाथ पांव भी तोड़े गए। असामाजिक तत्वों ने महात्मा गांधी की प्रतिमा को पूरी तरह से खंडित कर दिया।

राष्ट्रपिता की प्रतिमा तोड़े जाने की सूचना मिलते ही थाना रामा मंडी के एसएचओ हरजोत सिंह मान पुलिस कर्मियों के सहित मौके पर पहुंचे। पुलिस ने आसपास के पूरे क्षेत्र में जांच की। फिलहाल प्रतिमा के सिर का कहीं पता नहीं चला। बताया गया कि शरारती तत्व उसे अपने साथ ले गए हैं। पुलिस शरारती तत्वों की तलाश कर रही है।

एसएचओ हरजोत सिंह मान ने कहा कि घटना बेहद दुखद है। देश को आजादी दिलाने वाले राष्ट्रपिता की प्रतिमा के साथ ऐसा व्यवहार शोभनीय नहीं है। असामाजिक तत्वों की इसके पीछे क्या मंशा है, पुलिस इसका पता लगा रही है। अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। पार्क के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज की जांच की जा रही है और जल्द ही शरारती तत्वों तक पहुंच जाएंगे।

बठिंडा शहरी कांग्रेस के अध्यक्ष अशोक कुमार सिंगला ने कहा कि राज्य में आप की सरकार बनने के बाद जहां आपराधिक मामलों में इजाफा हुआ है। वहां पुलिस प्रशासन और सरकार के बीच कोई डर नहीं है। शरारती तत्व शहर में आए दिन चोरी-डकैती की घटनाएं अंजाम दे रहे हैं। राष्ट्रपिता का ऐसा अपमान सहन नहीं किया जा सकता।

उन्होंने प्रशासन और सरकार से इस घटना के लिए जिम्मेदार दोषियों को गिरफ्तार कर सख्त कार्रवाई करने की मांग की। पुलिस प्रमुख ने लोगों को शांति बनाए रखने और दोषियों को जल्द गिरफ्तार करने का आश्वासन दिया। पुलिस अपराधियों की पहचान के लिए शहर में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाल रही है।