Historical significance of '15th September'
Historical significance of '15th September'

Historical significance of '15th September'

‘15 सितंबर’ का ऐतिहासिक महत्व

प्रत्येक दिन विश्व में कुछ न कुछ ऐसा होता है जो की एक महत्वपूर्ण इतिहास (Important History) बन जाता है जैसे, खेल जगत में रिकॉर्ड बनना, किसी प्रसिद्द व्यक्ति का जन्म व् मृत्यु, आज के दिन के महत्वपूर्ण दिवस, विज्ञान में अविष्कार, आदि । भारत (India) और विश्व (World) में आज के दिन बहुत सी ऐसी प्रमुख ऐतिहासिक घटनायें (Historical Events) हुई जिनका जिक्र आज भी इतिहास (History) के पन्नो में किया गया है । 

1812- नेपोलियन के नेतृत्व में फ्रांसीसी सेना मास्को के क्रैमलिन पहुंची।

1860- भारतीय इंजीनियर, विद्वान राजनेता और मैसूर राज्य के दीवान रहे विश्वेश्वरैया का जन्म।

1876- प्रख्यात लेखक शरतचंद्र चट्टोपाध्याय का जन्म।

1894- प्योंगयांग की लड़ाई में जापान ने चीन को करारी मात दी।

1916- प्रथम विश्व युद्ध में पहली बार सोम्मे की लड़ाई में टैंक का इस्तेमाल किया गया। 1948- स्वतंत्र भारत का पहला ध्वजपोत आईएनएस-दिल्ली बंबई(अब मुंबई) के बंदरगाह पर पहुंचा।

1959- भारत की राष्ट्रीय प्रसारण सेवा दूरदर्शन की शुरुआत हुई।

1971- हरी-भरी और शांति पूर्ण दुनिया के निर्माण के लिए प्रतिबद्ध ग्रीन पीस की स्थापना की गई।

1981 - वानुअतु संयुक्त राष्ट्र संघ का सदस्य बना।

2000 - सिडनी में 27वें ओलम्पिक खेलों का शुभारम्भ।

2001 - अमेरिकी सीनेट ने राष्ट्रपति को अफ़ग़ानिस्तान पर सैनिक कार्रवाई की मंजूरी दी।

2002 - न्यूयार्क में संयुक्त राष्ट्र महासभा की बैठक के अवसर पर भारत, चीन एवं रूस के विदेश मंत्रियों की बैठक आयोजित, थाईलैंड के सट्टाहिम में श्रीलंका सरकार व लिट्टे के बीच सीधी वार्ता शुरू।

2003 - सिंगापुर के मुद्दे पर विकासशील देशों के भड़क उठने से डब्ल्यूटीओ वार्ता विफल।

2004 - ब्रिटिश नागरिक गुरिंदर चड्ढा को ‘वूमैन आफ़ द ईयर’ सम्मान।

2008 - क्राम्पटन गीब्स ने अमेरिका की एमएसआई ग्रुप कंपनी का अधिग्रहण किया।

2009 - बेंगलुरु के मुंदिर शिवराजी ने सब जूनियर बिलियर्ड्स का ख़िताब जीता।

2009-पेनसुला फाउंडेशन के चेयरमैन सुब्रतो चटोपाध्याय 2009-10 के लिए ‘आडिट ब्यूरो ऑफ सर्कुलेशन’ के अध्यक्ष चुने गये।

2017- कासीनी अंतरिक्ष यान शनि के उपग्रह टाइटन से टकरा गया।

2018- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के 18 बड़े शहरों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए15 सितम्बर से दो अक्टूबर तक बहुत ही विशाल स्तर पर चलने वाले स्वच्छता ही सेवा कार्यक्रम की शुरुआत की।