IndW vs PakW: पाकिस्तान के खिलाफ मैच जीतकर हरमनप्रीत कौर ने रचा इतिहास, टूट गया एम एस धौनी का महारिकार्ड
IndW vs PakW: पाकिस्तान के खिलाफ मैच जीतकर हरमनप्रीत कौर ने रचा इतिहास

IndW vs PakW: पाकिस्तान के खिलाफ मैच जीतकर हरमनप्रीत कौर ने रचा इतिहास, टूट गया एम एस धौनी का महारिक

IndW vs PakW: पाकिस्तान के खिलाफ मैच जीतकर हरमनप्रीत कौर ने रचा इतिहास, टूट गया एम एस धौनी का महारिकार्ड

IndW vs PakW: भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने राष्ट्रमंडल खेलों में अपनी पहली जीत रविवार (31 जुलाई) को दर्ज की। उसने ग्रुप-ए के अपने दूसरे मुकाबले में पाकिस्तान को आठ विकेट से हरा दिया। इस जीत के बाद कप्तान हरमनप्रीत कौर ने एक बड़ा रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया। वह सबसे ज्यादा टी20 मैच जीतने वाली भारतीय कप्तान बन गईं। इस मामले में उन्होंने पुरुष टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का रिकॉर्ड तोड़ दिया।

हरमनप्रीत की कप्तानी में भारतीय टीम का यह 71वां मैच था। टीम इंडिया ने 42वीं बार जीत हासिल की है। टी20 में बतौर कप्तान सबसे ज्यादा जीत का भारतीय रिकॉर्ड महेंद्र सिंह धोनी के नाम दर्ज था। उसे हरमन ने तोड़ दिया है। 2007 में टी20 वर्ल्ड कप जीतने वाले धोनी की कप्तानी में भारत ने 72 में से 41 मैच जीते थे। वहीं, विराट कोहली की कप्तानी में 50 में 30 मैच जीतने में सफल हुई थी। मौजूदा कप्तान रोहित शर्मा 32 मुकाबलों में नेतृत्व कर चुके हैं। इस दौरान टीम को 27 जीत मिली है।

IndW vs PakW:  पाकिस्तान को हराकर शीर्ष पर भारत

इस जीत के साथ ही टीम इंडिया अंक तालिका में शीर्ष पर पहुंच गई है। उसके दो मैचों में एक जीत और एक हार के साथ दो अंक है। भारत के साथ-साथ ऑस्ट्रेलिया और बारबाडोस के भी दो-दो अंक हैं, लेकिन टीम इंडिया नेट रनरेट में बेहतर है।

बारिश के कारण मैच को 18-18 ओवरों का कर दिया गया। पाकिस्तान की कप्तान बिस्माह मारूफ ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का निर्णय लिया। उनका यह फैसला गलत साबित हुआ। पाकिस्तान की पूरी टीम 18 ओवरों में 99 रनों पर ही सिमट गई। भारत ने 100 रन के लक्ष्य को आसानी से हासिल कर लिया। उसने 11.4 ओवर में दो विकेट पर 102 रन बनाकर मैच को अपने नाम कर लिया।

IndW vs PakW:  स्मृति मंधाना ने जड़ा शानदार अर्धशतक

100 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम ने शानदार शुरुआत की। स्मृति मंधाना और शेफाली वर्मा ने पहले विकेट के लिए 5.5 ओवरों में ही 61 रन की साझेदारी कर ली। शेफाली नौ गेंद पर 16 रन बनाकर पवेलियन लौटी। उन्होंने दो चौके और एक छक्का लगाया। शेफाली के आउट होने के बाद भी स्मृति ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी जारी रखी। उन्होंने आठवें ओवर में तुबा हसन की तीसरी गेंद पर छक्का लगाकार अपना अर्धशतक पूरा किया। मंधाना 42 गेंद पर 63 रन बनाकर नाबाद रहीं। उन्होंने आठ चौके और तीन छक्के लगाए। मंधाना का स्ट्राइक रेट 150 का रहा।