Home » जॉब्स/एजुकेशन » गुजरात ने कक्षा 10, 12वीं की परीक्षाओं को स्थगित किया, बांकियों को पदोन्नति

गुजरात ने कक्षा 10, 12वीं की परीक्षाओं को स्थगित किया, बांकियों को पदोन्नति

अहमदाबाद। गुजरात सरकार ने वीरवार को प्रदेश में कोरोना की स्थिति को देखते हुए 10वीं व 12वीं बोर्ड की परीक्षा 15 मई तक स्थगित कर दी है। कक्षा एक से नौ, कक्षा 11 के बच्चों को मास प्रमोशन का भी निर्णय किया गया। मुख्यमंत्री विजय रूपाणी की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में गुजरात शिक्षा बोर्ड की कक्षा 10 व कक्षा 12 की 10 मई से होने वाली परीक्षाओं को स्थगित रखने का निर्णय किया गया है। 15 मई को स्वास्थ्य विभाग व शिक्षा विभाग के उच्च अधिकारी राज्य में कोरोना संक्रमण की स्थिति की समीक्षा करेंगे तथा उसके बाद ही परीक्षाओं की तिथि का निर्धारण किया जाएगा। राज्य सरकार ने कक्षा एक से कक्षा नौ के विद्यार्थियों को तथा कक्षा 11 के छात्र-छात्राओं को मास प्रमोशन देने की घोषणा की है।

गुजरात में बुधवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 7410 नए मामले सामने आए। 2642 लोग डिस्चार्ज हुए और 73 लोगों की मौत हुई है। प्रदेश में कुल मामले 3,67,616 हैं। कुल 3,23,371 डिस्चार्ज हुए। सक्रिय मामले 34,555 हैं। कोरोना से अब तक 4,922 की मौत हुई है। पिछले कुछ समय से प्रदेश के कई जिलों में कोरोना के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। गुजरात उच्‍च न्‍यायालय ने दो दिन पहले ही कोरोना के प्रबंधन को लेकर राज्‍य सरकार को खरी खोटी सुनाई थी, सरकार बेड की संख्‍या, ऑक्‍सीजन, रेमडेसीवर इंजेक्‍शन आदि की पर्याप्‍त व्‍यवस्‍थाएं कर रही हैं, लेकिन सूरत व अहमदाबाद में मौत का आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है।

अहमदाबाद व सूरत शहर में कोरोना फिर कहर बनकर टूटा है। संक्रमण के केसों ने अब तक के सभी रिकार्ड तोड़ दिए हैं। आलम यह है कि श्‍मशानों में जहां 10 से 12 घंटे की वेटिंग है, वहीं कब्रिस्‍तान में जेसीबी से खुदाई कराकर एडवांस में कब्रें तैयार की जा रही हैं। अहमदाबाद के सीएनजी संचालित शवदाह गृह में 10-12 घंटे की वेटिंग चल रही है। उधर, सुरेंद्रनगर जिले के लींबडी कस्‍बे में सात दिन का लॉकडाउन घोषित किया गया। व्‍यापार मंडल ने श्‍मशान ग्रह में लोगों से शवदाह के लिए ल‍कड़ियां दान करने की भी अपील की है। सूरत के रामपरा कब्रिस्‍तान के प्रबंधक मोहम्‍मद आसिफ बताते हैं कि पहले दो-तीन शव आते थे, लेकिन अब 10-12 रोज आते हैं। एक कब्र खोदने में छह-सात घंटे लगते हैं। मजदूरों की कमी के कारण अब जेसीबी से एडवांस में कब्रें खुदवा कर रख रहे हैं। बीते चौबीस घंटे में गुजरात में कोरोना के 6690 केस सामने आए, जबकि 67 लोगों की मौत हुई।

Check Also

कर्नल बेटा मरीजों की जान बचाने में व्यस्त, न आ सका बीमार माँ से मिलने

लखनऊ। एक तरफ कोरोना से संक्रमित मरीजो की जान बचाने के लिए सामने फर्ज था, …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Share
See our YouTube Channel