Drugs Worth Rs 5 Crore Destroyed In Chandigarh
BREAKING
चंडीगढ़ में फर्जी जॉब देकर महिला से 21 हजार ठगे; पुलिस ने गिरोह के 4 लोग पकड़े, लोगों को ऑनलाइन फंसाकर फेक प्लेसमेंट ऑफर करते पंजाब में 200 रुपए के लिए युवक का मर्डर...VIDEO; वो कहता रहा, मैंने नहीं लिए, फिर भी चाकू मार उतार दिया मौत के घाट BJP छोड़कर कांग्रेस जॉइन करेंगे कुलदीप बिश्नोई? लोकसभा चुनाव के बीच खुद जारी किया यह बयान, हरियाणा में हिसार से टिकट नहीं मिला हरियाणा में कांग्रेस के लोकसभा उम्मीदवारों की लिस्ट वायरल; 9 सीटों पर इन नेताओं के नाम, फर्जी बताई जा रही, यहां देख लें बीवी के सामने शादीशुदा महिला से रेप; आपत्तिजनक तस्वीरें लेकर धर्म बदलने को मजबूर किया, हैरान कर रही हैवानियत की यह पूरी घटना

चंडीगढ़ में 5 करोड़ की ड्रग्स में आग, VIDEO; 15 पुलिस थानों ने पकड़ी थी, चरस से लेके हेरोइन तक अलग-अलग वैरायटी

Drugs Worth Rs 5 Crore Destroyed In Chandigarh

Drugs Worth Rs 5 Crore Destroyed In Chandigarh

Drugs Worth Rs 5 Crore Destroyed In Chandigarh: नौजवानों को अंदर ही अंदर फूंक रही ड्रग्स को आज चंडीगढ़ पुलिस ने फूंक दिया| दरअसल, चंडीगढ़ पुलिस ने हेरोइन, गांजा, चरस, पॉपी हस्क, आइस की करीब 131 किलो खेप को नष्ट किया है| इसके साथ ही 805 नशीले इंजेक्शन और 950 कैप्सूल भी नष्ट किए गए हैं| नष्ट की गई इस कुल ड्रग्स की कीमत बाजार में 5 करोड़ के करीब बताई जाती है|

बतादें कि, ड्रग्स नष्ट (Chandigarh Drugs Destroyed) करने की यह पूरी कार्रवाई एसएसपी हेडक्वार्टर (चंडीगढ़ पुलिस) और चेयरमैन ड्रग डिस्पोजल कमेटी (डीडीसी) मनोज कुमार मीणा की मौजूदगी में की गई| इस मौके पर नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो सुपरीटेंडेंट और क्राइम ब्रांच पुलिस के डीएसपी रजनीश कुमार भी मौजूद रहे।

15 पुलिस थानों ने पकड़ी थी

बतादें कि, नष्ट की गई कुल ड्रग्स 15 पुलिस थानों ने पकड़ी थी| 83 NDPS के मामलों में ड्रग्स की जब्ती हुई थी| जिन थानों ने ड्रग्स जब्त की उनमें थाना 3,11,17,19, 26, 31, 34, 36, 39, 49, आईटी पार्क, मलोया, इंडस्ट्रीएल एरिया, मौली जागरा और सारंगपुर शामिल है| ड्रग्स को नष्ट करने से पहले 17 दिसंबर को प्री ड्रग डिस्पोजल मीटिंग का आयोजन किया गया था। इस मीटिंग में ही ड्रग्स को नष्ट करने का कानूनी प्रक्रिया के तहत फैसला हुआ था| क्योंकि अब कानूनी प्रक्रिया में इस ड्रग्स की कोई आवश्यकता नहीं थी। -रिपोर्ट- रंजीत शम्मी