हरियाणा में एंटी टेररिस्ट स्क्वाड का होगा गठन: विज
हरियाणा में एंटी टेररिस्ट स्क्वाड का होगा गठन:विज

हरियाणा में एंटी टेररिस्ट स्क्वाड का होगा गठन: विज

हरियाणा में एंटी टेररिस्ट स्क्वाड का होगा गठन: विज

गृहमंत्री ने करनाल घटना के बाद ली पुलिस अधिकारियों की बैठक

दस्ते में डीआईजी व एसपी रैंक के अधिकारियों की होगी नियुक्ति

सरकारी इमारतों का होगा सुरक्षा ऑडिट

वीआईपी सुरक्षा का नए सिरे से होगा रिव्यू

पड़ोसी राज्यों से आने वाली बसों व रेलगाडिय़ों में बढ़ाई जाएगी चैकिंग

चंडीगढ़, 11 मई।  हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि राज्य में सुरक्षा की दृष्टि से एंटी टैररिस्ट स्क्वाड (आंतकवाद विरोध दस्ते) का गठन किया जाएगा जिसमें डीआईजी व एसपी रैंक के अधिकारियों की नियुक्ति भी होगी जो इस दस्ते का संचालन करेंगें। विज बुधवार को चंडीगढ़ में गृह विभाग व पुलिस विभाग के अधिकारियों की सुरक्षा से संबंधित एक बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। बैठक में गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव अरोड़ा व पुलिस महानिदेशक पी.के. अग्रवाल समेत कई अधिकारी मौजूद थे।  

उन्होंने पुलिस अधिकारियों से कहा कि अभी हाल ही में करनाल व पंजाब के मोहाली में इंटैलिजेंस विभाग के मुख्यालय पर एक रॉकेट से हमला हुआ था उसे मदेनजर रखते हुए हरियाणा में सुरक्षा को लेकर चौकसी बढाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि हमें आंतकवादियों व असामाजिक तत्वों की गतिविधियों पर लगातार नजर रखते हुए इनके स्लीपर सैल इत्यादि की छानबीन करनी होगी और इनकी कार्य-प्रणाली (माडस-ऑपरेंडी) पर ध्यान देना होगा।  

विज ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि ऐसे देशविरोधी लोगों पर लगाम लगाने के लिए हमेें सोशल मीडिया पर भी देशविरोधी वीडियो संदेशों के मूल तक पहुंचना होगा और इस प्रकार के नेटवर्क को तोडने का काम करना होगा। गृह मंत्री ने सुरक्षा के संबंध में अधिकारियों से कहा कि वे अपने-अपने अधिकार क्षेत्रों में विशेषकर भीड़भाड़ वाले क्षेत्रों, जहां पर अपराध व घटना को अंजाम दिया जा सकता है, उन क्षेत्रों में नाईटविजन सीसीटीवी कैमरें लगाएं और इस कवायद के अंतर्गत विभिन्न सामाजिक संगठनों व संस्थाओं का भी सहयोग लिया जाए।  

बैठक में हरियाणा के सरकारी कार्यालयों व भवनों की सुरक्षा को चाक-चौबंध रखने के लिए भी सीसीटीवी कैमरों को दुरस्त करने व लगाने का कार्य जल्द से जल्द पूरा करने के निर्देश दिए गए।  विज ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि पूरे हरियाणा में किराएदारों की जांच व निरीक्षण को पुख्ता करने के लिए एक अभियान चलाया जाना चाहिए ताकि कोई अंजान व असामाजिक व्यक्ति किसी के घर में दूसरे नाम या अन्य दूसरे कारण बताकर न रह रहा हो। 

बैठक में हरियाणा गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव अरोड़ा ने बताया कि राज्य के सभी पुलिस कार्यालयों व सरकारी भवनों का सुरक्षा ऑडिट कराया जाएगा ताकि कोई अप्रिय घटना को अंजाम न दे सकें। इसके अलावा, वीआईपी व्यक्तियों की सुरक्षा को भी चाक-चौबंद रखना होगा और बस अडडों, रेलवे स्टेशन, माल, सिनेमा घर व भीडभाड वाले क्षेत्रों में कड़ी निगरानी को ओर पुख्ता करने पर बल दिया जाएगा। 
उन्होंने बताया कि अस्पतालों, होटलों, धर्मशालाओं इत्यादि जगहों पर संबंधित क्षेत्र के एसएचओ की मार्फत जांच व निगरानी के स्तर पर बढाने का काम होगा। ऐसे ही, विशेष स्थानों पर नाकाबंदी व निरीक्षण को बढाते हुए मैटल डिटैक्टर चैकिंग को पुख्ता करने पर बल दिया जाएगा। 

हरियाणा पुलिस महानिदेशक पी.के. अग्रवाल ने बैठक में बताया कि लावारिस व अज्ञात चीजों के संबंध में लोगों का जागरूक करने के बारे में भी एक अभियान चलाया जाएगा। ऐसे ही, विभिन्न राज्यों से आने वाली बसों व रेलगाडियों की चैकिंग पर बल देने का काम भी होगा। उन्होंने बताया कि विभिन्न सीमावर्ती राज्यों के पुलिस अधिकारियों के साथ सीमा बैठकों का आयोजन होगा और इंटलीजेंस जानकारी को सांझा किया जाएगा ताकि सुरक्षा को पुख्ता किया जा सके। 

बैठक में सीआईडी के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक आलोक मित्तल, हरियाणा राज्य नारकोटिक्स ब्यूरों के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक श्रीकांत जाधव, गुरूग्राम की पुलिस आयुक्त कला रामचंद्रन, फरीदाबाद के पुलिस आयुक्त  विकास अरोडा सहित अन्य पुलिस महानिरीक्षक व पुलिस आयुक्त अधिकारी भी उपस्थित थे।

नकली सिम कार्ड व प्री-एक्टीवेटिड सिम की बिक्री पर लगेगी रोक

गृहमंत्री अनिल विज ने बैठक के दौरान पुलिस अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि नकली सिम कार्ड व प्री-एक्टीवेटिड सिम की बिक्री पर रोक लगाई जाए। इस पर, गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव अरोड़ा ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे अपने-अपने अधिकार क्षेत्र व जिलों में मोबाइल सेवा देने वाले सभी डिस्ट्रीब्यूटरों, रिटेलरों की जानकारी एकत्रित करें और उसकी एक डायरेक्टरी बनाएं।