Politicians Involved in Illegal Mining: 'आप' ने कांग्रेस पर अवैध खनन में शामिल अपने नेताओं को बचाने का लगाया आरोप, कहा - जांच के बाद हो जाएगा खुलासा
Politicians Involved in Illegal Mining

Politicians Involved in Illegal Mining: 'आप' ने कांग्रेस पर अवैध खनन में शामिल अपने नेताओं को बचाने

Politicians Involved in Illegal Mining: 'आप' ने कांग्रेस पर अवैध खनन में शामिल अपने नेताओं को बचाने का लगाया आरोप, कहा - जांच के बाद हो जाएगा खुलासा

-कांग्रेस सरकार ने राणा केपी सिंह के खिलाफ सीबीआई की शिकायत पर कार्रवाई क्यों नहीं की? - आप

-अगर कुछ भी गलत नहीं किया तो कांग्रेसी नेता जांच से डरते क्यों हैं? - मलविंदर कंग

चंडीगढ़, 21 सितंबर

Politicians Involved in Illegal Mining: आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) ने कांग्रेस पर रेत माफिया में लिप्त अपने भ्रष्ट नेताओं को बचाने का आरोप(Accused of protecting corrupt leaders) लगाया और कहा कि कई पूर्व कांग्रेसी मंत्रियों ने लोगों के काम करने के बजाय पंजाब के खजाने को लूटा है।

बुधवार को यहां एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए 'आप' पंजाब के मुख्य प्रवक्ता मलविंदर सिंह कंग ने पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग और विपक्ष के नेता प्रताप सिंह बाजवा से सवाल किया कि अगर उनके नेता पाक-साफ हैं और उन्होंने कुछ भी गलत नहीं किया है तो वे सरकारी जांच से डर क्यों रहे हैं? कंग ने उन्हें सलाह दी कि वे अपने संदिग्ध नेताओं के 'पापों' को सिर्फ राजनीति करने के लिए न ढकें और सच्चाई का साथ दें।

9 जुलाई, 2021 को जारी सीबीआई के एक पत्र का हवाला देते हुए, कंग ने कहा कि सीबीआई ने पंजाब के मुख्य सचिव को तत्कालीन विधानसभा अध्यक्ष राणा केपी सिंह(The then Speaker of the Assembly Rana KP Singh) के खिलाफ खनन मामले में जांच के लिए एक पत्र लिखा था। लेकिन तत्कालीन मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार ने इस मामले को दबा दिया था।

उन्होंने कहा कि सीबीआई ने मूल दस्तावेजों के साथ एक शिकायत भेजी थी जिसमें कहा था कि राणा केपी अवैध खनन में शामिल हैं। वह रोपड़ और आनंदपुर साहिब में अपने सहयोगियों के माध्यम से हर महीने क्रशर मालिकों से सुरक्षा राशि के नाम पर लाखों रुपए वसूल रहे थे। बावजूद उसके कंग्रेस सरकार ने उन पर कोई कार्रवाई नही की।

कांग्रेस को 'भ्रष्ट लोगों' की पार्टी करार देते हुए कंग ने कहा कि पिछली सरकारों के दौरान बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार और घोटाले हुए। मान सरकार सभी मामलों की गहराई से जांच कर रही है। जल्द सभी दोषी पुलिस की गिरफ्त में होंगे। 
उन्होंने कहा बड़ी हैरानी कि बात है कि जांच एजेंसियों का सहयोग करने के बजाय, कांग्रेस नेतृत्व अभी भी अपने नेताओं को बचाने की कोशिश कर रहा है।

कंग ने कहा,"कांग्रेस के विपरीत आप सरकार की कार्यप्रणाली में दिन रात का अंतर है। मान सरकार की भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति है लेकिन कांग्रेस ने केवल भ्रष्टाचारियों को संरक्षण दिया है,जिन्होंने केवल पंजाबियों को लूटा है।"

उन्होंने कहा कि विजिलेंस के पास राणा केपी  के खिलाफ पुख्ते सबूत हैं और वह इस मामले की गहराई से जांच कर रही है। लेकिन केपी सिंह पंजाब के मंत्री हरजोत सिंह बैंस पर  अपने अपराधों को छिपाने के लिए निराधार आरोप लगा रहे हैं।

कांग्रेस के दावों को खारिज करते हुए कंग ने कहा कि आप प्रतिशोध की राजनीति नहीं करती। मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व में आप सरकार व्यवस्था में सुधार के लिए काम कर रही है। पंजाब सरकार कानून के तहत जांच कर रही है। पंजाब को लूटने वाले जल्द जेल में होंगे।