अनुराग कश्यप की बेटी के अकाउंट में थे 15 सौ रुपए, दाल-चावल के पड़ गए थे लाले

Punjab CM

अनुराग कश्यप की बेटी के अकाउंट में थे 15 सौ रुपए, दाल-चावल के पड़ गए थे लाले

अनुराग कश्यप की बेटी के अकाउंट में थे 15 सौ रुपए

अनुराग कश्यप की बेटी के अकाउंट में थे 15 सौ रुपए, दाल-चावल के पड़ गए थे लाले

डायरेक्टर अनुराग कश्यप (Anurag Kashyap) और फिल्म एडिटर आरती बजाज (Aarti Bajaj) की बेटी आलिया कश्यप (Aaliyah Kashyap) यूट्यूब पर काफी फेमस हैं. आलिया यूट्यूब पर कई वीडियो शेयर करती हैं. इन वीडियो में वह अपनी पर्सनल लाइफ से लेकर सेक्स, रिलेशनशिप और फिटनेस तक के बारे में बात कर चुकी हैं. अब अपने नए वीडियो में आलिया ने बताया कि कैसे उन्होंने एक समय पर आर्थिक दिक्कतों का सामना किया था.

आलिया कश्यप ने अपनी साथी इन्फ्लुएंसर साक्षी शिवदासानी (Sakshi Shivdasani) के साथ मिलकर एक यूट्यूब वीडियो बनाया है. इस वीडियो में दोनों ट्रुथ और ड्रिंक गेम (Truth or Drink) खेलती नजर आ रही हैं. इस गेम के दौरान आलिया ने उस समय के बारे में बताया जब उनके अकाउंट में सिर्फ 1500 रुपये बचे थे और वह घर का राशन तक खरीद नहीं पा रही थीं.

वीडियो में आलिया और साक्षी फैंस के सवालों का एक-एक करके जवाब दे रही हैं. फैंस ने उनसे उनकी जिंदगी से लेकर रोमांटिक पलों, हेल्थ को लेकर आई परेशानी और पैसों तक हर चीज के बारे में सवाल किए. एक फैन ने पूछा, 'अपने पेरेंट्स के घर से जाने के बाद आप लोगों को पैसों की कितनी दिक्कत है?' 

इस सवाल के जवाब में आलिया कश्यप ने कहा, 'मैंने साक्षी को यह बात बताई थी जब मैं उनसे मिली थी. मेरे अकाउंट में सिर्फ 1500 रुपये बचे थे. मैंने उन्हें अपना बैंक बैलेंस दिखाया था और कहा था- मैं कुछ भी खरीद नहीं सकती. शुक्र है कि मेरी सैलरी दो दिन बाद आ गई थी. लेकिन तीन दिनों तक मेरे अकाउंट में सिर्फ 1500 रुपये थे.' इसपर साक्षी शिवदासानी ने बताया कि उनके साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ था और वह तब बेहद स्ट्रेस में आ गई थीं.

आलिया कश्यप ने आगे बताया, 'यह बहुत स्ट्रेस भरा था. मैंने अपने घर से बाहर जाना बंद कर दिया था क्योंकि मैं कुछ भी अफोर्ड नहीं कर सकती थी. मैं उतने पैसों के साथ सांस लेना भी अफोर्ड नहीं कर सकती थी. यह बहुत मुश्किल था. मुझे अपनी मां से खाना घर भेजने के लिए कहना पड़ा था क्योंकि तीन दिनों तक मैं घर का राशन तक अफोर्ड नहीं कर पा रही थी. वह बिल्कुल भी अच्छा समय नहीं था. मैं फिर ऐसा कभी नहीं करूंगी.'