aaj ka itihas

Punjab CM

02 October Ka Itihas (02 October की ऐतिहासिक घटनाये)

Aaj-ka-Itihas

aaj ka itihas

आज का इतिहास –  प्रत्येक दिन विश्व में कुछ न कुछ ऐसा होता है जो की एक महत्वपूर्ण इतिहास (Important History) बन जाता है जैसे, खेल जगत में रिकॉर्ड बनना, किसी प्रसिद्द व्यक्ति का जन्म व् मृत्यु, आज के दिन के महत्वपूर्ण दिवस, विज्ञान में अविष्कार, आदि । भारत (India) और विश्व (World) में आज के दिन बहुत सी ऐसी प्रमुख ऐतिहासिक घटनायें (Historical Events) हुई जिनका जिक्र आज भी इतिहास (History) के पन्नो में किया गया है । 

1869-महात्मा गांधी का गुजरात के पोरबंदर में जन्म।

1904–पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री का जन्म।

1906-विख्यात चित्रकार राजा रवि वर्मा का निधन।

1951-श्री श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने भारतीय जन संघ की स्थापना की।

1955-मद्रास के पेरंबूर में इंटिग्रल कोच फैक्टरी ने रेल का पहला डिब्बा बनाया।

1961-बम्बई (अब मुंबई) में शिपिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया की स्थापना।

1971-राष्ट्रपति ने बिरला सदन को देश को समर्पित किया।

1985-दहेज निषेध संशोधन अधिनियम लागू।

2000-रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन चार दिन की यात्रा पर दिल्ली पहुंचे।

2001-19देशों के संगठन नाटो ने अफगानिस्तान पर हमले के लिए हरी झंडी दी।

2006–परमाणु ईंधन आपूर्ति मामले में दक्षिण अफ्रीका ने भारत को समर्थन देने का फैसला किया।

2007-उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग-इल के साथ दूसरे अंतर-कोरियाई शिखर सम्मेलन के लिए दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति रोह मू-ह्यून ने सैन्य सीमांकन रेखा पर कदम रखा।

2007-2007 ग्रीष्मकालीन विशेष ओलंपिक शंघाई चीन में शुरू हुआ।

2009-आयरलैंड के संविधान के बीसवें आठवें संशोधन को दूसरे प्रयास में मंजूरी दी गई, जिससे राज्य को यूरोपीय संघ की लिस्बन की संधि की पुष्टि करने की अनुमति मिल गई।

2012-यूरोपीय आयोग की एक रिपोर्ट के अनुसार बेहतर सुरक्षा की आवश्यकता पर यूरोप के 134 पावर स्टेशन पर परमाणु रिएक्टरों की लागत 10 से 25 बिलियन यूरो होगी।

2014-संयुक्त राज्य अमेरिका के कुछ लोगों ने वियतनाम को हानिकारक हथियार बिक्री पर लंबे समय से प्रतिबंध लगा दिया है ताकि इसे समुद्री सुरक्षा में मदद मिल सके। यह एक ऐतिहासिक कदम है जो वियतनाम युद्ध की समाप्ति के 40 साल बाद आया है।

2014-प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देशभर में एक राष्ट्रीय आंदोलन के रूप में ‘स्वच्छ भारत मिशन’ की शुरुआत की।