Tourist places started buzzing with tourists on weekends
Shimla

Tourist places started buzzing with tourists on weekends

वीकेंड पर सैलानियों से गुलजार होने लगे पर्यटक स्थल

शिमला। मैदानी क्षेत्रों में पड़ रही भीषण गर्मी से बचने के लिए पर्यटकों ने पहाड़ों का रुख करना शुरू कर दिया है। वीकेंड पर शिमला, नालदेहरा, ग्रीन-वेली, कुफरी, नारकंडा, फागू, महासू, चायल और कसोली में काफी संख्या में पर्यटक पहुंच रहे हैं। इनमें अधिकांश पड़ोसी राज्य पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली के पर्यटक हैं।

अगले महीने मैदानी राज्यों के स्कूलों में छुट्टियों के बाद पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, एमपी इत्यादि राज्यों से भी पर्यटक पहुंचने शुरू होंगे। शिमला और सोलन के इन पर्यटन स्थलों की तुलना में अभी मनाली, धर्मशाला, मकलोढग़ंज व डलहौजी में कम सैलानी आ रहे हैं, क्योंकि इन पर्यटन स्थलों पर अमूमन पर्यटक चार से पांच दिन के लिए आते हैं।

चियोग के होम-स्टे संचालक सोहन ठाकुर ने बताया कि अभी से मई महीने की एडवांस बुंकिंग शुरू हो गई है। मई और जून में पर्यटन सीजन पूरी तरह जोर पकड़ पाएगा। उन्होंने बताया कि आज वीकेंड पर 60 से 70 फीसदी ऑक्युपेंसी है। रात को होटल में ठहरने के बाद सुबह के वक्त सैलानी ट्रैकिंग पर देवदार के घने जंगलों के बीच निकल जाते हैं और सुहावने मौमस का लुत्फ उठा रहे हैं।

वैसे तो प्रदेश के पहाड़ भी मार्च में ही तपने शुरू हो गए हैं, लेकिन दो रोज पहले लाहौल स्पीति के रोहतांग, जिस्पा, हंसा में ताजा हिमपात, कुल्लू, कांगड़ा और मंडी जिला के कुछेक क्षेत्रों में हल्की बारिश के बाद तापमान में 5 डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट आई है। इससे पहाड़ों पर मौसम सुहावना बना हुआ है।

बारिश और बर्फबारी के बाद शिमला का अधिकतम तापमान 27 डिग्री से कम होकर 24.2 डिग्री पहुंच गया है। इसी तरह ऊना का तापमान 42 डिग्री से कम होकर 38 डिग्री, सोलन का 34 डिग्री से कम होकर 31 डिग्री, नाहन का 36 से 32 डिग्री, मंडी 35 से 31 डिग्री और चंबा का तापमान 36 डिग्री से कम होकर 31.3 डिग्री हो गया है।

मौसम विभाग की मानें तो ज्यादातर इलाकों में मौमस साफ बना रहेगा, लेकिन एक-दो स्थानों पर हल्की बारिश भी हो सकती है। कल प्रदेशभर में मौसम साफ बना रहेगा। परसो यानी सोमवार से मौसम फिर करवट बदलेगा और कुछेक स्थानों पर फिर से बारिश हो सकती है।