पालने वाले माता-पिता के खून से रंगे बेटी ने हाथ, प्रेमी ने भी दिया पूरा साथ, यूं खुला हत्या का राज
पालने वाले माता-पिता के खून से रंगे बेटी ने हाथ

पालने वाले माता-पिता के खून से रंगे बेटी ने हाथ, प्रेमी ने भी दिया पूरा साथ, यूं खुला हत्या का राज

पालने वाले माता-पिता के खून से रंगे बेटी ने हाथ, प्रेमी ने भी दिया पूरा साथ, यूं खुला हत्या का राज

उत्तर प्रदेश के कानपुर में पति-पत्नी की बेरहमी से हत्या के मामले में पुलिस ने बड़ा खुलासा किया है. दोनों की हत्या उनकी उस बेटी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर की, जिसे 24 साल पहले गोद लिया गया था. हत्या के पीछे प्रॉपर्टी पाने की चाहत वजह बताई जा रही है, जिसमें से कुछ हिस्सा दोनों अपनी बहू को देने वाले थे. इससे बेटी नाराज थी और उसने हत्या कर दी.
दरअसल, कानपुर की बर्रा पुलिस ने मां-बाप की हत्या के जुर्म में बेटी कोमल उर्फ आकांक्षा को हिरासत में लिया है. मृतक मुन्नालाल की कोई बेटी नहीं थी, इसलिए उन्होंने कोमल को 24 साल पहले अपने रिश्तेदार छोटेलाल से गोद लिया था. सब कुछ सही चल रहा था. इसी बीच मृतक मुन्नालाल के बेटे अनूप और उसकी पत्नी सोनिका का विवाद हो गया.  

सोनिका ने दहेज़ का केस कर दिया. सोनिका के घरवालों ने 50 लाख की मांग कर दी, जबकि मुन्नालाल एक लिमिट तक ही कैश देकर समझौता करने वाले थे. मुन्नालाल के पास अपना मकान था और कुछ बैंक बैलेंस था. कोमल यह सारी प्रॉपर्टी और पैसा खुद चाहती थी, ताकि वह अपने प्रेमी के साथ मिलकर जीवन आराम से गुजार सके.

कोमल ने अपने प्रेमी रोहित के साथ मिलकर अपने मां-बाप की हत्या का प्लान बनाया. दोनों का प्लान था कि हत्या का आरोप अनूप के ससुरालवालों के ऊपर लगाा जाएगा. कोमल ने सोमवार शाम को मां-बाप और भाई को जूस में नशीली दवा मिलाकर पिलाया. कोमल रोज अपनी मम्मी के साथ सोती थी, जबकि अनूप अलग कमरे में सोता था.

पुलिस का दावा है कि कोमल ने अपने प्रेमी रोहित के साथ मिलकर पहले अपनी मां और फिर बाप की हत्या की. अनूप का कहना है, 'कोमल ने जब मुझको जूस दिया तो उसका स्वाद ही कुछ ऐसा लग रहा था, जैसे उसमें कुछ मिलाया गया हो, इसके बाद मैं सो गया, फिर कोमल ने ही आकर मुझे जगाया और कहा कि भैया चलो मम्मी-पापा की हत्या हो गई है.' 

कानपुर पुलिस ने जब हत्याकांड की जांच शुरू की तो सामने आया कि घर का दरवाजा खुला था, जिसे कोई घर का आदमी ही खोल सकता था. मोहल्ले के सीसीटीवी में एक व्यक्ति घर के अंदर से निकलता हुआ दिखाई दिया. इसके बाद जब कोमल से पूछताछ की गई और उसकी कॉल डिटेल खंगाली गई तो उसने सारी घटना खुद ही कबूल कर ली.

पुलिस ने कोमल को तो हिरासत में ले लिया है. साथ ही रोहित की गिरफ्तारी के लिए भी दबिश दे रही है. पुलिस को रोहित की लोकेशन शहर में कई जगह मिली. पुलिस को उम्मीद है कि जल्द ही वह रोहित को गिरफ्तार कर लेगी, उसके बाद पुलिस यह जांच करेगी कि इस घटना में और कितने लोग शामिल थे क्योंकि कोमल कई सवालों के जवाब नहीं दे रही है.