रक्षाबंधन पर जम्मू-कश्मीर से दुखद खबर: आतंकियों ने सेना की टुकड़ी पर किया आत्मघाती हमला, इतने सैनिकों की शहादत से हड़कंप
Terrorists Suicide Attack on Indian Army Camp in Rajouri Jammu and Kashmir

Terrorists Suicide Attack on Indian Army Camp in Rajouri Jammu and Kashmir

रक्षाबंधन पर जम्मू-कश्मीर से दुखद खबर: आतंकियों ने सेना की टुकड़ी पर किया आत्मघाती हमला, इतने सैनिकों की शहादत से हड़कंप

Terrorists Suicide Attack on Indian Army Camp in Rajouri Jammu and Kashmir : रक्षाबंधन के मौके पर जम्मू-कश्मीर से एक बड़ी ही दुखद खबर सामने आ रही है| दरअसल, जानकारी मिल रही है कि राजौरी से 25 किलोमीटर दूर भारतीय सेना (Indian Army) की एक टुकड़ी पर आतंकियों (Terrorists) ने आत्मघाती हमला (Suicide Attack) किया है|

बताया जाता है कि, आत्मघाती हमले को दो आतंकियों ने अंजाम दिया| दोनों ही आतंकी मारे गए हैं| लेकिन इसके साथ ही इस हमले में अपने तीन सैनिकों को भी शहादत देनी पड़ी है| भारतीय सेना के तीन सैनिक इस आत्मघाती हमले में शहीद हो गए हैं| उनकी जान चली गई है| वहीं, इतने बड़े हमले के बाद अब भारतीय सेना ऑपरेशन मोड पर है| इलाके के साथ-साथ आस-पास के इलाकों की भी घेराबंदी कर ली गई है| अन्य आतंकियों को तलाशा जा रहा है|

सैनिकों ने दिखाया जिगर

बताया जाता है कि, भारतीय सेना के जो तीन सैनिक शहीद हुए हैं उन्होंने जिगरा दिखाते हुए हमले में ज्यादा जानों का नुक्सान नहीं होने दिया और अपनी शहादत दे दी| शहीद हुए सैनिकों में सूबेदार राजेंद्र प्रसाद, राइफलमैन मनोज कुमार और राइफलमैन लक्ष्मणन डी. जैसे सैनिक शामिल हैं|

Terrorists Suicide Attack on Indian Army Camp in Rajouri Jammu and Kashmir
सूबेदार राजेंद्र प्रसाद
Terrorists Suicide Attack on Indian Army Camp in Rajouri Jammu and Kashmir
राइफलमैन मनोज कुमार
Terrorists Suicide Attack on Indian Army Camp in Rajouri Jammu and Kashmir
राइफलमैन लक्ष्मणन डी.

हाल ही में पुलवाना में मिला था IED

ज्ञात रहे कि, जम्मू-कश्मीर में आतंकी गतिविधि खत्म नहीं हो रही है| आयेदिन आतंकी कोई न कोई नापाक हरकत कर रहे हैं| अभी हाल ही में पुलिस और सुरक्षा बलों द्वारा पुलवामा में सर्कुलर रोड पर तहब क्रॉसिंग के पास लगभग 25 से 30 किलोग्राम वजन का IED बरामद किया गया था जिसे बाद डिफ्यूज कर दिया गया| ADGP कश्मीर विजय कुमार ने बयान देते हुए कहा था कि समय रहते एक बड़ी त्रासदी टल गई|