मंडी नगर निगम के कई वार्डो में  कुत्तों का आतंक, कई लोगों काट खाया 
मंडी नगर निगम के कई वार्डो में  कुत्तों का आतंक, कई लोगों काट खाया

मंडी नगर निगम के कई वार्डो में  कुत्तों का आतंक, कई लोगों काट खाया

मंडी नगर निगम के कई वार्डो में  कुत्तों का आतंक, कई लोगों काट खाया

मंडी, राजन पुंछी 

नगर निगम मंडी में पागल कुत्तों ने आतंक मचा रखा है। इन कुत्तों से बच्चे तो बच्चे बड़े बूढ़े भी खासा परेशान है। लेकिन आज तक नगर निगम कुत्तों के आतंक से मंडी वासियों को निजात नही दिला पाया है। नगर निगम मंडी के वार्ड चार नेला में पागल कुत्तों के आतंक से लोग खौफजदा हैं । पिछले कुछ दिनों में यह पागल कुत्ते दर्जन भर लोगों को काट चुके हैं जबकि कई इनसे बाल बाल बचे हैं। आतंक का आलम यह है कि नेला वार्ड के पार्षद राजेंद्र मोहन पर भी ये कुत्ते हमला कर चुके हैं जिससे उन्होंने भाग कर जान बचाई है। ये कुत्ते 10-15 के झुंड में घूम रहे हैं, लोगों व वाहनों के पीछे दौड़ते हैं, गांव शिल्हाकीपड़ के करण पटयाल पुत्र पवन पटयाल को इन्होंने बुरी तरह से काट खाया है, लोग अपने बच्चों को अकेले स्कूल या दूसरे काम से भेजने से डर रहे हैं, मगर नगर निगम की कान पर जूं नहीं रेंग रही जबकि यह लोगों को कुत्तों के आतंक से छुटकारा दिलाने का काम नगर निगम का है। इस बारे में जब नगर निगम के नेला वार्ड सदस्य राजेंद्र मोहन से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि उन्होंने 6 महीने पहले डॉग हट बनाने का मामला निगम की बैठक में उठाया था मगर आज दिन तक इसके लिए जमीन उपलब्ध करवाने को लेकर प्रशासन को पत्र तक नहीं लिखा गया। कुत्तों के आतंक की जहां तक बात है यह मामला नगर निगम की महापौर दीपाली जसवाल, आयुक्त एचएस राणा व उपमहापौर वीरेंद्र भट्ट के ध्यान में लाया जा चुका है। उन्होंने बताया कि लोग उनसे पूछ रहे हैं कि कुत्ते के काटने पर क्या निगम में किसी तरह के मुआवजे का प्रावधान है कि नहीं क्योंकि यह केवल निगम की लापरवाही है।