आ गई New Govt Job: सेना में अब 'अग्निवीरों' का दिखेगा जज्बा और जलवा, केंद्र सरकार ने 'अग्निपथ योजना' की लॉन्च, कुछ ऐसी रहेगी भर्ती प्रक्रिया
Recruitments from Agnipath Scheme

Recruitments from Agnipath Scheme

आ गई New Govt Job: सेना में अब 'अग्निवीरों' का दिखेगा जज्बा और जलवा, केंद्र सरकार ने 'अग्निपथ योजना' की लॉन्च, कुछ ऐसी रहेगी भर्ती प्रक्रिया

Recruitments from Agnipath Scheme : देश में मंगलवार को एक ऐतिहासिक योजना लांच की गई| जिसका नाम है 'अग्निपथ योजना'| बतादें कि, इस 'अग्निपथ योजना' के माध्यम से भारत की तीन पराक्रमी सेनाओं(थल सेना, वायुसेना और नौसेना) में अब नए तरीके से युवाओं की भर्ती की जाएगी| 'अग्निपथ योजना' के तहत जो भी युवा थल सेना, वायुसेना और नौसेना में जायेंगे| उन्हें 'अग्निवीर' के नाम से जाना जाएगा|

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा कि देश के लिए वाकई यह ऐतिहासिक निर्णय है| अग्निपथ योजना का लक्ष्य सैन्य सेवा को यूथफुल बनाना है| अग्निपथ योजना से भारतीय सेनाएं विश्व में बेहतर होंगी| राजनाथ सिंह ने कहा कि सैन्य सेवा में यूथफुल प्रोफाइल से यह फायदा भी होगा कि नई-नई टेक्नोलॉजीज के लिए आसानी से ट्रेंड किया जा सकेगा| सैन्य सेवा में यूथफुल प्रोफाइल होगी तो फिटनेस का लेवल भी बेहतर होगा| आगे देखने में आएगा कि अग्निपथ योजना सैन्य सेवा में बड़ा बदलाव लाएगी|

रोजगार के अवसर बढ़ जायेंगे....

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि 'अग्निपथ योजना' से जहां सैन्य सेवा को और मजबूती मिलेगी तो वहीं इस योजना के चलते देश की अर्थ व्यवस्था में भी सुधार आएगा| रक्षा मंत्री ने कहा कि जब अग्निपथ योजना में अपनी सर्विस पूरी करने के बाद 'अग्निवीर' यहां से निकलेंगे तो उनका कद पूरे देश में अलग ही होगा| वे अलग ही पहचाने जायेंगे| वह बेहद हायर स्किल्ड वर्कफोर्स की उपलब्धता वाले होंगे| इसलिए वह अपने कौशल के साथ विभिन्न क्षेत्रों में रोजगार के अवसर ले पाएंगे| बतादें कि,  'अग्निपथ योजना' की लॉन्चिग पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के साथ भारत की तीनों सेनाओं(थल सेना, वायुसेना और नौसेना) के चीफ भी मौजूद रहे| जिन्होंने इस योजना को लेकर अपने-अपने विचार रखे| फिलहाल, आइये जानते हैं कि, 'अग्निपथ योजना' के तहत सेना में भर्ती का बदला हुआ प्रारूप कैसा रहेगा?

कुछ ऐसी रहेगी भर्ती प्रक्रिया .....

  1. 17.5 से लेकर 21 साल तक के 10वीं और 12वीं पास युवा 'अग्निपथ योजना' के तहत सेना में भर्ती के लिए अप्लाई कर पाएंगे. सेना में भर्ती के पैमानों से कोई समझौत नहीं होगा. जैसे सेना में भर्ती होती है. वैसी ही होगी. फिजिकल, मेडिकल टेस्ट सबकुछ होगा. इसमें आपको खरा उतरना होगा. तभी आप अग्निवीर बन सकते हैं.
  2. 'अग्निपथ योजना' के तहत सेना में भर्ती होने वाले युवाओं की नौकरी ट्रेनिंग पीरियड (अधिकतम 6 महीने तक ट्रेनिंग) के साथ 4 साल की ही होगी. हालांकि, बाद में किसी भी सेना में जरुरत के आधार पर 25% अग्निवीरों को उनकी मेरिट के आधार पर परमानेंट सर्विस दी जा सकती है.
  3. 'अग्निपथ योजना' के तहत सेना में भर्ती होने वाले युवाओं के पहले साल का सालाना सैलरी पैकेज 4.76 लाख रुपये होगा लेकिन चार साल में यह बढ़कर 6.92 लाख रुपये हो जाएगा.
  4. पेंशन नहीं मिलेगी. मगर 'सेवा निधि' का फायदा जरूर मिलेगा. यानि फंड का.अग्निवीरों की मासिक सैलरी का 30% काटा जाएगा. यह 30% रकम सरकार जमा करेगी. चार साल की सर्विस के बाद 'सेवा निधि' में जमा यह रकम ब्‍याज सहित दे दी जाएगी. मतलब, 4 साल की सेवा पूरी करने के बाद करीब 11.7 लाख रुपये एकमुश्त ब्याज समेत आपको दिया जाएगा. ये पैसा इनकम टैक्स के दायरे से मुक्त होगा.
  5. सभी अग्निवीरों का 48 लाख रुपये का नॉन-प्रीमियम इंश्‍योरेंस कवर होगा. ड्यूटी के दौरान मृत्‍यु होने पर 44 लाख रुपये की अतिरिक्‍त अनुग्रह राशि मिलेगी. इसके अलावा, परिवार को सेवा निधि सहित चार सालों तक सेवा न किए गए हिस्‍से का भी भुगतान किया जाएगा. मतलब शहीद की बची हुई सेवाकाल की पूरी सैलरी परिवार को मिलेगी.
  6. सेवा के दौरान अगर अग्निवीर दिव्यांग हो जाते हैं तो दिव्यांगता के प्रतिशत के आधार पर उन्हें मुआवजा दिया जाएगा.इसके अलावा सेवा निधि के अलावा बची हुई सेवाकाल की पूरी सैलरी दी जाएगी.