Breaking News
Home » हरियाणा » आईटीआई के प्रदेश भर के प्राचार्य लामबंद

आईटीआई के प्रदेश भर के प्राचार्य लामबंद

करनाल। शुक्रवार को पुलिस द्वारा आईटी आई के छात्रों और शिक्षकों पर लाठी चार्ज को लेकर करनाल में प्रदेश भर के आईटीआई के प्राचार्यों की बैठक आयोजित की गई। जिसमें सभीने शिचकों पर लाठीचार्ज की निंदा की गई। पुलिस ने अध्यापकों और प्रिसिपल को भी नहीं छोड़ा। इस अवसर पर उन्होंने निंदा की गई। इस अवसर पर प्राचार्य ने कहा कि पुलिस ने पहली बार शिक्षा संस्थान की मर्यादा को तार तार कर दिया। उन्होंने कहा कि प्राचार्य तथा शिक्षकों को भी नहीं छोड़ा। इस अवसर पर प्रस्ताव पारित कर सरकार से लाठी चार्ज करने का आदेश देने वाले अफसर के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की। उन्होंने कहा कि जिलन पुलिस कर्मचारियों न लाटी चार्ज किया है उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए। उन्होंने कहा कि पुलिस ने बर्बरता पूर्ण व्यवहार किया है। इसके लिए उ”ा स्तरीय जांच होना चाहिए। बाबू मूलचंद जैन औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आई.टी.आई.) करनाल के प्रधानाचार्य बलदेव सिंह ने एक समाचार पत्र में छपी खबर के शीर्षक, जो एस.डी.एम. घटना के समय मौजूद थे, उन्हे जांच क्यों प्रिंसीपल, का खंडन करते हुए कहा कि एसडीएम करनाल को जांच अधिकारी लगाए जाने पर मुझे कोई एतराज नही है। जांच के दौरान आई.टी.आई. स्टाफ द्वारा उन्हे पूरा सहयोग दिया जाएगा।

बता दें कि उपायुक्त विनय प्रताप सिंह ने बाबू मूलचंद जैन राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान करनाल के विद्यार्थियों व स्टाफ पर हुए लाठीचार्ज की घटना को लेकर एस.डी.एम. करनाल नरेन्द्र पाल मलिक की अध्यक्षता में मजिस्ट्रयल इंक्वायरी के लिए एक कमेटी का “ठन किया है, जिसमें स्किल डव्लपमेंट एंड इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग डिपार्टमेंट हरियाणा के अतिरिक्त निदेशक आर.पी. श्योकंद तथा आई.टी.आई. करनाल से जसबीर संधू को शामिल किया गया है। कमेटी ने अपनी जांच शुरू कर दी है और एक सप्ताह के अंदर अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी। इतना ही नही ए.एस.पी. करनाल द्वारा भी इस मामले की अलग से पुलिस जांच की जा रही है तथा पुलिस अधीक्षक एस.एस. भौरिया द्वारा “त दिवस इस प्रकरण से जुड़े तीन पुलिस कर्मियो जिनमें पुलिस चौकी सैक्टर-4 के हवलदार राजेश कुमार, सी.आई.ए.-1 के हवलदार सतीश कुमार तथा पुलिस चौकी मॉडल टाऊन करनाल के हवलदार सुखदेव सिंह को लाईन हाजिर किया जा चुका है। 15 व 16 अप्रैल को आई.टी. आई. करनाल में रहेगा अवकाश-प्रधानाचार्य बाबू मूलचंद जैन औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान करनाल के प्रधानाचार्य बलदेव सिंह ने बताया कि 15 व 16 अप्रैल 2019 को आई.टी.आई. में अवकाश रहेगा, ताकि शांति का माहौल कायम किया जा सके। उन्होने विद्यार्थियों से अपील की कि वह अवकाश के दिनो में अपने-अपने घरो में रहें।

नैशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी ने बताया अमानवीय

आई.टी.आई परिसर में घुसकर छात्रों-छात्राओं व शिक्षकों पर लाठीचार्ज करना दुर्भाग्यपूर्ण, दुखद और अमानवीय है और किसी भी दृष्टि से उचित नही है यह विचार नैशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी के प्रदेश महासचिव व मिडिया प्रभारी चौधरी विजय पाल एडवोकेट ने लाठीचार्ज व फायरिंग की निन्दा करते हुए कहे। उन्होंने कहा कि शिक्षा के तकनीकी संस्थान में प्रिंसिपल सहित कक्षा में बैठे हुए छात्रों पर लाठीचार्ज व बर्बरतापूर्ण बल प्रयोग करना कानूनी, नैतिक, लोकतात्रिंक व मानवीय किसी भी आधार पर सही नहीं है और इससे प्रदेश के युवा वर्ग, शिक्षक वर्ग व बुद्धिजीवी वर्ग के बीच भय, असुरक्षा व भविष्य को लेकर गलत संदेश जाता है।

सीटू ने भी की आलोचना

सीटू जिला कमेटी की मीटिंग अखिल भारतीय खेत मजदूर यूनियन की ज्वाइंट मीटिंग सीटू कार्यालय करनाल नजदीक रघुनाथ मंदिर में हुई, जिसमें करनाल आईटीआई कें छात्रों पर हुए लाठीचार्ज की कड़ी शब्दों में निंदा की गई। अखिल भारतीय खेत मजदूरों ने यूनियन हरियाणा राज्य प्रधान जगमाल सिंह व सीटू जिला सचिव ज”पाल राणा ने बताया कि बस के नीचे आने से एक बच्चे की मृत्यु हो गई थी जिस कारण छात्रों में रोष था किंतु पुलिस ने छात्रों को दौड़ा-दौड़ा कर लाठियां भांजी। यहां तक कि वर्कशॉप के अंदर स्टाफ रूम प्रिंसिपल रूम में भी जाकर पुलिस ने निर्दोष छात्रों और टीचरों को पीटा। यही नहीं प्रिंसिपल के साथ भी पिटाई की। जिसे देख कर लगता है कि भाजपा सरकार व उसकी निरंकुश पुलिस तानाशाही पर उतर आई है।

इनसो प्रदेश भर में करेगी आंदोलन

प्रदीप देसवाल शनिवार को कल्पना चावला मेडिकल कालेज में लाठीचार्ज में घायल हुए छात्रों का हालचाल जानने पहुंचे थे। उन्होंने पीडि़त छात्रों के परिवार के लोगों से बातचीत की और हर सं ाव मदद का आश्वासन दिया। इनसो प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि सरकार का कोई नुमांइदा छात्रों से बातचीत करने तक नहीं पहुंचा। यह शर्म की बात है। प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप देसवाल ने ऐलान किया कि आईटीआई छात्रों को न्याय दिलाने के लिए इनसो 15 अप्रैल को पूरे प्रदेश में प्रदर्शन करेगी। जिला स्तर पर यह प्रदर्शन किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि इनसो मांग करती है कि कानून की धज्जिायां उड़ाकर लाठीचार्ज करने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ मामले दर्ज किए जाएं।

कांग्रेस ने बताया दुर्भाग्यपूर्ण

प्रदेश कांग्रेस के सचिव पंकज पूनिया ने शुक्रवार को आई.टी.आई. के छात्र-छात्राओं पर पुलिस द्वारा की गई हवाई फायरिंग और लाठीचार्ज को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा कि इस मामले की न्यायिक जांच होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि पहले ही किसान और आम लोग अपनी आवाज सरकार तक पहुंचाने के लिए जीटी रोड पर जाम लगाते रहे हैं लेकिन उन पर कभी लाठियां नहीं बरसाई गई लेकिन कल सरकार द्वारा की गई कार्यवाही से साफ जाहिर है कि सरकार को देश के बच्चों के भविष्य की कोई ङ्क्षचता नहीं है। यह सरकार लोकतंत्र नहीं बल्कि लठतंत्र को जानती है। किसी की भी आवाज को दबाने के लिए भाजपा सरकार बल प्रयो” करने से नहीं चूकती। उन्होंने आरोप ल”ाया कि जब से प्रदेश में भाजपा सत्ता पर आसीन हुई है तब से आम लो”ों की आवाज को ल_ तंत्र से दबाने की कोशिश की जा रही है। इस सरकार ने दिखा दिया है कि उसका लोकतंत्र में कोई विश्वास नहीं है।

Check Also

मैं 50 साल सोनीपत की सेवा करने आया हूं : दिग्विजय चौटाला

कहा, हुड्डा सोनीपत के लिए नहीं, राहुल गांधी को खुश करने के लिए लड़ रहे …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Share
See our YouTube Channel