उत्‍तर रेलवे ने 48.90% वृद्धि के साथ वर्तमान वित्तिय वर्ष में 8.77 एम.टी. लदान किया
उत्‍तर रेलवे ने 48.90% वृद्धि के साथ वर्तमान वित्तिय वर्ष में 8.77 एम.टी. लदान किया

उत्‍तर रेलवे ने 48.90% वृद्धि के साथ वर्तमान वित्तिय वर्ष में 8.77 एम.टी. लदान किया

उत्‍तर रेलवे ने 48.90% वृद्धि के साथ वर्तमान वित्तिय वर्ष में 8.77 एम.टी. लदान किया

1177.80 करोड रुपये के साथ मूल मालभाड़ा आय में भी 46.94% की वृद्धि दर्ज की 

    भारतीय रेल का सबसे बड़ा जोन, उत्‍तर रेलवे राष्‍ट्र की सेवा में सदैव अग्रणी रहा है । समेकित प्रयासों के चलते उत्‍तर रेलवे द्वारा वर्तमान (चालू) वित्‍तीय वर्ष 2022-23 में 15 मई-2022 तक कई उपलब्धियॉं हासिल की गई हैं जिसमें लदान, खाद्यान लदान, ई.सी.आर. इंटरचेंज तथा मूल मालभाड़ा आय के क्षेत्र में उल्‍लेखनीय वृद्धि दर्ज की गई है ।

वर्तमान वित्‍तीय वर्ष में 15 मई 2022 तक उत्‍तर रेलवे ने 8.77 एम.टी. लदान किया जोकि गत वर्ष की समान अवधि में किए गए 5.89 एम.टी. लदान की तुलना में 48.90 % अधिक है । खाद्यान लदान के क्षेत्र में 4.68 एम.टी. लदान कर उत्‍तर रेलवे ने गत वर्ष की समान अवधि में किए गए 2.35 एम.टी. खाद्यान लदान की तुलना में 99.15% की भी वृद्धि दर्ज की है । 

ई.सी.आर. इंटरचेंज में उत्‍तर रेलवे ने गत वर्ष रिसीट की गई 27.5 ट्रेन प्रतिदिन की तुलना में वर्तमान वित्‍तीय वर्ष में 33.4 ट्रेन प्रतिदिन रिसीट की जो 21.45% अधिक है । गत वर्ष 33.4 ट्रेन प्रतिदिन संयोजन की तुलना में वर्तमान वित्‍तीय वर्ष में प्रतिदिन 39.5 रेलगाडियों का संयोजन किया जो कि गत वर्ष की समान अवधि की तुलना में 18.26% अधिक है ।
 
वर्तमान वित्‍तीय वर्ष में 15 मई-2022 तक मूल मालभाडा आय रुपये 1177.8 करोड रुपये रही । गत वर्ष की समान अवधि में अर्जित 801.57 करोड रुपये मूल मालभाडा की तुलना में 46.94% की उल्‍लेखनीय वृद्धि दर्ज की गई है ।