नशा-तस्करों और गैंगस्टरों पर मान सरकार का वार; एक महीने में 90 से अधिक गैंगस्टरों को किया काबू: कैबिनेट मंत्री अमन अरोड़ा
नशा-तस्करों और गैंगस्टरों पर मान सरकार का वार; एक महीने में 90 से अधिक गैंगस्टरों को किया काबू: कैबिनेट मंत्री अमन अरोड़ा

नशा-तस्करों और गैंगस्टरों पर मान सरकार का वार; एक महीने में 90 से अधिक गैंगस्टरों को किया काबू: कैबि

नशा-तस्करों और गैंगस्टरों पर मान सरकार का वार; एक महीने में 90 से अधिक गैंगस्टरों को किया काबू: कैबिनेट मंत्री अमन अरोड़ा

...सिद्धू मूसेवाला के परिवार और प्रशंसकों को इंसाफ़ देने के लिए भगवंत मान के नेतृत्व वाली मान सरकार ने उसके दो कातिलों को पुलिस कार्यवाही में किया ढेर: कैबिनेट मंत्री


....अमन अरोड़ा ने गैंगस्टरों, अपराधियों को अपराध का रास्ता छोडऩे की दी चेतावनी


...कहा, यदि गैंगस्टर आत्मसमर्पण करके घर लौटने के लिए तैयार हों तो ‘आप’ सरकार द्वारा अपनाया जाएगा नरम रवैया

चंडीगढ़, 24 जुलाई:
पंजाब के कैबिनेट मंत्री अमन अरोड़ा ने रविवार को कहा कि मुख्यमंत्री भगवंत मान की निर्णायक और दूरदर्शी नेतृत्व में राज्य से अपराध को खत्म करने के लिए हाल ही में बनाई पंजाब पुलिस की एंटी टास्क फोर्स द्वारा पिछले एक महीने के दौरान 90 से अधिक गैंगस्टरों को काबू या ख़त्म किया जा चुका है।  
पिछली सरकारों पर गैंगस्टरों और ड्रग्ज़ माफिया के संरक्षण का आरोप लगाते हुए आम आदमी पार्टी (आप) के मंत्री ने गैंगस्टरों और अपराधियों को चेतावनी देते हुए कहा कि वह जल्द से जल्द अपराध का रास्ता छोड़ दें, नहीं तो सरकार द्वारा उनके विरुद्ध सख़्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने गैंगस्टरों को अच्छे मनुष्य बनकर समाज की मुख्य धारा में लौटने की अपील भी की।  
यहाँ पंजाब भवन में प्रैस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए सूचना एवं लोक संपर्क, नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा स्रोत,आवास निर्माण एवं शहरी विकास मंत्री अमन अरोड़ा ने कहा कि पिछली सरकारों के कार्यकाल के दौरान खूँखार गैंगस्टर और ड्रग माफिया धड़ल्ले से फले-फूले और उन्होंने अपने निजी स्वार्थों के लिए ख़तरनाक अपराधियों को संरक्षण दिया।

 उन्होंने कहा कि ‘आप’ सरकार ने पंजाब को गैंगस्टर मुक्त बनाने का प्रण लिया है और राज्य की शान्ति को चोट पहुँचाने वाले समाज विरोधी तत्वों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा।  
विरोधी पार्टियों को आड़े हाथों लेते हुए मंत्री ने कहा कि पंजाब में गैंगस्टर कल्चर और ड्रग माफिया कभी सिर ना उठाता, यदि उनको पिछली सरकारों ने पनाह ना दी होती। इसी कारण 2 महीने पहले मोहाली स्थित पंजाब पुलिस के इंटेलिजेंस हैडक्वाटर पर हमला करने के लिए रॉकेट-प्रोपैल्ड ग्रेनेड (आर.पी.जी.) का प्रयोग किया गया था, जोकि बहुत हैरान कर देने वाली बात है क्योंकि ऐसे आधुनिक हथियारों का प्रयोग तब भी नहीं किया गया था जब पंजाब बहुत बुरे दौर से गुजऱ रहा था।  

अरोड़ा ने स्पष्ट किया कि पंजाब में अपराधियों के विरुद्ध ज़ीरो टॉलरैंस की नीति अपनाई गई है और यह हिस्ट्रीशीटर अपराध का रास्ता छोड़ दें नहीं तो सख्त कार्यवाही का सामना करने के लिए तैयार रहें। 
उन्होंने कहा कि ‘आप’ सरकार में अपराधियों को पनाह देने वाला कोई नहीं है, जैसे कि पिछली सरकार के दौरान होता था। उन्होंने अपराधियों को तुरंत आत्मसमर्पण करने और समाज की मुख्य धारा में वापस आने के लिए कहा।  
अरोड़ा ने कहा कि यदि गैंगस्टर आत्मसमर्पण करने और समाज की मुख्य धारा में वापस आने के लिए तैयार होते हैं तो पंजाब सरकार यकीनी रूप से उनके खि़लाफ़ नरम रूख इख्तियार करेगी।  

उन्होंने कहा कि मान सरकार ने नशों के विरुद्ध जंग छेड़ी हुई है और नशों के ख़ात्मे के लिए व्यापक नशा विरोधी मुहिमें चलाई जा रही हैं। अरोड़ा ने पंजाब पुलिस की कार्यप्रणाली की सराहना करते हुए कहा कि पुलिस टीमों ने 7 लाख से अधिक नशीली गोलियाँ बरामद की हैं, जोकि एक दिन में होने वाली सबसे बड़ी रिकवरी है। यह नशा तस्करों द्वारा उत्तर प्रदेश से लाई गई थीं। इसी तरह पंजाब पुलिस ने अन्य राज्यों के साथ मिलकर अंतरराष्ट्रीय नशा तस्करों द्वारा लाई जा रही बड़ी मात्रा में हेरोइन भी बरामद की है।