Illegal encroachment not tolerated

Punjab CM

सलाहकार ने वार्ड 28-35 के पार्षदों की समस्याएं सुनी, दी चेतावनी, अवैध अतिक्रमण किसी सूरत में बर्दाश्त नहीं

Advisor-Meeting

Illegal encroachment not tolerated

अर्थ प्रकाश/साजन शर्मा

Illegal encroachment not tolerated : चंडीगढ़। प्रशासक के सलाहकार धर्मपाल (Dharampal, Advisor to the Administrator) ने वीरवार को नगर निगम (Municipal Corporation) के वार्ड 28 से 35 के पार्षदों के साथ बैठक कर उनके इलाके की समस्याओं का समाधान (Solve Problems) किया। पार्षदों ने फोरम में जन शिकायतों पर प्रकाश डाला और अपनी चिंताओं के निवारण में प्रशासन के हस्तक्षेप की मांग की। बैठक में शहर के विभिन्न क्षेत्रों में अवैध अतिक्रमण (illegal encroachment) के मसले पर विस्तार से चर्चा की गई। सलाहकार ने कहा कि प्रशासन भूमि के किसी भी अवैध अधिग्रहण को बर्दाश्त नहीं करेगा और ऐसे सभी उल्लंघनों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। बैठक में सामुदायिक केन्द्रों के अपग्रेडेशन (Upgradation of Community Centers) , राजकीय विद्यालयों, डिस्पेंसरियों, स्पोट्र्स कांप्लेक्सों, आंगनबाडी केन्द्रों की समस्याएं रखी। सलाहकार ने विभिन्न स्तरों पर अधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी और इन कार्यों को निर्धारित समय सीमा में पूरा करने को कहा।  सलाहकार धर्मपाल ने अधिकारियों को सभी सरकारी भूमि का सीमांकन करने और क्षेत्रों में बाड़ लगाने के लिए भी कहा, ताकि आगे अतिक्रमण से बचा जा सके। उन्होंने वन भूमि की बाड़ लगाने पर भी जोर दिया और वन अधिकारियों को क्षेत्र की जांच करने और हरित क्षेत्र को संरक्षित करने का निर्देश (Instructions to preserve the green area) दिया। 

ये रहे मौके पर मौजूद / Here on the spot

बैठक में मेयर श्रीमती सरबजीत कौर (Mayor Mrs. Sarabjit Kaur) , गृह सचिव नितिन यादव (Home Secretary Nitin Yadav), डीसी विनय प्रताप सिंह (DC Vinay Pratap Singh), नगर निगम कमिशनर श्रीमती अनिंदिता मित्रा (Municipal Commissioner Mrs. Anindita Mitra), स्वास्थ्य सचिव यशपाल गर्ग (Health secretary yashpal garg), एसएसपी कुलदीप सिंह चहल (SSP Kuldeep Singh Chahal) व प्रशासन के अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

 

वार्डों में पार्किंग की समस्या भी बताई / The problem of parking in the wards was also told

कई वार्डों में पार्किंग की समस्या (Parking Problem in Wards) भी सामने आई। यह बताया गया कि आवासीय क्षेत्रों में एक गंभीर समस्या है, और वाहनों को सडक़ पर पार्क किया जाता है जिससे यातायात जाम हो जाता है। इस पर नगर निगम आयुक्त (Municipal Commissioner) ने साझा किया कि चंडीगढ़ ट्राई-सिटी कांप्लेक्स (Chandigarh Tri-City Complex) के लिए पायलट प्रोजेक्ट कांप्रीहेंसिव मोबिलिटी प्लान सेक्टर-35 से लॉन्च किया जाएगा। यूटी प्रशासन ने शहर में पार्किंग की समस्या को हल करने के लिए स्कूलों व पर्यटक बसों की पार्किंग के लिए 18 स्थलों को चिन्हित किया है।

नशा बेचने वालों पर नजर रखने का निर्देश / Instructions to keep an eye on drug peddlers

पार्षदों के इनपुट पर सलाहकार धर्मपाल ने पुलिस अधिकारियों को शहर में नशों की किसी भी गतिविधि पर कड़ी नजर (Close watch on any drug activity in the city) रखने और नशा माफिया को कुचलने के लिए सख्त कदम उठाने का भी निर्देश दिया। इस दौरान लावारिस वाहनों का मुद्दा (Issue of abandoned vehicles) भी उठा और अधिकारियों का ध्यान आकर्षित किया गया। ऐसे सभी वाहनों को ट्रैक करने और आगे की प्रक्रिया शुरू करने के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया गया। सलाहकार ने अधिकारियों को बाजारों में खड़े वाहनों में शराब पीने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के लिए भी कहा। वार्ड 28-35 के पार्षदों ने मुख्य सार्वजनिक मुद्दों को संबोधित करने के लिए सलाहकार को धन्यवाद दिया (Thanked the Advisor) जो सीधे शहर के विकास को प्रभावित करते हैं। उन्होंने इन नागरिक मामलों पर चर्चा करने और हल करने के लिए इन बैठकों को जारी रखने का अनुरोध किया।

ये भी  पढ़ें ......

ये भी  पढ़ें .....

ये भी  पढ़ें .....