हरियाणा में पात्रों तक सरकारी योजनाओं का लाभ पहुंचाना लक्ष्य: कौशल

हरियाणा में पात्रों तक सरकारी योजनाओं का लाभ पहुंचाना लक्ष्य: कौशल

हरियाणा में पात्रों तक सरकारी योजनाओं का लाभ पहुंचाना लक्ष्य: कौशल

चंडीगढ़। प्रदेश सरकार की योजनाओं को वास्तविक पात्र लोगों तक पहुंचाना तथा आमजन की समस्याओं का त्वरित निपटान करना उनकी प्राथमिकता में शुमार होगा। यह बात बुधवार को 35वें मुख्य सचिव के रूप जिम्मेदारी संभालने वाले हरियाणा के वरिष्ठ आईएएस संजीव कौशल ने कार्यभार संभालने के उपरांत कही।
कौशल ने जिला उपायुक्त से लेकर मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव व वित्तायुक्त जैसे महत्वपूर्ण पदों पर रहते हुए अपनी कार्यशैली की छाप छोड़ी है। मृदुभाषी अधिकारी कौशल की अपने कनिष्ठ व वरिष्ठ अधिकारियों के साथ एक टीम के रूप में काम करने की पहचान है। कौशल वर्ष 1999 से 2001 तक प्रदेश के तत्कालीन मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला के अतिरिक्त प्रधान सचिव और सूचना, जनसंपर्क एवं सांस्कृतिक मामले विभाग के निदेशक भी रहे हैं।
वर्ष 2003-4 के दौरान केंद्र सरकार में तत्कालीन केंद्रीय विद्युत राज्य मंत्री के निजी सचिव रहे। कौशल वर्ष 2004-7 तक भारत सरकार के लघु उद्योग विभाग में संयुक्त विकास आयुक्त एवं वर्ष 2007-8 में सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय में अतिरिक्त विकास आयुक्त व संयुक्त विकास आयुक्त के तौर पर कार्यरत रहे हैं। 30 अक्टूबर 2014 को हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल के प्रधान सचिव की जिम्मेवारी उन्हें सौंपी गई।


Comment As:

Comment (0)


shellindir ucuz fiyatlara garantili takipçiler Tiny php instagram followers antalya haberleri online beğeni al

>