ब्रेकिंग न्यूज़
Home » Haryana » गणतंत्र दिवस समारोह के प्रबंधों को लेकर बैठक आयोजित-

गणतंत्र दिवस समारोह के प्रबंधों को लेकर बैठक आयोजित-

 

पानीपत। हरियाणा के स्वास्थ्य, खेल एवं युवा कल्याण मंत्री अनिल विज की अध्यक्षता में सोमवार को लघु सचिवालय के द्वितीय तल सभागार में जिला कष्ट निवारण समिति की मासिक बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में विधायक महीपाल ढांडा, रोहिता रेवड़ी, भाजपा के जिला प्रधान प्रमोद विज, पूर्व प्रधान गजेन्द्र सलूजा, एसपी राहुल शर्मा, अतिरिक्त उपायुक्त राजीव मेहता, निगमायुक्त शिव प्रसाद शर्मा, एसडीएम विवेक चौधरी, सीटीएम संदीप अग्रवाल, एमडी शुगर मिल बीरसिंह, जिला परिषद के सीईओ संजय कुमार और संयुक्त आयुक्त सुमन भाखड़ मौजूद रहे। बैठक में कुल 15 शिकायतें पटल पर रखी गई, जिनमें से 11 शिकायतों का मौके पर ही समाधान कर दिया गया और 4 शिकायतों को अगली बैठक के लिए लम्बित रखा गया।
बैठक को सम्बोधित करते हुए हरियाणा के स्वास्थ्य, खेल एवं युवा कल्याण मंत्री अनिल विज ने कहा कि हरियाणा के स्वास्थ्य, खेल एवं युवा कल्याण मंत्री अनिल विज ने कहा कि जिला कष्ट निवारण समिति जिले की सबसे सम्मानित समिति होती है।
समिति के पटल पर जितनी भी शिकायतें रखी जाती हैं उन सभी शिकायतों का हल निकालने का भरसक प्रयास किया जाता है। इसलिए इस बैठक के पटल पर केवल उन्हीं शिकायतों को रखा जाए जो गम्भीर किस्म की शिकायतें हों। ऐसी शिकायतें जिनके मुकदमें अदालतों में विचाराधीन हों अथवा सम्बंधित शिकायत का हल विभाग के वरिष्ठ अधिकारी अपने कार्यालयों में ही निकाल सकते हों उन्हें भी इस बैठक के पटल पर न रखा जाए। इसलिए सभी अधिकारी प्रतिदिन अपने कार्यालयों में खुले दरबार लगाकर लोगों की शिकायतों का समाधान करें यदि उनके समक्ष शिकायतों का समाधान करने में कोई खास समस्या आ रही है तो उन्हीं शिकायतों को जिला कष्ट निवारण समिति की बैठक में रखा जाए।
कष्ट निवारण समिति की बैठक मनाना रोड़ समालखा वासी विधवा महिला शांति देवी की शिकायत लगी हुई थी जिस पर उसने बताया कि वह बहुत ही गरीब परिवार से सम्बंध रखती है उनके पति दुली चन्द की मृत्यु हो चुकी है, पहले उसे आधारकार्ड लिंक न होने के कारण राशन नही मिलता था अब मिलने लगा है। बैठक में जवाहर नगर तहसील कैम्प के गुरूबचन सिंह ने शिकायत की थी कि उसकी कॉलोनी के कुछ लोगों ने उसके साथ धोखेबाजी से जीवनभर की धनराशि ठगली है और मांगने पर भी पैसा वापिस नही किया है। पैसा लेने वाले दबंग व सातिर किसम के व्यक्ति है, इसलिए उनकी धनराशि वापिस दिलवाई जाए।
इस पर अध्यक्ष महोदय ने कहा कि यह मामला तो सिविल कोर्ट का बनता है। इसलिए प्रार्थी को सिविल कोर्ट में जाना चाहिए। अगली शिकायत इसराना खण्ड के नौल्था गांव के जितेन्द्र कुमार की थी। प्रार्थी ने आरोप लगाया था कि गांव नौल्था की पूर्व महिला सरपंच ने तीन लाख 67 हजार रूपये का गबन किया है। उसके विरूद्ध कड़ी कार्यवाही अमल में लाई जाए। इस पर अध्यक्ष ने मामला दर्ज करने के आदेश दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Share